• Hindi News
  • Women
  • This is me
  • BC Aunty's Comedy Class – Shashi Tharoor, Karan Johar, Sonu Sood Are Also Associated With This Class

मजाक में छिपा है मैसेज:बीसी आंटी की कॉमेडी क्लास- शशि थरूर, करण जौहर, सोनू सूद भी जुड़े हैं इस क्लास से

8 महीने पहलेलेखक: कमला बडोनी

कॉमेडी तो कोई भी कर लेता है, लेकिन कॉमेडी में जब जबर्दस्त संदेश छुपा हो, तो वो सीधे दिल तक पहुंचता है। बीसी आंटी यानी ‘भेरी क्यूट आंटी’ की कॉमेडी भी लाखों दिलों को छू रही है। भास्कर वुमन ने जब बीसी आंटी से बात की और उनकी इस कॉमेडी के पीछे की असली वजह जानी, तो कई दिलचस्प बातें सामने आईं। बीसी आंटी ने कुछ इस तरह बयां की अपनी कॉमेडी की कहानी:

मेरी जिंदगी में ऐसे आई बीसी आंटी

मैं यानी स्नेहिल दीक्षित मेहरा, ने सोच-समझकर सोशल मीडिया पर अपने कॉमेडी वीडियो शेयर नहीं किए। इसके पीछे एक कहानी है। ‘अपहरण’ वेब सीरीज में मेरा 30 सेकंड का एक छोटा सा रोल था पंडित जी की पत्नी का। ये छोटी सी क्लिप सोशल मीडिया पर इतनी वायरल हो गई कि मैंने सोचा, मैं अब इंस्टाग्राम पर अपने वीडियोज अपलोड करना शुरू करूं। बहुत सोचने पर मैंने ये फैसला किया कि मैं ऐसे वीडियोज बनाऊं जहां एक देसी आंटी फिल्म, वेब सीरीज और टीवी शोज का सोशल मीडिया पर रिव्यू करती है। रिव्यू करने वाली आंटी का लुक मैंने ‘अपहरण’ वेब सीरीज में अपने किरदार की आंटी का ही रखा। लोगों को मेरा लुक और रिव्यू दोनों पसंद आने लगे। मैंने इस किरदार की पूरी दुनिया अपने मन में बना ली कि उसका पति पंडित है, घर में गाय-भैंस हैं, उसका एक बेटा है। मैं बहुत अच्छी और बहुत बुरी दोनों तरह की फिल्मों और वेब सीरीज का रिव्यू करने लगी।

स्नेहिल मेहरा बीसी आंटी के गेटअप में
स्नेहिल मेहरा बीसी आंटी के गेटअप में

मेरा वीडियो दिग्विजय सिंह, शशि थरूर, मनीष सिसोदिया, सोनू सूद तक ने शेयर किया

इस किरदार से मुझे सोशल मीडिया पर अच्छी-खासी पहचान मिलने लगी, लेकिन लॉकडाउन में मेरा ‘क्लास ऑफ 2025’ वाला वीडियो बहुत वायरल हुआ। मेरे पति ने मुझे ये आयडिया दिया कि तुम कोविड पर वीडियो बनाओ और बच्चों का नाम कोविड पर आधारित रखो। मैंने वो वीडियो बना तो लिया, लेकिन सोच रही थी कि लोगों को ये वीडियो पसंद आएगा या नहीं। फिर मैंने अपने फ्रेंड्स को बताया, तो उन्होंने कहा ये वायरल होने वाला वीडियो है, इसे जरूर अपलोड करो। वीडियो शेयर करने के डेढ़ घंटे बाद ही वो इतना वायरल हो गया कि मेरे यूके, यूएस के फ्रेंड्स फोन करने लगे। उसके बाद मुझे महसूस हुआ कि ये भी एक करियर ऑप्शन हो सकता है। मेरे ‘टीचर’ वाले वीडियो बच्चों को बहुत पसंद आए। मेरे बेटे के दोस्तों ने जब मेरे वीडियोज देखे, तो बेटे को लगा कि मां कुछ अच्छा कर रही है। अब बेटा भी मुझे आयडियाज देता है और मुझे इस बात की खुशी है कि उसका सेन्स ऑफ ह्यूमर भी अच्छा है। मेरे वीडियोज में बच्चों की आवाज मेरे बेटे की ही होती है।

