Hindi News »International News »International» War Like Situation Between Us And Turkey In Syria

पहली बार दो नाटो देश आमने-सामने, सीरिया में अमेरिका और तुर्की के बीच जंग जैसे हालात

ट्रम्प ने तुर्की को धमकी दी है। वे प्रेसिडेंट बनने के 1 साल के भीतर 14 देशों के राष्ट्राध्यक्षों को धमका चुके हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 26, 2018, 09:15 AM IST

  • पहली बार दो नाटो देश आमने-सामने, सीरिया में अमेरिका और तुर्की के बीच जंग जैसे हालात, international news in hindi, world hindi news
    +2और स्लाइड देखें
    तुर्की सेना टैंक लेकर कुर्दों के अाफरीन शहर में घुस गई है। इस संघर्ष में करीब 300 लोग मारे गए हैं।

    दमिश्क/वॉशिंगटन. सीरियाई शहर मजबिस में अमेरिकी और तुर्क सेना आमने-सामने आ गई है। ऐसा पहली बार है जब अमेरिका के अगुआई वाले नाटो के मेंबर देशों की सेनाओं के बीच सीधी जंग जैसी स्थिति पैदा हो गई है। दरअसल तुर्की ने 5 दिन से उत्तरी सीरियाई इलाकों में रह रहे कुर्द लड़ाकों के सफाए का ऑपेशन चला रखा है। तुर्की सेना टैंक लेकर कुर्दों के अाफरीन शहर में घुस गई है। इस संघर्ष में करीब 300 लोग मारे गए हैं। अब तुर्की सेना मजबिस शहर की तरफ मूव कर गई है। यहां 2500 अमेरिकी सैनिक और रणनीतिकार कुर्दों को सैन्य ट्रेनिंग देते हैं और हथियार मुहैया कराते हैं।

    ट्रम्प ने तुर्की को वॉर्निंग तक दी

    - डोनाल्ड ट्रम्प ने तुर्की के राष्ट्रपति रीसेप तैयप एर्दोगन को वॉर्निंग तक डे डाली।

    - व्हाइट हाउस के मुताबिक ट्रम्प ने कहा कि इस क्षेत्र में आप ऐसे हालात पैदा न करें कि अमेरिकी और तुर्की सेना आमने-सामने आ जाए।
    - उधर तुर्की का आरोप है कि व्हाइट हाउस ने झूठ बोला। ट्रम्प ने वॉर रोकने की कोई बात नहीं की
    - एर्दोगन ने कहा कि हमारी सेना मजबिस शहर की ओर बढ़ गई है, हम कुर्दों को खदेड़ देंगे।
    - बता दें कि ट्रम्प प्रेसिडेंट बनने के 1 साल के भीतर 14 देशों के राष्ट्राध्यक्षों को धमका चुके हैं।
    - कुर्द लड़ाकों द्वारा तुर्की पर किए गए मिसाइल हमले में मस्जिद को नुकसान पहुंचा, दो लोग मारे गए।

    कुर्द, सीरिया में अमेरिका के सबसे बड़े मित्र, असद के खिलाफ खोला है मोर्चा

    - दरअसल तुर्की, कुर्द लड़ाकों को आतंकी मानता है। एर्दोगन का कहना है कि बीते कई दशकों से कुर्द लड़ाके तुर्की में अशांति फैला रहे हैं। उनके सताए सीरियाई लोगों ने भागकर हमारे यहां शरण ले रखी हैं।
    - सीरिया में कुर्द अमेरिका के सबसे बड़े सहयोगी हैं। इन्होंने सीरियाई प्रेसिडेंट बशर अल असद और आईएस के खिलाफ मोर्चा खोल रखाहै। इसीलिए ट्रम्प ने तुर्की को चेतावनी दी है।

    सीरिया में कुर्दों के गढ़ अाफरीन शहर में तुर्की के टैंक

    सीरियाई के अाफरीन को कुर्दों का शहर माना जाता है। यहां तुर्की के टैंक घुस चुके हैं।
    - तुर्की चाहता है कि सीरिया से सटी उसकी सीमा पर कुर्द गुट सक्रिय न रहे। यही वजह है कि उसने ऑपरेशन ओलिवर ब्रांच लांच किया है।

  • पहली बार दो नाटो देश आमने-सामने, सीरिया में अमेरिका और तुर्की के बीच जंग जैसे हालात, international news in hindi, world hindi news
    +2और स्लाइड देखें
    सीरिया के आफरीन शहर पर कुर्दों का कब्जा है। तुर्की कुर्दों को आतंकी मानता है। तुर्की ने आफरीन में सैन्य कार्रवाई की, जिसमें कई लोग मारे गए।
  • पहली बार दो नाटो देश आमने-सामने, सीरिया में अमेरिका और तुर्की के बीच जंग जैसे हालात, international news in hindi, world hindi news
    +2और स्लाइड देखें
    ट्रम्प ने तुर्की के प्रेसिडेंट रीसेप तैयप एर्दोगन को धमकी तक दे डाली।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए International News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: War Like Situation Between Us And Turkey In Syria
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From International

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×