--Advertisement--

ट्रम्प की टीम से विदेश मंत्री टिलरसन बाहर, उनकी जगह सीआईए के डायरेक्टर को दी जिम्मेदारी

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को अपनी टीम में फेरबदल किया।

Danik Bhaskar | Mar 13, 2018, 06:35 PM IST
प्रेसिडेंट ट्रम्प ने मंगलवार प्रेसिडेंट ट्रम्प ने मंगलवार

वॉशिंगटन. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को अपनी टीम में फेरबदल किया। उन्होंने सीआईए डायरेक्टर माइक पोम्पियो को नया विदेश मंत्री बनाया है। पहले रेक्स टिलरसन यह कामकाज देख रहे थे। साथ ही जिना हेस्पल सीआईए की नई डायरेक्टर होंगी। अमेरिका में पहली बार किसी महिला को खुफिया एजेंसी का जिम्मा सौंपा गया है। उन पर संदिग्धों को गैर-जायज तरीकों से टॉर्चर करने के आरोप लग चुके हैं। ट्रम्प ने ट्वीट में पोम्पियो की तारीफ की और टिलरसन के काम के लिए उन्हें धन्यवाद कहा।

क्यों हटाए गए टिलरसन?

- ब्रिटिश न्यूज एजेंसी ने व्हाईट हाउस के एक सीनियर अफसर के हवाले से बताया कि ट्रम्प नॉर्थ कोरिया से बातचीत शुरू करने से पहले नई टीम चाहते हैं, जो आने वाले वक्त में व्यापार समझौतों को भी निपटा सके।
- बता दें कि पिछले हफ्ते ट्रम्प ने नॉर्थ कोरिया की ओर से भेजे गए बातचीत के न्योते को स्वीकार कर लिया था। उस वक्त टिलरसन ने कहा था कि उन्हें ऐसे किसी भी समझौते की जानकारी नहीं है। तभी से अंदाजा लगाया जा रहा था कि ट्रम्प और उनके विदेश मंत्री के बीच कुछ ठीक नहीं है।
- अक्टूबर, 2017 में भी कयास लगाए जा रहे थे कि ट्रम्प टिलरसन को हटाने वाले हैं। हालांकि, तब टिलरसन ने खुद प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर इन अटकलों को गलत बताया था।

रूस के खिलाफ ब्रिटेन का समर्थन किया था

- हाल ही में ब्रिटेन ने आरोप लगाया था कि रूस ने यूके स्थित अपने एक पूर्व जासूस को जहर देकर मारने की कोशिश की। इसपर टिलरसन ने भी ब्रिटेन सरकार का समर्थन किया था। टिलरसन ने कहा था कि ये भड़काऊ हरकत साफ तौर पर रूस का काम है और इसके गंभीर नतीजे होंगे।
- जबकि, व्हाईट हाउस पहले ही इस मामले में रूस पर सवाल उठाने से इनकार कर चुका था।

कौन हैं पहली महिला सीआईए चीफ?

- जिना हेस्पल 2002 में थाईलैंड में सीआईए की बदनाम ‘ब्लैक साइट’ चलाती थीं। वहां अलकायदा के संदिग्ध आतंकी अबु जुबैदा और अल नशीरी को रखा गया था। वहां पूछताछ के दौरान इन दोनों समेत बाकी आतंकियों को जमकर टॉर्चर किया जाता था।

- जुबैदा के चेहरे पर 83 बार पानी डाला गया। उसके फेफड़ों में पानी भर गया और उसकी एक आंख की रोशनी चली गई। जिना सीआईए के उन अफसरों में शामिल रहीं जिन पर सीनेट की इंटेलिजेंस कमेटी की रिपोर्ट में संदिग्धों को गैर-जायज तरीकों से टॉर्चर करने के आरोप लगे थे।

सीईओ से विदेश मंत्री तक का सफर

- टिलरसन ने एक्सॉन में 1975 में प्रोडक्शन मैनेजर के तौर पर काम शुरू किया था। 2006 में वे कंपनी के सीईओ बन गए। एक्सॉन दुनिया की सबसे बड़ी पब्लिकली ट्रेडेड ऑयल-गैस कंपनी है।
- अमेरिका का प्रेसिडेंट बनने के बाद ट्रम्प ने एक्सॉन मोबिल कॉर्पोरेशन के चेयरमैन और सीईओ रेक्स टिलरसन को अपनी कैबिनेट में विदेश मंत्री चुना था। कहा जाता है कि इस पद पर नियुक्ति के वक्त टिलरसन को विदेश नीति का कोई अनुभव नहीं था।
- हालांकि, उनके रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से करीबी संबंध माने जाते हैं। पुतिन ने 2012 में उन्हें ऑर्डर ऑफ फ्रेंडशिप अवॉर्ड दिया था। टिलरसन पूरे यूरेशिया और मिडिल ईस्ट में अपनी कंपनी की तरफ से कई अहम डील्स को अंजाम दे चुके हैं।