Hindi News »International News »China» China Communist Party Cabinet Shuffle Effects President Xi Jinping On India News And Updates

डोकलाम पर भारत को धमकाने वाले मंत्री को चीन ने सौंपा सीमा विवाद सुलझाने का जिम्मा

चीन की संसद ने प्रधानमंत्री ली केकियांग के सुझाव के बाद वांग यी को दी स्टेट काउंसलर की अतिरिक्त जिम्मेदारी।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Mar 19, 2018, 08:06 PM IST

  • डोकलाम पर भारत को धमकाने वाले मंत्री को चीन ने सौंपा सीमा विवाद सुलझाने का जिम्मा
    +1और स्लाइड देखें
    चीन के विदेश मंत्री हाल ही में भारत के साथ मजबूत संबंध रखने पर जोर दे चुके हैं।

    बीजिंग.चीन के विदेश मंत्री वांग यी को नए कैबिनेट गठन में स्टेट काउंसलर की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है। ये पद मिलने के बाद भारत-चीन सीमा मामलों में वांग का रोल और भी ज्यादा अहम हो गया। दरअसल, विदेश मंत्री रहने के दौरान वांग भारत को डोकलाम विवाद पर धमकी दे चुके हैं। हालांकि, कुछ ही दिन पहले उन्होंने भारत और चीन के मजबूत रिश्तों पर जोर देते हुए कहा था कि अगर दोनों देश साथ आ जाएं तो हिमालय भी हमारी दोस्ती के बीच नहीं आ सकता। चीन की सरकारी शिन्हुआ न्यूज एजेंसी के मुताबिक, चीन में ऐसा कई सालों बाद हुआ है कि किसी अधिकारी को एक साथ दो बड़े पद दिए गए हों।


    विदेश मंत्री से बड़ा है स्टेट काउंसलर का पद

    - वांग का नाम प्रधानमंत्री ली केकियांग की ओर से प्रस्तावित किया गया था। नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (चीन की संसद) ने इस प्रस्ताव पर मुहर लगाते हुए वांग को एक साथ दो पद सौंप दिए।
    - चीन में ताकतवर पद की बात की जाए तो स्टेट काउंसलर का पद विदेश मंत्री के पद से बड़ा माना जाता है। स्टेट काउंसलर की जिम्मेदारी होती है कि वो सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीपीसी) की नीतियों को ठीक ढंग से लागू करवाए।
    - वांग को ये पद 67 साल के यांग जीएची की जगह पर मिला है। जीएची को पिछले साल ही सीपीसी पोलितब्यूरो का सदस्य चुना गया था। बता दें कि पोलितब्यूरो सीपीसी की उच्च कमेटी है, जिसके अध्यक्ष खुद राष्ट्रपति शी जिनपिंग हैं।

    कौन हैं वांग?

    - वांग इससे पहले चीन के उप-विदेश मंत्री भी रह चुके हैं। इसके अलावा वो जापान में चीन के एम्बेस्डर और ताइवान अफेयर्स ऑफिस में डायरेक्टर के पद पर भी रह चुके हैं।
    - वांग अंग्रेजी और जापानी भाषा के अच्छे जानकार हैं। 2013 में यांग के हटने के बाद उन्हें विदेश मंत्रालय का कार्यभार सौंपा गया था।

    सीमा विवाद सुलझाने में निभा सकते हैं अहम भूमिका

    - स्टेट काउंसलर चुने जाने के साथ ही वांग अब भारत चीन बॉर्डर मामलों पर चीन के स्पेशल रिप्रेजेंटेटिव होंगे। भारत की तरफ से ये जिम्मेदारी नेशनल सिक्युरिटी एडवाइजर अजीत डोभाल संभालते हैं।
    - हालांकि, आधिकारियों मुताबिक, जबतक सरकार इस बात का कोई आधिकारिक नोटिफिकेशन नहीं जारी कर देती तब तक इसपर कुछ भी कहना मुश्किल है।

    लगा चुके हैं चीन में अवैध तरीके से घुसने का आरोप
    - डोकलाम में भारत और चीन की सेनाएं लगातार 73 दिन तक आमने-सामने रही थीं। भारत ने भूटान में अवैध तरीके से सड़क बनाने के लिए चीनी सेना को रोक दिया था। इसपर तब वांग ने भारत पर गलत तरीके से चीन की सीमा में घुसने का आरोप लगाया था।
    - वांग ने धमकाने के अंदाज में कहा था कि भारत कबूल चुका है कि उसने सीमा को पार किया है, इसलिए उन्हें तुरंत हमारी जमीन से वापस लौट जाना चाहिए। वर्ना इसके गंभीर नतीजे हो सकते हैं।
    - हालांकि, कुछ ही दिनों पहले वांग ने भारत और चीन संबंधों को अहमियत देते हुए कहा था कि चीनी ड्रैगन और भारतीय हाथी को लड़ना नहीं चाहिए, बल्कि साथ आकर मजबूत संबंधों पर जोर देना चाहिए। अगर दोनों देश साथ आ गए तो एक और एक दो नहीं ग्यारह हो जाएंगे।

    क्या हैं चीन भारत के बीच सीमा विवाद?
    - दरअसल, चीन और भारत के बीच 3488 किलोमीटर की लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) को लेकर विवाद हैं। जहां चीन अरुणाचल प्रदेश को दक्षिणी तिब्बत का हिस्सा बताकर अपना हक जताता है, वहीं भारत दावा करता है कि अक्साई चीन का इलाका भी उसका है, जिसे चीन ने 1962 के युद्ध में छीन लिया था।

  • डोकलाम पर भारत को धमकाने वाले मंत्री को चीन ने सौंपा सीमा विवाद सुलझाने का जिम्मा
    +1और स्लाइड देखें
    डोकलाम में भारत और चीन की सेनाएं 73 दिनों तक आमने-सामने रही थीं।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
Get the latest IPL 2018 News, check IPL 2018 Schedule, IPL Live Score & IPL Points Table. Like us on Facebook or follow us on Twitter for more IPL updates.
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए China Latest News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: China Communist Party Cabinet Shuffle Effects President Xi Jinping On India News And Updates
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From China

    Trending

    Live Hindi News

    0
    ×