2015 ऑस्ट्रेलिया
कब से कब तक 14 फरवरी 2015 से 29 मार्च 2015
मेजबान ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड
विजेता ऑस्ट्रेलिया
उप-विजेता न्यूजीलैंड
मैच 49
टीमें 14
प्लेयर ऑफ द सीरीज मिशेल स्टार्क
अधिकतम स्कोर 411/4 (SA vs IRE)
न्यूनतम स्कोर 101/1 (ENG vs AFG)

11वां वर्ल्ड कप 14 फरवरी से 29 मार्च तक ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में खेला गया। 23 साल बाद दोनों देशों को वर्ल्ड कप की मेजबानी मिली। 14 टीमों को दो पुल में बांटा गया।

पूल बी में भारत-पाकिस्तान के मैच का टिकट 12 मिनट में ही बिक गया।

भारतीय टीम सेमीफाइनल तक पहुंचने वाली इकलौती एशियाई टीम थी। हालांकि, उसे मेजबान ऑस्ट्रेिलया ने हरा दिया। दूसरे सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड ने दक्षिण अफ्रीका को शिकस्त दी।

लगातार दूसरी बार फाइनल में दो मेजबान देश ही आमने-सामने थे। मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हराकर टूर्नामेंट जीत लिया। वह रिकॉर्ड पांचवीं बार चैम्पियन बना।

2011 भारत
कब से कब तक 9 फरवरी 2011 से 2 अप्रैल 2011
मेजबान भारत, श्रीलंका, बांग्लादेश
विजेता भारत
उप-विजेता श्रीलंका
मैच 49
टीमें 14
प्लेयर ऑफ द सीरीज युवराज सिंह
अधिकतम स्कोर 370/4 (IND vs BAN)
न्यूनतम स्कोर 58/10 (BAN vs WI)

दसवां वर्ल्ड कप भारत, श्रीलंका और बांग्लादेश की संयुक्त मेजबानी में 9 फरवरी से 2 अप्रैल तक खेला गया। पहली बार वर्ल्ड कप के मैच बांग्लादेश में खेले गए। इस बार 2007 वर्ल्ड कप के मुकाबले 2 टीमें कम खेलीं।

मैच भी दो कम हुए। टूर्नामेंट वापस सुपर सिक्स के फॉर्मेंट में खेला गया। पाकिस्तान की टीम 22 साल बाद सेमीफाइनल में पहुंची, लेकिन उसे भारत ने हराकर टूर्नामेंट से बाहर कर दिया।

टीम इंडिया 8 साल बाद दोबारा फाइनल में पहुंच गई। जहां उसका मुकाबला श्रीलंका से हुआ। महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारत ने श्रीलंका को 6 विकेट से हरा दिया। भारत 28 साल बाद चैम्पियन बना। पहली बार घरेलू मैदान पर कोई टीम वर्ल्ड कप जीती।

2007 ऑस्ट्रेलिया
कब से कब तक 13 मार्च 2007 से 28 अप्रैल 2007
मेजबान वेस्टइंडीज
विजेता ऑस्ट्रेलिया
उप-विजेता श्रीलंका
मैच 51
टीमें 16
प्लेयर ऑफ द सीरीज ग्लेन मैक्ग्रा
अधिकतम स्कोर 413/5 (IND vs BER)
न्यूनतम स्कोर 77/10 (IRE vs SL)

नौवां वर्ल्ड कप वेस्टइंडीज में 13 मार्च से 28 अप्रैल तक खेला गया। पहली बार वर्ल्ड कप वेस्टइंडीज में हुआ। वह शुरुआती दो वर्ल्ड कप जीता था, लेकिन कभी मेजबानी का मौका नहीं मिला।

इस बार 2003 वर्ल्ड कप के मुकाबले 2 टीमें ज्यादा खेलीं, लेकिन तीन मैच कम हुए। सुपर सिक्स की जगह सुपर-8 फॉर्मेंट में मैच खेले गए। भारत और पाकिस्तान की टीमें पहले ही दौर में बाहर हो गईं। इससे टूर्नामेंट का रोमांच खत्म हो गया।

पाकिस्तान के कोच बॉव वुल्मर का शव टीम होटल में मिला। यह अब तक सबसे विवादित वर्ल्ड कप था। मेजबान वेस्टइंडीज फाइनल में नहीं पहुंच सकी। ऑस्ट्रेलिया ने दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका ने न्यूजीलैंड को हराकर फाइनल में अपना स्थान पक्का किया। वहां ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका को 53 रन से हराकर लगातार तीसरी बार टूर्नामेंट जीत लिया। वह वर्ल्ड कप की हैट्रिक लगाने वाला पहला देश बना।

