--Advertisement--

ट्रम्प का 10 दिन में यू-टर्न: पहले कहा था- उत्तर कोरिया से कोई जोखिम नहीं; अब कहा- खतरा तो बना हुआ है

अमेरिका ने 26 जून 2008 में पहली बार उत्तर कोरिया पर इमरजेंसी लगाई थी।

Danik Bhaskar | Jun 23, 2018, 02:19 PM IST
सिंगापुर में ट्रम्प और किम 90 मिनट साथ रहे थे। 38 मिनट तक दोनों के बीच अकेले मुलाकात हुई थी। -फाइल सिंगापुर में ट्रम्प और किम 90 मिनट साथ रहे थे। 38 मिनट तक दोनों के बीच अकेले मुलाकात हुई थी। -फाइल

- अमेरिका ने लगातार 11वें साल उत्तर कोरिया पर नेशनल इमरजेंसी लगाई
- 12 जून को सिंगापुर में मिले ट्रम्प और किम जोंग उन

वॉशिंगटन. अमेरिका-उत्तर कोरिया के राष्ट्र प्रमुखों की इतिहास में पहली मुलाकात और साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस के 10 दिन बाद ही डोनाल्ड ट्रम्प ने यू-टर्न ले लिया। तानाशाह किम जोन्ग उन से मुलाकात के अगले दिन 13 जून को ट्रम्प ने कहा था कि उत्तर कोरिया से अब खतरा नहीं है। अमेरिका चैन की नींद सो सकता है। शुक्रवार रात उन्होंने उत्तर कोरिया के खिलाफ नेशनल इमरजेंसी एक साल के लिए बढ़ा दी। ये भी कहा कि उत्तर कोरिया से अभी भी असाधारण और असामान्य परमाणु खतरा बना हुआ है। अमेरिका ने 26 जून 2008 को पहली बार उत्तर कोरिया पर इमरजेंसी लगाई थी।

सिंगापुर में मिले थे ट्रम्प और किम : 70 साल से दुश्मन रहे अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच 12 जून को पहली बार सिंगापुर में बातचीत हुई थी। 71 साल के ट्रम्प ने 34 साल के किम को परमाणु हथियार पूरी तरह खत्म करने पर राजी कर लिया था। ट्रम्प ने बदले में सुरक्षा की गारंटी दी थी। उत्तर कोरिया की बड़ी मांग मानते हुए ट्रम्प ने दक्षिण कोरिया के साथ संयुक्त युद्ध अभ्यास खत्म कर दिया था। ट्रम्प और किम 90 मिनट साथ रहे थे। 38 मिनट तक दोनों के बीच अकेले मुलाकात हुई थी। इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ड्वाइट आइजनहॉवर (1953) से लेकर बराक ओबामा (2016) तक 11 अमेरिकी राष्ट्रपतियों ने उत्तर कोरिया का मसला सुलझाने की कोशिश की थी, लेकिन ट्रम्प जैसी कामयाबी किसी को नहीं मिली थी।

13 जून को ट्रम्प के दो ट्वीट : पहले ट्वीट में ट्रम्प ने लिखा था- ''बड़े दौरे से अभी लौटा हूं। अब हर कोई ज्यादा सुरक्षित महसूस कर सकता है। उत्तर कोरिया से अब परमाणु खतरा नहीं है। किम जोंग उन के साथ मुलाकात दिलचस्प और सकारात्मक रही।'' दूसरे ट्वीट में ट्रम्प ने लिखा- ''राष्ट्रपति पद संभालने से पहले हम मानकर चल रहे थे कि उत्तर कोरिया के साथ जंग होगी। प्रेसिडेंट ओबामा ने भी कहा था उत्तर कोरिया हमारे लिए सबसे बड़ा खतरा है। लेकिन अब ऐसा नहीं है। आज की रात चैन की नींद सो जाइए।''

10 दिन बाद अब ट्रम्प का यू-टर्न : ट्रम्प ने शुक्रवार को उत्तर कोरिया के खिलाफ 11वें साल नेशनल इमरजेंसी लागू करते हुए लिखा- उत्तर कोरिया से परमाणु प्रसार का खतरा अभी भी बना हुआ है। उत्तर काेरिया सरकार की नीतियों और खासकर उसके मिसाइल प्रोग्राम और परमाणु कार्यक्रम से अभी भी अमेरिका की सुरक्षा, विदेश नीति और अर्थव्यवस्था को खतरा है।

ट्रम्प ने किम से मुलाकात के बाद कहा था, उत्तर कोरिया से अब कोई परमाणु खतरा नहीं है। ट्रम्प ने किम से मुलाकात के बाद कहा था, उत्तर कोरिया से अब कोई परमाणु खतरा नहीं है।
ट्रम्प ने 13 जून को ट्वीट किया था, ओबामा ने कहा था कि हमारे लिए उ.कोरिया सबसे बड़ा खतरा है, लेकिन अब नहीं। ट्रम्प ने 13 जून को ट्वीट किया था, ओबामा ने कहा था कि हमारे लिए उ.कोरिया सबसे बड़ा खतरा है, लेकिन अब नहीं।