• Hindi News
  • Women
  • Rishtey
  • What A Couple Needs To Know About First Night, Contraception, Pregnancy, Family Planning

विवाह से पहले गायनाकोलॉजिस्ट से मिलना क्यों जरूरी:कपल जानें फर्स्ट नाइट, प्रेग्नेंसी, कॉन्ट्रासेप्शन, फैमिली प्लानिंग के बारे में

3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कई लड़कियां शादी के तुरंत बाद प्रेग्नेंट हो जाती हैं, जिसके लिए वे मानसिक रूप से तैयार नहीं होतीं और कपल को क्वालिटी टाइम भी नहीं मिल पाता। शादी से पहले गायनेकोलॉजिस्ट से मिलकर कई समस्याओं से बचा जा सकता है। गायनेकोलॉजिस्ट डॉ. सरिता नाइक बता रही हैं शादी से पहले सेक्स लाइफ, कॉन्ट्रासेप्शन और फैमिली प्लानिंग से जुड़ी जरूरी बातें।

अनचाही प्रेग्नेंसी से बचें

डॉ. सरिता नाइक कहती हैं, “अनचाही प्रेग्नेंसी की तकलीफ से बचने के लिए शादी से पहले ही गायनाकोलॉजिस्ट से मिलना बहुत जरूरी है। इसके लिए कपल एक साथ आ सकते हैं या लड़की की मां उसे अपने साथ ला सकती है। कई लड़कियां शादी से पहले अकेले ही गायनेकोलॉजिस्ट से मिलकर, फोन पर या ऑनलाइन मन में उठने वाले सवाल पूछती हैं और गाइडेंस लेती हैं। ये जानकारी लडकों के लिए भी उतनी ही जरूरी है।”

शादी से पहले यदि कपल एक साथ गायनेकोलॉजिस्ट से मिलें, तो दोनों के सवालों के जवाब एक साथ मिल जाएंगे। इससे शादी के बाद कई समस्याओं से बचा जा सकता है।
शादी से पहले यदि कपल एक साथ गायनेकोलॉजिस्ट से मिलें, तो दोनों के सवालों के जवाब एक साथ मिल जाएंगे। इससे शादी के बाद कई समस्याओं से बचा जा सकता है।

मेडिकल जांच जरूरी है

शादी से पहले लड़का-लड़की की मेडिकल जांच हो जाने से बाद में कई अनजानी परेशानियों से बचा जा सकता है। इससे इस बात का पता चल जाता है कि किसी को ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, थायराइड, पीसीओएस, ओवेरियन सिस्ट, डिप्रेशन जैसी कोई तकलीफ है, तो इससे उनकी मैरिड लाइफ पर कोई असर तो नहीं पड़ेगा। थैलेसीमिया जैसी जेनेटिक बीमारी, ब्लड ग्रुप या सर्जरी के बारे में भी शादी से पहले डिस्कस करना जरूरी है। जनरल हेल्थ और एचआईवी टेस्ट के अलावा फैमिली हिस्ट्री के बारे में जानना भी जरूरी है।

कपल पूछें ये सवाल

शादी से पहले कपल के मन में कई सवाल होते हैं, जिनका सही जवाब न मिलने पर रिश्ते में तनाव बढ़ता है। कपल की उलझन यदि शादी से पहले सुलझ जाए, तो मैरिड लाइफ में आनेवाली कई परेशानियों से बचा जा सकता है। कपल को शादी से पहले सेक्स लाइफ, फर्स्ट नाइट, कॉन्ट्रासेप्शन, फर्टाइल पीरियड, ओव्यूलेशन, फैमिली प्लानिंग, प्रेग्नेंसी, प्राइवेट पार्ट के हाइजीन की जानकारी होना जरूरी है।

गर्भनिरोधक के गलत इस्तेमाल से बचें

कई महिलाएं सेफ सेक्स न होने पर इमरजेंसी पिल्स खा लेती हैं। उन्हें इस बात की जानकारी नहीं होती कि अनसेफ सेक्स के बाद बार बार इमरजेंसी पिल्स खाने से इसका असर उनके पीरियड्स पर भी पड़ता है। सेफ पीरियड की सही जानकारी न होने पर कई कपल उस दौरान गर्भनिरोधक का इस्तेमाल नहीं करते और अनचाही प्रेग्नेंसी हो जाती है। सेफ पीरियड कितना सेफ है, इसके बारे में भी गायनाकोलॉजिस्ट से जरूर पूछ लें। शादी से पहले गर्भनिरोधक के सही चुनाव की जानकारी और गाइडेंस मिल जाने पर कपल ऐसी गलती और अनचाही प्रेग्नेंसी से बच सकते हैं।