2003 ऑस्ट्रेलिया
कब से कब तक 9 फरवरी 2003 से 23 मार्च 2003
मेजबान दक्षिण अफ्रीका, केन्या, जिम्बाब्वे
विजेता ऑस्ट्रेलिया
उप-विजेता भारत
मैच 54
टीमें 14
प्लेयर ऑफ द सीरीज सचिन तेंदुलकर
अधिकतम स्कोर 359/2 (AUS vs IND)
न्यूनतम स्कोर 36/10 (CAN vs SL)

आठवां वर्ल्ड कप दक्षिण अफ्रीका, केन्या और जिम्बाब्वे में 9 फरवरी से 23 मार्च तक खेला गया। पहली बार वर्ल्ड कप अफ्रीकी देश में हुआ।

इसमें 1999 वर्ल्ड कप के मुकाबले 2 टीमें ज्यादा खेलीं। इस बार 12 मैच भी और हुए। इंग्लैंड ने जिम्बाब्वे में राजनीतिक अस्थिरता और न्यूजीलैंड ने केन्या में सुरक्षा कारणों से खेलने से इनकार कर दिया।

इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका, वेस्टइंडीज और पाकिस्तान की टीम पहले दौर में ही बाहर हो गई। मेजबान केन्या ने सेमीफाइनल तक का सफर तय किया। फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 125 रन से हराकर तीसरी बार वर्ल्ड कप जीत लिया। वह सबसे ज्यादा वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम बनी। उसने वेस्टइंडीज (2) को पीछे छोड़ दिया।

1999 ऑस्ट्रेलिया
कब से कब तक 14 मई 1999 से 20 जून 1999
मेजबान इंग्लैंड, वेल्स, स्कॉटलैंड, नीदरलैंड, आयरलैंड
विजेता ऑस्ट्रेलिया
उप-विजेता पाकिस्तान
मैच 42
टीमें 12
प्लेयर ऑफ द सीरीज लांस क्लूजनर
अधिकतम स्कोर 373/6 (IND vs SL)
न्यूनतम स्कोर 68/10 (SCO vs WI)

सातवां वर्ल्ड कप इंग्लैंड, आयरलैंड, नीदरलैंड, स्कॉटलैंड और वेल्स में 14 मई से 20 जून तक खेला गया। 16 साल बाद टूर्नामेंट इंग्लैंड में खेला गया।

इस बार भी 1996 वर्ल्ड कप की तरह 12 टीमें ही खेलीं, लेकिन पहली बार एशिया से 4 टीमों ने हिस्सा लिया। भारत, श्रीलंका और पाकिस्तान के अलावा बांग्लादेश को भी वर्ल्ड कप खेलने का मौका मिला।

स्कॉटलैंड भी पहली बार इस टूर्नामेंट में खेला। ऑस्ट्रेलियाई टीम पाकिस्तान को 8 विकेट से हराकर दूसरी बार चैम्पियन बनी। उसने वेस्टइंडीज के दो बार वर्ल्ड कप जीतने की बराबरी की।

1996 श्रीलंका
कब से कब तक 14 फरवरी 1996 से 17 मार्च 1996 तक
मेजबान भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका
विजेता श्रीलंका
उप-विजेता ऑस्ट्रेलिया
मैच 37
टीमें 12
प्लेयर ऑफ द सीरीज सनथ जयसूर्या
अधिकतम स्कोर 398/75 (SL vs KEN)
न्यूनतम स्कोर 93/10 (WI vs KEN)

छठा वर्ल्ड कप भारत, पाकिस्तान और श्रीलंका की मेजबानी में 14 फरवरी से 17 मार्च तक हुआ। पहली बार श्रीलंका को मेजबानी मिली।

तीन देशों की मेजबानी में पहली बार यह टूर्नामेंट खेला गया। टीमों की संख्या 9 से बढ़कर 12 पहुंच गई, लेकिन पिछले वर्ल्ड कप के मुकाबले 2 मैच कम हुए। पहली बार आईसीसी के एसोसिएट सदस्यों को वर्ल्ड कप खेलने का मौका मिला।

केन्या, नीदरलैंड और यूएई की टीमें टूर्नामेंट का हिस्सा बनीं। लिट्टे के हमलों के कारण ऑस्ट्रेलिया और विंडीज ने श्रीलंका में खेलने से मना कर दिया। इससे श्रीलंका को दोनों के खिलाफ होने वाले मैच के अंक मिले। लाहौर में खेले गए फाइनल में श्रीलंकाई टीम ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से हराकर पहली बार वर्ल्ड कप जीतने में सफल रही।