स्नेहिल मेहरा अपने बेटे के साथ
स्नेहिल मेहरा अपने बेटे के साथ

मेरा ‘क्लास ऑफ 2025’ वाला वीडियो दिग्विजय सिंह, शशि थरूर, मनीष सिसोदिया, सोनू सूद तक ने शेयर किया, जो मेरे लिए बहुत खुशी की बात है। टीचर के किरदार ने मुझे बहुत नाम दिया, लेकिन मैं उस किरदार को अभी तक कोई नाम नहीं दे पाई हूं, वो बस ‘टीचर’ ही बनकर रह गई है। सोच रही हूं टीचर को क्या नाम दूं।

स्नेहिल मेहरा टीचर के गेटअप में
स्नेहिल मेहरा टीचर के गेटअप में

आजकल बिट्टू बुआ का किरदार पॉपुलर है

हर परिवार में एक बिट्टू बुआ होती है, जो सिर्फ अपनी तारीफ करती है। बिट्टू बुआ के रूप में मैंने एक ऐसा किरदार बनाया जो महिलाओं को बहुत पसंद आ रहा है। यूएस से आयी बुआ हर समय अपनी, अपने बेटे मोन्टू और यूएस की तारीफ करते नहीं थकती इसलिए लोगों को बिट्टू बुआ का किरदार पसंद आ रहा है।

हर बार कुछ नया करने की कोशिश करती हूं

नए किरदार गढ़ने के लिए मुझे हमेशा कुछ नया सोचना पड़ता है, नहीं तो लोग बोर हो जाएंगे। सिर्फ ‘रिव्यू वाली आंटी’ आउटडेटेड नहीं होती, क्योंकि वो हर बार एक नई फिल्म देखकर आती है, इसलिए उसके पास सब्जेक्ट्स की कमी नहीं रहती। मैं लोगों के बोलने का तरीका तेजी से पकड़ लेती हूं और उनके बोलने के ढंग की नकल करती हूं, इससे मुझे नए किरदार मिलते हैं और ये किरदार मेरे वीडियोज का हिस्सा बनते हैं। मेरे किरदारों में ‘बीसी आंटी’ जो देसी अंदाज में फिल्म और शोज के रिव्यू करती है, ‘प्रभा’ जो न्यूज एंकर है और बेवजह की खबरें बनाती है, ‘टीचर’ जो बच्चों की अटेंडेंस लेकर हर बार एक मैसेज देती है और यूएस से लौटी ‘बिट्टू बुआ’ जो अपनी तारीफ करते नहीं थकती, ये सबसे ज्यादा पॉपुलर किरदार हैं। इसके लिए मैं अपने दर्शकों की शुक्रगुजार हूं।

स्नेहिल मेहरा कॉमिक अंदाज में
स्नेहिल मेहरा कॉमिक अंदाज में

करण जौहर ने कहा, मैं आपका फैन हूं

जब मैं करण जौहर का इंटरव्यू ले रही थी तो उन्होंने कहा, ‘मैं जनता के सामने कहना चाहता हूं कि मैं बीसी आंटी का बहुत बड़ा फैन हूं’, ये सुनकर मुझे बहुत खुशी हुई। करण जौहर से जब मैं पहली बार मिली, तो उन्होंने कहा कि आप कॉमेडी के साथ-साथ बहुत इंटेलिजेंट कंटेंट बनाती हैं। ये मेरे लिए बहुत बड़ा कॉम्प्लीमेंट था। मेरे पापा के फ्रेंड्स को मेरे पॉलिटिकल सटायर बहुत पसंद आते हैं। पप्पा के दोस्तों का कहना है कि मेरे राजनीतिक व्यंग्य खोखले नहीं होते। लोग जब मेरी बात को समझते हैं, तो मेरी मेहनत की कद्र होती है, अच्छे काम की जब कद्र होती है तो जोश बढ़ता है।

