• Home
  • International
  • 11 babies have died after their mothers were given viagra as part of a medical trial in netherlands
--Advertisement--

नीदरलैंड में भ्रूण की बेहतरी के लिए महिलाओं को दी गई वियाग्रा, जन्म के बाद 11 बच्चों की मौत

देश के 10 अस्पतालों में 93 महिलाओं को वियाग्रा दी गई थी

Danik Bhaskar | Jul 25, 2018, 08:36 PM IST
नीदरलैंड सरकार ने मामले की जां नीदरलैंड सरकार ने मामले की जां

यूके में भी गर्भवती महिलाओं को दी गई थी वियाग्रा लेकिन खतरे की बात नहीं कही गई

फिलहाल कनाडा में रोका गया टेस्ट


एम्सटर्डम. नीदरलैंड में गर्भवती महिलाओं को मेडिकल जांच के दौरान वियाग्रा (उत्तेजक दवा) दी गई थी। 17 बच्चों के फेफड़े में हाई ब्लड प्रेशर और ऑक्सीजन की कमी पाई गई थी। इसके चलते 11 बच्चों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि देश के 10 अस्पतालों में कुल 93 महिलाओं को वियाग्रा दी गई थी। डॉक्टरों ने कहा था कि उनके गर्भ में पल रहे बच्चे के शारीरिक विकास के लिए दवा दिया जाना ठीक रहेगा। उधर, 10-15 अन्य महिलाओं के गर्भ में पल रहे बच्चे को नुकसान हो सकता है, लिहाजा उन्हें निगरानी में रखा गया है। वियाग्रा देने का ट्रायल बंद कर दिया गया है।

गर्भवती महिलाओं को वियाग्रा देने का ट्रायल कनाडा में भी होना था लेकिन इसे स्थगित कर दिया गया है। ब्रिटेन में भी गर्भवती महिलाओं को वियाग्रा दी गई थी। नतीजे में महिलाओं को किसी तरह का फायदा न होने की बात कही गई। हालांकि किसी तरह के खतरे की बात से इनकार किया गया था।

सरकार ने गलती मानी: सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि जिन महिलाओं के गर्भ में पल रहे भ्रूण में कम वृद्धि दिख रही थी, उन्हें वियाग्रा की डोज दी गई। इस बात की आशंका है कि वियाग्रा दिए जाने के बाद बच्चे के फेफड़े की हालत खराब हो गई हो। इसी के चलते जन्म के कुछ देर बाद बच्चों की मौत हो गई। जिन डॉक्टरों ने गर्भवती महिलाओं को दवा दी, उन्हें पहले किए गए अध्ययन के बारे में भी जानकारी थी। मामले की जांच कराई जा रही है।