1992 पाकिस्तान
कब से कब तक 22 फरवरी से 1992 से 25 मार्च 1992 तक
मेजबान ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड
विजेता पाकिस्तान
उप-विजेता इंग्लैंड
मैच 39
टीमें 9
प्लेयर ऑफ द सीरीज मार्टिन क्रो
अधिकतम स्कोर 313/75 (SL vs ZIM)
न्यूनतम स्कोर 74/10 (PAK vs ENG)

पांचवां वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड की मेजबानी में 22 फरवरी से 25 मार्च तक हुआ। पहली बार वर्ल्ड कप यूरोप और एशिया से बाहर हुआ।

वर्ल्ड कप में पहली बार खिलाड़ियों ने रंगीन जर्सी पहनी, सफेद गेंद और ब्लैक साइट स्क्रीन का इस्तेमाल हुआ।

पहली बार 9 टीमें टूर्नामेंट का हिस्सा बनीं। दक्षिण अफ्रीका की 21 साल बाद क्रिकेट में वापसी हुई। पहली बार टूर्नामेंट राउंड रॉबिन फॉर्मेट में खेला गया। पाकिस्तान फाइनल में इंग्लैंड को 22 रन से हराकर पहली बार चैम्पियन बना। इंग्लैंड की टीम लगातार दूसरा फाइनल हारी।

1987 ऑस्ट्रेलिया
कब से कब तक 8 अक्टूबर 1987 से 8 नवंबर 1987 तक
मेजबान भारत, पाकिस्तान
विजेता ऑस्ट्रेलिया
उप-विजेता इंग्लैंड
मैच 27
टीमें 8
प्लेयर ऑफ द सीरीज किसी को नहीं
अधिकतम स्कोर 360/5 (WI vs SL)
न्यूनतम स्कोर 135/10 (ZIM vs IND)

चौथा वर्ल्ड कप भारत-पाकिस्तान की संयुक्त मेजबानी में 8 अक्टूबर से 8 नवंबर तक खेला गया। पहली बार वर्ल्ड कप इंग्लैंड से बाहर हुआ। 1983 वर्ल्ड कप की तरह इस बार भी 8 टीमें ही खेलीं, लेकिन 60 की जगह 50 ओवर के मैच हुए।

सभी टीमों की जर्सी सफेद रंग की थी। पहली बार वेस्टइंडीज की टीम फाइनल तक नहीं पहुंच पाई। दोनों मेजबान देश सेमीफाइनल में हार गए। पहली बार इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच फाइनल हुआ। ऑस्ट्रेलियाई टीम यह मैच 7 रन से जीतकर पहली बार चैम्पियन बनी।

1983 भारत
कब से कब तक 9 जून 1983 - 25 जून 1983
मेजबान इंग्लैंड, वेल्स
विजेता भारत
उप-विजेता वेस्टइंडीज
मैच 27
टीमें 8
प्लेयर ऑफ द सीरीज किसी को नहीं
अधिकतम स्कोर 338/5 (PAK vs SL) 9 जून 1983
न्यूनतम स्कोर 129 (AUS vs IND) 20 जून 1983

तीसरा वर्ल्ड कप इंग्लैंड में 9 से 25 जून 1983 तक खेला गया। इसमें 8 टीमों ने हिस्सा लिया था। हर मैच 60 ओवर का था। सभी टीमों की जर्सी सफेद रंग की थी। यह वर्ल्ड कप लाल गेंद से खेला गया और सभी मुकाबले दिन में हुए थे।

टूर्नामेंट के फाइनल में भारत और वेस्टइंडीज की टीमें पहुंचीं। लार्ड्स के मैदान पर हुए उस मैच में वेस्टइंडीज को 43 रन से हराकर भारत पहली बार वर्ल्ड चैम्पियन बना। उस मैच में वेस्टइंडीज ने टॉस जीता और गेंदबाजी का फैसला किया। भारतीय टीम 54.4 ओवर में 183 रन पर ऑलआउट हो गई। कृष्णामचारी श्रीकांत ने सबसे ज्यादा 38 रन और मोहिंदर अमरनाथ ने 26 रन बनाए।

वेस्टइंडीज के लिए एंडी रॉबर्ट्स ने 3, जबकि मैल्कम मार्शल, माइकल होल्डिंग और लैरी गोम्स ने 2-2 विकेट लिए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज की पूरी टीम 52 ओवर में 140 रन ही बना पाई। विवियन रिचर्ड्स ने सबसे ज्यादा 33 रन बनाए।