करण जौहर के साथ स्नेहिल मेहरा
करण जौहर के साथ स्नेहिल मेहरा

मैं इंजीनियर बनना चाहती थी

पापा फारेस्ट डिपार्टमेंट में थे, जब मैं छोटी थी तो पापा की पोस्टिंग मध्यप्रदेश में थी इसलिए मेरा बचपन वहीं बीता। भोपाल से मैंने राजीव गांधी टेक्नीकल यूनिवर्सिटी से इजीनियरिंग की। वर्ष 2007 में कैम्पस प्लेसमेंट में मेरा सलेक्शन मुंबई की एक कंपनी में हुआ और मैं मुंबई आ गई, लेकिन रिसेशन के कारण वो जॉब हाथ से चली गई। फिर मैंने एक बिजनेस चैनल में इंटर्नशिप की, लेकिन ऑफिस दूर था और इंटर्नशिप में पैसे भी बहुत कम मिलते थे इसलिए मैंने फिल्म बेस्ड वेबसाइट के लिए रिपोर्टर के तौर पर काम किया। उसके बाद मैं टेलीविजन में शिफ्ट हो गई। मैंने एक प्रोडक्शन हाउस में बतौर ट्रेनी काम करना शुरू किया और कई मशहूर शोज का हिस्सा रही। मेरा काम पसंद अता गया और मैं आगे बढ़ती गई। धीरे-धीरे मैं ट्रेनी से क्रिएटिव हेड बनी। उसके बाद कई प्रोडक्शन हाउस और टीवी चैनल्स के लिए काम किया। क्रिएटिव डायरेक्टर के तौर पर फ्रीलांसिंग की, ‘दिल से दिल तक’, ‘मेरे पापा हीरो हीरालाल’ जैसे कई टीवी शोज लिखे, इस तरह मेरा काम बढ़ता गया।

स्नेहिल मेहरा अपने नॉर्मल गेटअप में
स्नेहिल मेहरा अपने नॉर्मल गेटअप में

मेरी जिंदगी का टर्निंग पॉइंट

हमारे प्रोडक्शन हाउस में एक वेब सीरीज ‘अपहरण’ की स्क्रिप्ट आई, जो मेरी जिंदगी का टर्निंग पॉइंट बन गई। मुझे ये स्क्रिप्ट एकता कपूर को नरेट करनी थी। मैं उनसे पहली बार मिल रही थी इसलिए थोड़ा नर्वस थी, लेकिन मैंने नरेशन बहुत अच्छा दिया। मैं एकता कपूर को इम्प्रेस कर पाई और शो एक ही मुलाकात में पास हो गया। उसके बाद ये तय हुआ कि शो चाहे कोई भी लिखे, उसे ‘नरेट’ स्नेहिल ही करेगी। शायद उन्हें मेरा कहानी कहने का अंदाज पसंद आया था। फिर जब मैं ‘अपहरण’ वेब सीरीज के लिए क्रिएटिव डायरेक्टर के तौर पर काम कर रही थी, तो एक छोटा सा रोल मैंने खुद ही कर लिया। इस वेब सीरीज में ‘पंडित जी की पत्नी’ के मेरे छोटे से किरदार ने मेरी किस्मत बदल दी। अब मैं संजय लीला भंसाली जी के साथ उनके एसोसिएट के तौर पर काम कर रही हूं। छुट्टी के दिन या जब भी मुझे टाइम मिलता है, तो मैं 5-6 घंटे वीडियोज के लिए निकाल लेती हूं।

एकता कपूर के साथ स्नेहिल मेहरा
एकता कपूर के साथ स्नेहिल मेहरा

क्रिएटिव फील्ड में नाम कमाना है

मैं बाकी इन्फ्लुएंसर की तरह रोज-रोज वीडियोज नहीं बना सकती, क्योंकि मेरी जिम्मेदारियां हैं, जॉब है और बेटा भी अभी छोटा है। मैं सिर्फ इन्फ्लुएंसर बनकर नहीं रहना चाहती, मुझे क्रिएटिव फील्ड में नाम कमाना है। मैं अपने वीडियोज में मजाक के साथ-साथ लोगों को इंटेलिजेंट मैसेज देने की कोशिश करती हूं। लोग मुझे पसंद कर रहे हैं इसका मतलब ये है कि मैं अपनी बात लोगों तक पहुंचाने में कामयाब हो रही हूं।

खबरें और भी हैं...