--Advertisement--

फ्लोरिडा शूटिंग का आरोपी छात्र स्कूल से निकाले जाने पर नाराज था, AR-15 राइफल से की फायरिंग; देखें PHOTOS

अमेरिका के साउथ फ्लोरिडा के हाईस्कूल में यह वारदात हुई। उस वक्त दोपहर के 2:40 (भारतीय समय से देर रात 1:10 बजे) बजे थे।

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2018, 10:41 AM IST
वारदात के कुछ वक्त बाद ही आरोपी निकोलज क्रूज को अरेस्ट कर लिया गया था। वारदात के कुछ वक्त बाद ही आरोपी निकोलज क्रूज को अरेस्ट कर लिया गया था।

आर्कलैंड. साउथ फ्लोरिडा हाईस्कूल शूटिंग के आरोपी छात्र निकोलस क्रूज के बारे में नया खुलासा हुआ है। बताया जा रहा है कि क्रूज को डिसीप्लिन तोड़ने की वजह से स्कूल से निकाल दिया गया था। इस वजह से वह काफी नाराज था। उसने सेमीऑटोमैटिक AR-15 राइफल इस वारदात को अंजाम दिया। पुलिस के मुताबिक आरोपी ने पहले स्कूल का फायर अलार्म बजाया। इससे स्कूल में अफरा-तफरी मच गई, जिसके बाद उसने फायरिंग शुरू कर दी। इस हमले में अब तक 17 छात्र और स्टाफ की मौत हो गई है। कई अभी भी गंभीर हैं।

कब और कहां की फायरिंग?

- मियामी से करीब 72 किमी दूर पार्कलैंड इलाके के मार्जरी स्टोनमैन डगलस हाईस्कूल में। उस वक्त दोपहर के 2:40 (भारतीय समय से देर रात 1:10 बजे) बजे थे।

आरोपी ने घटना को कैसे अंजाम दिया?

- ब्रोवार्ड काउंटी के शेरिफ स्‍कॉट इजरायल ने बताया कि आरोपी क्रूज ने पहले स्कूल के बाहर फायरिंग की, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई, फिर वह बिल्डिंग में घुसा और 12 और लोगों की हत्या कर दी। दो जख्मियों ने अस्पताल में दम तोड़ा।

- पुलिस ऑफिशियल्स के मुताबिक, क्रूज ने घटना को स्कूल की छुट्टी होने के कुछ वक्त पहले ही अंजाम दिया।

वारदात को अंजाम देने के बाद फरार हो गया था आरोपी
- हमला करने के बाद निकोलस क्रूज फरार हो गया था। वारदात के कुछ घंटे बाद में उसे नजदीकी शहर कोरल स्प्रिंग से अरेस्ट किया गया।

- अफसरों के मुताबिक भागने के लिए उसने छात्रों की भीड़ का फायदा उठाया। पुलिस अफसर शेरिफ इजरायल ने बताया कि क्रूज के पास कई हथियार हैं।

एक वीडियो में 40 से ज्यादा फायरिंग की आवाज
- इस हमले का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें एक छात्र बदहवाशी की हालत में चिल्लाता हुआ सुनाई दे रहा है। इसमें 40 से ज्यादा बार फायरिंग की आवाज सुनाई दे रही है।

AR-15 कैसी राइफल है?
- यह एल्यूमीनियम और सिंथेटिक मटेरियल से बनी सेमी ऑटोमैटिक राइफल है। इसे अमेरिकी इंजीनियर्स यूगेन स्टोनर, जिम सुलीवान और बॉब फर्मोंट ने बनाया था। पहली बार इसे 1963 में पेश किया गया। इससे 550 मीटर की दूर तक निशाना साधा जा सकता है। 1994 से 2004 तक इस राइफल पर बैन लगाया था। बाद में बुश एडमिनिस्ट्रेन ने इस पर से बैन हटा लिया था।

