--Advertisement--

अमेरिका में मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों की यात्रा पर रोक जारी रहेगी, ट्रम्प के फैसले का सुप्रीम कोर्ट ने समर्थन किया

ट्रम्प ने राष्ट्रपति बनते ही जनवरी 2017 में 7 देशों के नागरिकों की अमेरिका यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया था।

Dainik Bhaskar

Jun 26, 2018, 09:55 PM IST
Court upholds Trump travel ban, rejects discrimination claim

वॉशिंगटन. अमेरिका में मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों की यात्रा पर रोक जारी रहेगी। सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को उस याचिका को रद्द कर दिया, जिसमें ट्रम्प के फैसले को मुसलमानों के साथ भेदभाव करने वाला बताया गया था। 5 जजों के पैनल में 4 जजों ने राष्ट्रपति के फैसले का समर्थन किया है।

ट्रम्प ने राष्ट्रपति बनते ही जनवरी 2017 में 7 मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों की अमेरिका यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया था। हालांकि, मार्च 2017 में इराक और अप्रैल में चाड से प्रतिबंध हटा दिए थे। ईरान, लीबिया, सोमालिया, सूडान, सीरिया और यमन के नागरिकों पर यह रोक जारी है। इसके अलावा दो अन्य देश उत्तर कोरिया और वेनेजुएला के कुछ अफसर और उनके परिवार के भी अमेरिका की यात्रा करने पर रोक लगी है।

राष्ट्रपति के पास अप्रवासी नियम लागू करने के अधिकार: चीफ जस्टिस जॉन रॉबर्ट्स ने अपने फैसले में लिखा, "राष्ट्रपति के पास अप्रवासी नियम लागू करने के पर्याप्त अधिकार हैं। वे इसके खिलाफ किसी भी याचिका को भी रद्द कर सकते हैं। सरकार ने अपनी नीति के पक्ष में राष्ट्रीय सुरक्षा के पर्याप्त सबूत और तर्क दिए हैं, इसलिए कोर्ट को अब इस पर कुछ नहीं कहना।" कोर्ट ने दिसंबर 2017 में भी इस पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था। हालांकि मामले की सुनवाई जारी थी।

नीति के समर्थन में नहीं थीं एक जज : मामले की सुनवाई कर रहे पैनल में शामिल महिला जज सोनिया सोटोमेयोर ने कहा, "समीक्षकों ने इस घोषणा को मुस्लिम विरोधी नीति कहा है। पैनल के बाकी जजों ने उन तथ्यों को नकार दिया, जिनमें उन परिवारों के दुखों को बताया गया था, जो इस नीति की वजह से प्रभावित हुए हैं। इनमें कई अमेरिकी नागरिक भी हैं।" सोटोमेयोर ट्रम्प की नीति के समर्थन में नहीं थीं।

X
Court upholds Trump travel ban, rejects discrimination claim
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..