Hindi News »International News »China» Xi Jinpin Re Appointed As President Of China, Could Be Challenging For India

दोबारा चीन के राष्ट्रपति बने जिनपिंग, भारत के लिए अच्छे नहीं हैं संकेत

राष्ट्रपति शी जिनपिंग आजीवन काल के लिए राष्ट्रपति बन गए हैं, ऐसे में ये भारत के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 17, 2018, 10:20 AM IST

  • दोबारा चीन के राष्ट्रपति बने जिनपिंग, भारत के लिए अच्छे नहीं हैं संकेत
    +2और स्लाइड देखें
    चीन के राष्ट्रपति जिनपिंग (बाएं) और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। फाइल

    चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग आजीवन काल के लिए राष्ट्रपति बन गए हैं, ऐसे में ये भारत के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं। एक्सपर्ट्स की मानें तो दोकलम विवाद के बाद जिनपिंग की महत्वाकांक्षी बेल्ट एंड रोड पहल (बीआरआई) भारत के साथ चीन के संबंधों में बड़ी चुनौती बन सकती है। 2013 में सत्ता में आए शी जिनपिंग की बीआरआई पहल अरबों-खरब डॉलर की योजना है जो भारत-चीन संबंधों के लिए एक बड़ी रुकावट है। इसमें चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) भी शामिल है। भारत इसके विरोध में है क्योंकि यह परियोजना पाक अधिकृत कश्मीर से होकर गुजरता है। भारत ने किया था विरोध...

    - भारत ने बीते साल चीन द्वारा आयोजित बेल्ट एंड रोड फोरम का भी बहिष्कार किया था। चीन के प्रभाव को पूरी दुनिया में फैलाने के लिए सड़क, बंदरगाह और रेल नेटवर्क बिछाने के मकसद से बीआरआई की शुरुआत की गई थी। माना जा रहा है कि शी इस पहल पर जोर दे सकते हैं।

    - चीन में नेशनल पीपुल्स कांग्रेस द्वारा शी के कार्यकाल को आगे बढ़ाने का फैसला तब लिया है जब सीपीईसी और 73 दिनों तक चले दोकलम विवाद के बाद भारत-चीन दोबारा अपने रिश्ते ठीक करने की तरफ बढ़ रहे हैं।

    दोनों देशों के बीच भरोसे की कमी
    रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण अगले माह चीन यात्रा पर जाएंगी, जिसे अधिकारी दोनों देशों के रिश्ते सुधारने की दिशा में विश्व बिरादरी के लिए सख्त संदेश मान रहे हैं। चीनी थिंकटेंक हू शिशेंग ने कहा है कि दोनों देशों को लचीला रुख अपनाना होगा। चाइना इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज के उपाध्यक्ष रांग यिंग ने कहा कि दोनों को भरोसे की कमी दूर करना चाहिए।

  • दोबारा चीन के राष्ट्रपति बने जिनपिंग, भारत के लिए अच्छे नहीं हैं संकेत
    +2और स्लाइड देखें
  • दोबारा चीन के राष्ट्रपति बने जिनपिंग, भारत के लिए अच्छे नहीं हैं संकेत
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From China

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×