ये भी पढ़ें: फ्लोरिडा के स्कूल में फायरिंग: 17 की मौत, आरोपी ने बजाया था फायर अलार्म ताकि ज्यादा लोग निशाना बनें

क्रूज ने इस राइफल से वारदात को अंजाम दिया गया। क्रूज ने इस राइफल से वारदात को अंजाम दिया गया।
बताया जा रहा है कि आरोपी छात्र को बार-बार फायर अलार्म बजाने की आदत थी, इसलिए उसे स्कूल से निकाल दिया गया था। बताया जा रहा है कि आरोपी छात्र को बार-बार फायर अलार्म बजाने की आदत थी, इसलिए उसे स्कूल से निकाल दिया गया था।
यह घटना पार्कलैंड इलाके के मार्जरी स्टोनमैन डगलस हाईस्कूल में हुई। यह घटना पार्कलैंड इलाके के मार्जरी स्टोनमैन डगलस हाईस्कूल में हुई।
यह स्कूल मियामी से करीब 72 किमी दूर है। यह स्कूल मियामी से करीब 72 किमी दूर है।
घटना दोपहर के 2:40 (भारतीय समय से देर रात 1:10 बजे) हुई। घटना दोपहर के 2:40 (भारतीय समय से देर रात 1:10 बजे) हुई।
पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है।
फायरिंग के वक्त पूरे स्कूल में अफरा-तफरा मच गई। फायरिंग के वक्त पूरे स्कूल में अफरा-तफरा मच गई।

 

स्कूल के भीतर 12 लोगों की मौत हुई। स्कूल के भीतर 12 लोगों की मौत हुई।
स्कूल कैम्पस के बाहर अपने बच्चों का इंतजार करते पैरेंट्स। स्कूल कैम्पस के बाहर अपने बच्चों का इंतजार करते पैरेंट्स।
पुलिस ने पूरे स्कूल को खाली करा लिया। पुलिस ने पूरे स्कूल को खाली करा लिया।
X
वारदात के कुछ वक्त बाद ही आरोपी निकोलज क्रूज को अरेस्ट कर लिया गया था।वारदात के कुछ वक्त बाद ही आरोपी निकोलज क्रूज को अरेस्ट कर लिया गया था।
क्रूज ने इस राइफल से वारदात को अंजाम दिया गया।क्रूज ने इस राइफल से वारदात को अंजाम दिया गया।
बताया जा रहा है कि आरोपी छात्र को बार-बार फायर अलार्म बजाने की आदत थी, इसलिए उसे स्कूल से निकाल दिया गया था।बताया जा रहा है कि आरोपी छात्र को बार-बार फायर अलार्म बजाने की आदत थी, इसलिए उसे स्कूल से निकाल दिया गया था।
यह घटना पार्कलैंड इलाके के मार्जरी स्टोनमैन डगलस हाईस्कूल में हुई।यह घटना पार्कलैंड इलाके के मार्जरी स्टोनमैन डगलस हाईस्कूल में हुई।
यह स्कूल मियामी से करीब 72 किमी दूर है।यह स्कूल मियामी से करीब 72 किमी दूर है।
घटना दोपहर के 2:40 (भारतीय समय से देर रात 1:10 बजे) हुई।घटना दोपहर के 2:40 (भारतीय समय से देर रात 1:10 बजे) हुई।
पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है।पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है।
फायरिंग के वक्त पूरे स्कूल में अफरा-तफरा मच गई।फायरिंग के वक्त पूरे स्कूल में अफरा-तफरा मच गई।
स्कूल के भीतर 12 लोगों की मौत हुई।स्कूल के भीतर 12 लोगों की मौत हुई।
स्कूल कैम्पस के बाहर अपने बच्चों का इंतजार करते पैरेंट्स।स्कूल कैम्पस के बाहर अपने बच्चों का इंतजार करते पैरेंट्स।
पुलिस ने पूरे स्कूल को खाली करा लिया।पुलिस ने पूरे स्कूल को खाली करा लिया।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..