भारत के लिए मोहिंदर अमरनाथ ने 7 ओवर में 12 रन देकर 3 विकेट लिए। मदन लाल ने भी 3 विकेट लिए। बलविंदर संधू ने 2, जबकि तत्कालीन कप्तान कपिल देव और रोजर बिन्नी ने 1-1 विकेट लिए थे।

1979 वेस्ट इंडीज
कब से कब तक 9 जून 1979 - 23 जून 1979
मेजबान इंग्लैंड
विजेता वेस्ट इंडीज
उप-विजेता इंग्लैंड
मैच 15
टीमें 8
प्लेयर ऑफ द सीरीज किसी को नहीं
अधिकतम स्कोर 293/6 (WI vs PAK) 20 जून 1979
न्यूनतम स्कोर 45 (CA vs ENG) 13 जून 1979

1979 में इंग्लैंड में दूसरी बार विश्व कप खेला गया। यह वर्ल्ड कप का भी दूसरा सीजन था। इसके मुकाबले 9 से 23 जून तक हुए। इसमें आठ टीमों ने हिस्सा लिया। हर मैच 60-60 ओवर का था। खिलाड़ियों की जर्सी का रंग सफेद था।

इसके मुकाबले लाल गेंद से खेले गए थे। सभी मैच दिन में हुए थे। टूर्नामेंट का फाइनल वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के बीच खेला गया।

लार्ड्स के मैदान पर हुए उस मैच में वेस्टइंडीज की टीम इंग्लैंड को 92 रन से हराकर दूसरी बार विश्व विजेता बनी।

उस मैच में विवियन रिचर्ड्स ने 157 गेंद पर 138 और कोलिस किंग ने 66 गेंद पर 86 रन की पारी खेली थी। वेस्टइंडीज ने 60 ओवर में 9 विकेट पर 286 रन बनाए थे। इंग्लैंड की टीम 51 ओवर में 194 रन पर ऑलआउट हो गई थी। विंडीज के जोएल गार्नर ने 38 रन देकर 5 विकेट लिए थे। रिचर्ड्स मैन ऑफ द मैच चुने गए थे।

1975 वेस्ट इंडीज
कब से कब तक 7 जून 1975 - 21 जून 1975
मेजबान इंग्लैंड
विजेता वेस्ट इंडीज
उप-विजेता ऑस्ट्रेलिया
मैच 15
टीमें 8
प्लेयर ऑफ द सीरीज किसी को नहीं
अधिकतम स्कोर 334/4 (ENG vs IND) 7 जून 1975
न्यूनतम स्कोर 86 (SL vs WI) 7 जून 1975

1975 में पहली बार वनडे वर्ल्ड कप क्रिकेट खेला गया। इसमें आठ टीमों ने हिस्सा लिया था। हर मैच 60-60 ओवर का था। खिलाड़ियों की जर्सी का रंग सफेद था।

इसके मुकाबले लाल गेंद से खेले गए थे। सभी मैच दिन में हुए थे। टूर्नामेंट का फाइनल वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया।

लार्ड्स में हुए उस मैच में वेस्टइंडीज ने ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से हराककर पहला विश्व चैम्पियन बनने का गौरव हासिल किया था। उस मैच में वेस्टइंडीज के तत्कालीन कप्तान क्लाइव लायड ने 85 गेंद पर 102 रन की पारी खेली थी। वे मैन ऑफ द मैच चुने गए थे।

विज्ञापन
  • TEAMS
  • M
  • W
  • L
  • NR
  • RR
  • PTS
  • India
  • 9
  • 7
  • 1
  • 1
  • 0.809
  • 15
  • Australia
  • 9
  • 7
  • 2
  • 0
  • 0.868
  • 14
  • England
  • 9
  • 6
  • 3
  • 0
  • 1.152
  • 12
  • New Zealand
  • 9
  • 5
  • 3
  • 1
  • 0.175
  • 11
  • Pakistan
  • 9
  • 5
  • 3
  • 1
  • -0.430
  • 11
  • Sri Lanka
  • 9
  • 3
  • 4
  • 2
  • -0.919
  • 8
  • South Africa
  • 9
  • 3
  • 5
  • 1
  • -0.030
  • 7
  • Bangladesh
  • 9
  • 3
  • 5
  • 1
  • -0.410
  • 7
  • West Indies
  • 9
  • 2
  • 6
  • 1
  • -0.225
  • 5
  • Afghanistan
  • 9
  • 0
  • 9
  • 0
  • -1.322
  • 0