अमेरिका

--Advertisement--

सरकारी इमारत पर ट्रम्प की तस्वीर के लिए 10 हजार डॉलर का चंदा नहीं मिला, शरारती तत्वों ने टांगी पुतिन की फोटो

कोलाराडो की कैपिटल बिल्डिंग पर ट्रम्प की फोटो लगाने के लिए 10 हजार डॉलर चंदा जुटाया जाना था

Danik Bhaskar

Jul 31, 2018, 08:27 PM IST
अमेरिका में नया राष्ट्रपति बन अमेरिका में नया राष्ट्रपति बन

- विवादित बयानों से घट रही ट्रम्प की लोकप्रियता

- ओबामा, जॉर्ज बुश की तस्वीर लगाने के लिए सिर्फ चार महीने में मिल गया था चंदा

न्यूयॉर्क. डोनाल्ड ट्रम्प को अमेरिका का राष्ट्रपति बने 18 महीने से ज्यादा का समय बीत चुका, लेकिन कोलाराडो स्टेट की कैपिटल बिल्डिंग पर उनकी तस्वीर नहीं लगाई जा सकी। दरअसल, यहां प्रेसिडेंशियल वॉल पर नए राष्ट्रपति की फोटो चंदा करके लगाई जाती है। ट्रम्प की तस्वीर लगाने के लिए 10 हजार डॉलर (करीब 6 लाख 90 हजार रुपए) चंदा जुटाया जाना था। स्थानीय टीवी चैनल का दावा है कि इस बार एक भी डॉलर चंदा नहीं मिला। इसके बाद कुछ शरारती तत्वों ने दीवार पर रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की फोटो लगा दी।

डेमोक्रेट सांसद स्टीव फेनबर्ग ने ट्विटर पर इससे जुड़ी एक फोटो पोस्ट की है जिसमें दीवार पर लगी पुतिन की तस्वीर नजर आ रही है। इसके बाद सोशल मीडिया पर ट्रम्प का मजाक उड़ाया जा रहा है। एक यूजर ने लिखा, "ट्रम्प जितने कमजोर दिखते हैं, पुतिन उतने ही मजबूत...कहीं पुतिन अगली बार ट्रम्प की जगह अमेरिका का चुनाव ना लड़ लें।"

बुश और ओबामा के लिए चंदा जुटाने में नहीं आई थी दिक्कत : कैपिटल बिल्डिंग पर राष्ट्रपतियों की तस्वीर लगाने के लिए ‘कोलाराडो सिटिजन फॉर कल्चर’ (सीसीएफसी) संस्था चंदा जुटाती है। उसके अध्यक्ष जे सेलर ने टीवी चैनल को बताया कि उन्हें बराक ओबामा और जॉर्ज डब्लू बुश की तस्वीर लगाने के लिए सिर्फ चार महीने में ही जरूरी चंदा मिल गया था। ट्रम्प अपने बयानों के चलते विवादों में रहते हैं। माना जा रहा है कि अमेरिका में उनकी लोकप्रियता घट रही है।

Click to listen..