Hindi News »International News »America» US Officials To Conduct DNA Tests To Reunite Separated Migrant Families

अमेरिका-मैक्सिको शरणार्थी विवाद: बिछड़े बच्चों को माता-पिता से मिलाने के लिए डीएनए टेस्ट की तैयारी

अमेरिकी कोर्ट के आदेश का जल्द से जल्द पालन करने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने ये फैसला किया है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jul 06, 2018, 01:25 PM IST

अमेरिका-मैक्सिको शरणार्थी विवाद: बिछड़े बच्चों को माता-पिता से मिलाने के लिए डीएनए टेस्ट की तैयारी, international news in hindi, world hindi news

वॉशिंगटन.अमेरिकी अधिकारियों ने मैक्सिको सीमा पर शरणार्थियों से अलग किए गए बच्चों को उनके परिवार से मिलाने के लिए डीएनए टेस्ट का सहारा लेगा। इसके जरिए करीब 3000 बच्चों को उनके माता-पिता से मिलाया जाएगा। अमेरिका के स्वास्थ्य मंत्री एलेक्स अजार ने कहा कि यह टेस्ट इसलिए जरूरी है ताकि कोर्ट से तय समय सीमा में ही बच्चों को उनके परिवार से मिलाया जा सके।

कोर्ट से तय तारीख के मुताबिक, 4 साल से कम उम्र के बच्चों को उनके माता-पिता से 10 जुलाई तक और 5 से 17 साल के बच्चों को 26 जुलाई तक मिलाना है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, सामाजिक कार्यकर्ताओं ने इस पर आपत्ति दर्ज कराई है। उनका कहना है कि डीएनए टेस्ट से निजता को खतरा होगा। अमेरिकी सरकार डीएनए का कुछ और कामों में इस्तेमाल कर सकती है। वहीं, आलोचकों का कहना है कि डीएनए टेस्ट के लिहाज से बच्चों की उम्र काफी कम है। स्वास्थ्य मंत्री अजार की निजी एजेंसी यहां शरणार्थी शिविर चलाती है। उसका कहना है कि हिरासत में रखे गए बच्चों में करीब 100 ऐसे हैं, जिनकी उम्र 5 साल से भी कम है।

डीएनएन से पहचान जल्द होगी : अजार के मुताबिक, आमतौर पर बच्चों के जन्म के रिकार्ड से उनकी पहचान की जाती है, लेकिन यह प्रक्रिया काफी धीमी है। इसीलिए डीएनए टेस्ट से पहचान का फैसला किया गया है। उन्होंने बताया कि 3000 से भी कम बच्चे हैं जो परिवारों से बिछड़े हैं। वे स्वास्थ्य विभाग की देखरेख में हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From America

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×