--Advertisement--

मिस्र: चिड़ियाघर में पर्यटक बढ़ाने के लिए गधे को जेब्रा जैसा पेंट किया, बड़े कान देखकर लोगों ने मजाक उड़ाया

मिस्र के एक और चिड़ियाघर ने 2009 में दो जेब्रा की मौत की बात छिपाने के लिए ऐसा ही किया था

Danik Bhaskar | Jul 31, 2018, 08:27 PM IST
पेंट किए गए गधे का फोटो सोशल मी पेंट किए गए गधे का फोटो सोशल मी

- सोशल मीडिया पर एक छात्र ने पोस्ट किए गधे के फोटो

- मीडिया ने भी चिड़ियाघर प्रशासन का मजाक उड़ाया

काहिरा. मिस्र की राजधानी काहिरा में एक चिड़ियाघर में कर्मचारियों ने पर्यटकों की संख्या बढ़ाने के लिए गधे पर पेंट करके काली-सफेद धारियां बना दीं, ताकि लोग उसे जेब्रा समझें। हालांकि, एक छात्र ने यह चालाकी पकड़ ली और उसने गधे की फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दीं। इसके बाद लोग चिड़ियाघर प्रशासन का मखौल उड़ा रहे हैं।

दरअसल, काहिरा में रहने वाले महमूद-ए-सराहनी 21 जुलाई को इंटरनेशनल गार्डन पार्क गए थे। यहां उन्होंने काले-सफेद धारियों वाला एक जानवर देखा, जिसे ज्यादातर लोग जेब्रा समझ रहे थे। उसके बड़े कान और हरकतें देखकर उन्हें शक हुआ। ध्यान से देखने पर उन्हें समझ आ गया कि गधे पर जेब्रा जैसा पेंट किया है। उन्होंने इसकी एक फोटो फेसबुक पर डाल दी, जो वायरल हो गई।

चिड़ियाघर प्रशासन पर लोगों ने तंज कसे : फेसबुक पर जॉन बैंक्स ने लिखा, "यह काफी आश्चर्यजनक है। यह चिड़ियाघर उत्तरी अफ्रीका में है और उन्हें जेब्रा नहीं मिल रहा है। ये तो वहां खुलेआम घूमते रहते हैं।" एरिक एडवर्ड कहते हैं, "अगर लोग गधे को जेब्रा समझ रहे हैं तो इसमें गलत क्या है? चिड़ियाघर प्रशासन की कलात्मकता को धन्यवाद।" बिल थॉम्पसन ने लिखा, "मैं बचपन में जॉर्जिया में रहता था। हमारे पास घोड़े और गधे दोनों थे। यह एक गधा है। चिड़ियाघर ने इस पर सही तरीके से पेंट ही नहीं किया।"

पार्क प्रशासन गलती मानने को तैयार नहीं : पशुओं के डॉक्टरों ने भी उस जानवर के गधा होने की पुष्टि की, लेकिन पार्क के निदेशक मोहम्मद सुल्तान गलती मानने को तैयार नहीं हैं। उनका कहना है कि जानवर से कोई छेड़छाड़ नहीं की गई।

मिस्र का एक और चिड़ियाघर ऐसा कर चुका है : मिस्र के एक और चिड़ियाघर में 2009 में दो गधों को पेंट करके जेब्रा का रूप दिया था। दरअसल, यहां भूख से दो जेब्रा की की मौत हो गई थी और प्रशासन अपनी लापरवाही छिपाना चाहता था।