Hindi News »International News »America» Apple CEO Tim Cook Slams Mark Zuckerberg Over Facebook Data Scandal

फेसबुक डेटा लीक पर टिम कुक ने कसा जकरबर्ग पर तंज, बोले- मैं कभी ऐसे हालात में नहीं होता

एपल स्टोर पर मौजूद फेसबुक एप पर हम तब कोई एक्शन नहीं लेंगे जब तक कि हमारी पॉलिसी का उल्लंघन नहीं होता।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Mar 29, 2018, 02:16 PM IST

फेसबुक डेटा लीक पर टिम कुक ने कसा जकरबर्ग पर तंज, बोले- मैं कभी ऐसे हालात में नहीं होता, international news in hindi, world hindi news

शिकागो. फेसबुक -कैंब्रिज एनालिटिका डेटा लीक मामले में एपल के सीईओ टिम कुक ने मार्क जकरबर्ग पर बड़ा तंज कसा है। बुधवार को एमएसएनबीसी को दिए एक इंटरव्यू में कुक से जब पूछा गया कि अगर वे मार्क जकरबर्ग की जगह होते तो क्या करते, तो कुक ने मुंह बनाते हुए कहा कि, मैं तो कभी ऐसे हालात में नहीं होता। हालांकि हम फेसबुक एप को एपल स्टोर से तब तक नहीं हटाएंगे जब तक कि हमारी पॉलिसी का उल्लंघन नहीं होगा। उन्होंने कहा कि एपल लोगों की प्राइवेसी का सम्मान करती है और उनकी पर्सनल लाइफ में कभी दखल नहीं देगी। कुक का ये इंटरव्यू शुक्रवार को एमएसएनबीसी चैनल पर लाइव होगा।

इंटरव्यू में कुक ने ये 5 बड़ी बाते कही

#1- 'फेसबुक की डेटा कलेक्शन तकनीकें खराब हैं जिसमें यूजर्स से बहुत सारी पर्सनल जानकारियां ली जाती हैं और उनको जमाकर एडवर्टाइजर्स को बेचा जाता है।'

#2- 'अगर हम भी अपने कंस्टमर्स की जानकारियों को ऐसे भुनाने लगें तो काफी पैसा कमा सकते हैं, पर हम ऐसा कभी नहीं करेंगे।'

#3- 'अगर हमारे कस्टमर्स ही हमारे प्रॉडक्ट होते तो भी हम उनके बारे में कुछ भी बेचना पसंद नहीं करते। '

#4 - 'हम लोगों की पर्सनल लाइफ में दखल देने की जरा भी कोशिश नहीं करते। प्राइवेसी हमारे लिए एक मानव अधिकार है, एक तरह से नागरिक स्वतंत्रता है और हम इसका सम्मान करते हैं।'

#5- ' फेसबुक ने जितनी यूजर्स प्रोफाइल जमा कर रखी है उन्हें अस्तित्व में नहीं होना चाहिए। ऐसी प्रोफाइल्स का एडवर्टाइजर्स दुरुपयोग कर सकते हैं और ये हमारे लोकतंत्र के लिए भी खतरा हो सकती है।

#6- 'फेसबुक जैसे डेटा स्कैंडल को रोकने के लिए कानून (रैगुलेशन) होना चाहिए। हालांकि सबसे अच्छा रैगुलेशन सेल्फ रेगुलेशन ही होगा।

#7- 'एपल स्टोर पर मौजूद फेसबुक एप पर हम तब कोई एक्शन नहीं लेंगे जब तक कि हमारी पॉलिसी का उल्लंघन नहीं होता।

तीन साल पहले भी भिड़ चुके हैं मार्क और टिम

  • 2015 में टिम कुक ने सिलिकॉन वैली की उन कंपनियों की आलोचना की थी जो लोगों को फ्री सर्विस देने का लालच देती है, पर वास्तव में वे इसकी कीमत उनके पर्सनल डेटा को बेचकर वसूलती है। उनका सीधा इशारा फेसबुक की तरफ था।
  • कुक के इस कमेंट के का जवाब देते हुए मार्क जकरबर्ग ने कहा था कि एपल अपने ग्राहकों के हित को नजरअंदाज करती है। अगर एपल को अपने ग्राहकों की फिक्र होती तो वे अपने प्रॉडक्ट्स इतने महंगे नहीं बेचते।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From America

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×