Hindi News »International News »China» China Proposes Removal Of Term Limit For President For Xi Jinping

शी जिनपिंग फिर से बन सके राष्ट्रपति, इसलिए 2 बार राष्ट्रपति बनने की सीमा खत्म करेगा चीन

अक्टूबर में हर 5 साल में बैठने वाली नेशनल कांग्रेस में दूसरी बार राष्ट्रपति बनें है शी जिनपिंग।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 25, 2018, 04:19 PM IST

  • शी जिनपिंग फिर से बन सके राष्ट्रपति, इसलिए 2 बार राष्ट्रपति बनने की सीमा खत्म करेगा चीन
    +1और स्लाइड देखें

    बीजिंग. चीन में दो बार राष्ट्रपति बनने की सीमा जल्द ही खत्म हो सकती है। रविवार को देश की सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी ने इस सिलसिले में एक प्रस्ताव पेश किया है। इसमें संविधान के उस नियम को बदलने के लिए कहा गया है जिसके मुताबिक कोई भी शख्स अधिकतम सिर्फ दो बार ही प्रेसिडेंट रह सकता है। पिछले साल कम्युनिस्ट पार्टी ने नेशनल कांग्रेस की बैठक में शी जिनपिंग को दूसरी बार राष्ट्रपति चुना गया था। अगर चीन के संविधान में बदलाव किया जाता है तो जिनपिंग पहले राष्ट्रपति होंगे जिन्हें 2 बार से ज्यादा राष्ट्रपति बनने का मौका मिलेगा।

    CPC सेंट्रल कमेटी ने रखा प्रस्ताव

    - चीन की न्यूज एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक, इसको लेकर पार्टी की सेंट्रल कमेटी ने संसद में प्रस्ताव दिया है। इस प्रस्ताव के तहत उपराष्ट्रपति भी दो कार्यकाल से ज्यादा समय तक पद पर रह सकते हैं।
    - शिन्हुआ ने लिखा, “कम्युनिस्ट पार्टी की सेंट्रल कमेटी ने संविधान से उस नियम को हटाने का प्रस्ताव रखा है जिसमें कहा गया है कि राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति लगातार दो बार से ज्यादा पद पर नहीं रह सकते।”
    - शिन्हुआ की एक और रिपोर्ट के मुताबिक, सेंट्रल कमेटी ने ‘समाजवाद और चीन के नए युग की विशेषता’ पर दिए गए जिनपिंग के विचारों को संविधान में शामिल करने का प्रस्ताव भी संसद में रखा गया है।
    - चीन के संविधान को बदलने के लिए संसद की सहमति जरूरी होगी। माना जा रहा है कि इन प्रस्तावों में बिल्कुल भी रुकावट नहीं आएगी, क्योंकि संसद के सभी मेंबर्स पार्टी के वफादार हैं।

    पार्टी और मिलिट्री चीफ कार्यकाल की नहीं है सीमा

    - चीन में पार्टी और मिलिट्री चीफ बने रहने की कोई सीमा नहीं है। हालांकि, अधिकतम 10 साल इन पदों पर रहना आदर्श सीमा मानी जाती है।

    तीसरी बार भी राष्ट्रपति बने रहना चाहते हैं जिनपिंग

    - ऐसा माना जाता है कि शी अपने 2 कार्यकाल (10 साल) के बाद भी देश के राष्ट्रपति बनें रहना चाहते हैं।
    - पिछले साल अक्टूबर में जिनपिंग के खास 69 साल के वांग किशान ने पार्टी की स्टैंडिंग कमेटी से इस्तीफा दे दिया था। चीन में 70 साल की उम्र के बाद अधिकारी अपने पद पर नहीं रह सकते।
    - हालांकि, इस्तीफा देने के बाद इसी साल उन्हें संसद प्रतिनिधि बनाया गया। सूत्रों के मुताबिक, चीन की लीडरशिप उन्हें उपराष्ट्रपति बनाना चाहती है।
    - अगर 70 साल की उम्र के बाद भी वांग ने अपने प्रतिनिधि पद से इस्तीफा नहीं दिया तो शी जिनपिंग को दो बार से ज्यादा राष्ट्रपति बनना तय हो जाएगा।
    - चीन में पार्टी अध्यक्ष का रोल राष्ट्रपति से भी ज्यादा बड़ा माना जाता है और जिनपिंग को पार्टी में जल्द ही वो स्थान दिया जा सकता है। जिससे राष्ट्रपति पद से हटने के बाद भी वो चीन के सबसे ताकतवर शख्स बने रह सकते हैं।

  • शी जिनपिंग फिर से बन सके राष्ट्रपति, इसलिए 2 बार राष्ट्रपति बनने की सीमा खत्म करेगा चीन
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From China

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×