• Hindi News
  • Women
  • Year Ender: Have Fun Lying Down After Rape, Don't Stay Alone In The House With Your Daughter.. Somebody Gave Advice To Women And Someone Threw It

2021 के बयानवीर:रेप के मजे, बेटी संग अकेले मत रहो, जींस वालियों के संस्कार.. इन नेताओं के बयानों पर हुआ हंगामा

नई दिल्ली6 महीने पहलेलेखक: दीप्ति मिश्रा
  • कॉपी लिंक

साल 2021 विदाई की दहलीज पर है और 2022 दस्तक दे रहा है। महिलाएं शासन चलाएं या आसमान छुएं, लेकिन कई माननीय उन पर विवादित बयान देते रहे। किसी के बयान पर देशभर में विरोध हुआ तो किसी ने बवाल के बाद माफी मांगकर मामला शांत करने की कोशिश की। भास्कर वुमन की रिपोर्ट में पढ़ें साल 2021 में महिलाओं को लेकर देश के अलग-अलग कोने से माननीयों ने क्या आपत्तिजनक और विवादित बातें कहीं, जिनका सोशल मीडिया समेत कई मंचों पर आम लोगों ने विरोध किया...

1- रात भर बीच पर क्यों थीं लड़कियां?
गोवा में जुलाई 2021 एक बीच पर दो नाबालिग लड़कियों के साथ कथित तौर पर गैंगरेप हुआ। इस पर गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने विधानसभा में कहा था कि लड़कियां पूरी रात बीच पर क्या कर रहीं थीं। उनके माता-पिता को इस पर आत्ममंथन करने की जरूरत है। सिर्फ इसलिए सरकार और पुलिस पर सारी जिम्मेदारी नहीं डाली जा सकती कि बच्चे सुनते नहीं हैं। मुख्यमंत्री सावंत की इस टिप्पणी का जमकर विरोध हुआ था।

2- रेप रोक न सको तो लेटकर मजे लो
दिसंबर 2021 में महिलाओं को लेकर कांग्रेस के विधायक और विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष रमेश कुमार ने एक बेहद शर्मनाक टिप्पणी की। कर्नाटक विधानसभा में चर्चा के दौरान उन्होंने अध्यक्ष की असमर्थता पर कहा कि जब रेप होना ही है तो लेट जाओ और इसके मजे लो। हैरानी की बात यह थी कि इस बयान का विरोध करने की बजाय विधानसभा अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी समेत दूसरे सदस्य भी हंस रहे थे।

3- फटी जींस वाली क्या संस्कार देंगी...
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने मार्च 2021 में महिलाओं के पहनावे को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा कि संस्कारों के अभाव में लड़कियां फटी जींस पहनकर घूमती हैं और वे इसे फैशन समझती हैं। उन्होंने कहा कि एक बार जब वह हवाई जहाज में बैठे तो उनके साथ एक महिला बैठी थी, जो गम बूट पहने हुई थी लेकिन महिला की जींस घुटनों पर फटी थी। हाथों में कई कड़े पहने थे और साथ में दो बच्चे थे। पूछने पर पता चला कि पति जेएनयू में प्रोफेसर हैं और वे खुद एक एनजीओ चलाती हैं, जो फटी जींस पहनकर बच्चों के साथ समाज में जाती हैं तो वे क्या ही संस्कार देंगी।

4- अकेली बेटी संग घर में मत रहो
महिलाओं पर आपत्तिजनक बयानों की कड़ी में समाजवादी पार्टी के विधायक अबू आसिम आजमी का भी नाम जुड़ गया। मुंबई के शिवाजी नगर से विधायक आजमी ने दिसंबर 2021 में कहा कि घर में मां, बेटी और बहन के साथ अकेले नहीं रहना चाहिए क्योंकि शैतान कभी भी सवार हो सकता है। उनके इस बयान की सोशल मीडिया पर खूब निंदा हुई।

5- लड़कियां ज्यादा आवारगी करेंगी
दिसंबर 2021 में लड़कियों की शादी की उम्र 18 साल से बढ़ाकर 21 साल किए जाने पर सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा कि लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने से वे और ज्यादा आवारगी करेंगी।

6- सवर्ण महिलाओं को घसीटकर काम पर लाओ...
मध्य प्रदेश के मंत्री बिसाहू लाल सिंह ने नवंबर 2021 में एक कार्यक्रम में कहा कि सवर्ण महिलाओं को घसीट कर लाओ तभी महिलाएं सशक्त बन सकेंगी। एक कार्यक्रम में महिलाओं को सम्मानित करते हुए मंत्री जी बोले, 'महिलाओं को सशक्त बनाने और पुरुषों के साथ समानता हासिल करने के लिए उच्च जाति की महिलाओं को भी घरों से खींचकर बाहर निकालो और उनसे काम कराओ।'

7- बच्चे पैदा करना नहीं चाहतीं महिलाएं
कर्नाटक के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री सुधाकर ने अक्टूबर 2021 में महिलाओं की आधुनिक सोच पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि आधुनिक भारतीय महिलाएं सिंगल रहना चाहती हैं। वे शादी के बाद बच्चे पैदा करना नहीं चाहतीं। वे सरोगेसी के जरिये बच्चे को अपनाना चाहती हैं। हालांकि, महिलाओं ने जब जोरदार विरोध किया तो सुधाकर को माफी मांगनी पड़ी।

8- शाम 5 बजे के बाद कभी थाने मत जाना
भाजपा की वरिष्ठ नेता बेबी रानी मौर्य ने अक्टूबर 2021 में महिलाओं की सुरक्षा पर बोलते हुए महिलाओं को नसीहत दी थी। बेबी रानी ने कहा, 'थाने में महिला अधिकारी और सब इंस्पेक्टर जरूर बैठती हैं, लेकिन फिर भी मैं एक बात जरूर कहूंगी कि शाम 5 बजे के बाद और अंधेरा होने के बाद थाने कभी मत जाता। अगले दिन सुबह जाना और अगर बहुत जरूरी हो तो अपने साथ पिता, पति और भाई को लेकर ही थाने जाना।'

9- जींस पहनने वाली लड़कियां..बाकी महिलाएं!
मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम और कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने दिसंबर 2021 में कहा कि जींस पहनने वाली और मोबाइल रखने वाली लड़कियां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पसंद नहीं करती हैं। जो 40 से ज्यादा की महिलाएं हैं, सिर्फ वे ही मोदी से प्रभावित हैं, जींस पहनने वाली नहीं। इसके बाद से दिग्विजय सिंह के इस बयान की जमकर आलोचना हुई। सोशल मीडिया पर लोगों का कहना है कि जींस पहनने वाली लड़कियां हैं और जो जींस नहीं पहनती हैं, वे महिलाएं?

10- स्मृति ईरानी को 'डोकरी' बताया
मध्य प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अरुण यादव ने अक्टूबर, 2021 में खंडवा लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव के दौरान एक कार्यकर्ता केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का जिक्र किया। इस पर अरुण यादव ने कहा, 'राजू भाई स्मृति ईरानी बहुत याद आ रहीं हैं तुमको, डोकरी (बुढ़िया) हुई गयो पर।' आगे कहा कि कांग्रेस के शासन में भाजपा वालों को महंगाई डायन नजर आती है। अब महंगाई बढ़ गई है तो हेमा मालिनी बन गई। अप्सरा नजर आती है।

खबरें और भी हैं...