Hindi News »International News »America» Trump Signs Order To Keep Families Together

पहली बार झुके ट्रम्प: अमेरिका में माता-पिता से अलग किए गए थे 2500 बच्चे, अब साथ रखने का अादेश

नए कानून के तहत बीते 6 हफ्ते में करीब 2500 बच्चे अपने माता-पिता से अलग किए गए।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jun 21, 2018, 11:54 AM IST

  • पहली बार झुके ट्रम्प: अमेरिका में माता-पिता से अलग किए गए थे 2500 बच्चे, अब साथ रखने का अादेश, international news in hindi, world hindi news
    +2और स्लाइड देखें
    इस नियम के तहत अवैध तरीके से दाखिल हुए अप्रवासियों से उनके बच्चे अलग कर दिए जाते थे।

    - देशभर में हो रहे विरोध को देखते हुए ट्रम्प ने अपने फैसले पर रोक लगा दी
    - ट्रम्प ने कहा- प्रवासियों की समस्या पुरानी है, हम इस पर काम कर रहे हैं

    वॉशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने देश में अवैध तरीके से दाखिल हो रहे परिवारों से उनके बच्चों को अलग रखने के फैसले पर रोक लगा दी है। बीते 6 हफ्ते में करीब 2500 बच्चे अपने माता-पिता से अलग किए गए थे। ट्रम्प ने बुधवार को नए आदेश पर हस्ताक्षर करने के बाद कहा कि परिवारों को बिछड़ते देख उन्हें अच्छा नहीं लगता। पत्नी मेलानिया और बेटी इवांका भी इसके खिलाफ थे। नया आदेश परिवारों को एक साथ रखने का है।
    अमेरिकी मीडिया का कहना है कि ट्रम्प अपने देश में लागू किसी नीति पर पहली बार झुके हैं। सीएनएन के मुताबिक, हो सकता है कि ट्रम्प पत्नी और बेटी के दबाव में झुक गए और इसी वजह से उन्हें प्रवासी परिवारों के लिए जीरो टॉलरेंस की नीति बदलनी पड़ी।

    ट्रम्प ने कहा, ‘"हम परिवारों को एक साथ रखने जा रहे हैं ताकि सारी समस्याएं खत्म हो जाएं। हमारे पास मजबूत सीमा है। इन पर सुरक्षा पहले की तरह ही बनी रहेगी। प्रवासियों की समस्या पुरानी है। पिछली सरकारों ने इस पर कोई काम नहीं किया। हम इस पर काम कर रहे हैं। हम बच्चों को उनके माता-पिता से अलग नहीं करना चाहते हैं, लेकिन इसके साथ ही ये भी चाहते हैं कि कोई हमारी सीमा में गैरकानूनी तरीके से दाखिल नहीं हो।’’

    विरोध की वजह से बदला फैसला: सोमवार को ट्रम्प ने अपने फैसले का बचाव करते हुए कहा था कि प्रवासी लोग हत्यारे या चोर भी हो सकते हैं। हम सुरक्षित देश चाहते हैं और इसकी शुरुआत बॉर्डर से होगी। इसलिए जीरो टॉलरेंस पॉलिसी है। ट्रम्प की इस नीति का पूरे अमेरिका में विरोध हो रहा था। यहां तक की ट्रम्प की पत्नी मेलानिया के ऑफिस की तरफ से बयान में कहा गया था, ‘बच्चों को उनके परिवार से अलग करने के फैसले से नफरत हो रही है।’ पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश की पत्नी लॉरा ने इसे क्रूर पॉलिसी बताया था। ट्रम्प की पार्टी के कई सांसदों ने भी जीरो टॉलरेंस पॉलिसी पर ऐतराज जताया था।

    बेटी ने कहा- शुक्रिया : ट्रम्प के नए आदेश पर बेटी इवांका ने ट्वीट किया- हमारी सरहदों पर परिवारों को अलग करने का फैसला बदलने के लिए शुक्रिया। संसद को अब ऐसा स्थायी समाधान ढूंढना चाहिए जो हमारे साझा मूल्यों के अनुरूप हो। ये समाधान उन्हीं मूल्यों पर हो, जिन्हें देखकर कई लोग अमेरिका में अपनी जिंदगी को बेहतर बनाने के लिए आते हैं।

  • पहली बार झुके ट्रम्प: अमेरिका में माता-पिता से अलग किए गए थे 2500 बच्चे, अब साथ रखने का अादेश, international news in hindi, world hindi news
    +2और स्लाइड देखें
    ट्रम्प की पत्नी मेलानिया ने कहा था कि बच्चों को उनके परिवार से अलग करने पर नफरत हो रही है। -फाइल
  • पहली बार झुके ट्रम्प: अमेरिका में माता-पिता से अलग किए गए थे 2500 बच्चे, अब साथ रखने का अादेश, international news in hindi, world hindi news
    +2और स्लाइड देखें
    अब तक 2500 से ज्याादा बच्चों को अलग किया जा चुका है। -फाइल
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From America

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×