Hindi News »International News »International» Afghanistan In Corridor That Runs Through PoK

चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर में अफगानिस्तान भी होगा शामिल

भारत सीपीईसी का विरोध कर रहा है, क्योंकि इसके तहत पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में निर्माण प्रस्तावित है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 26, 2017, 08:43 PM IST

  • चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर में अफगानिस्तान भी होगा शामिल, international news in hindi, world hindi news
    +1और स्लाइड देखें
    बाएं से... अफगानिस्तान के सलाहुद्दीन रब्बानी, चीन के वांग ई और पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ।

    बीजिंग.चीन दौरे पर बीजिंग पहुंचे अफगानिस्तान के विदेश मंत्री सलाहुद्दीन रब्बानी ने कहा है कि उनका देश चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर (सीपीईसी) में शामिल होगा। रब्बानी ने कहा कि अफगानिस्तान बेल्ट एंड रोड प्रोजेक्ट में सक्रिय रूप से शामिल होने और चीन से सहयोग बढ़ाने को तैयार है। रब्बानी ने चीन के विदेश मंत्री वांग यी और पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ से मंगलवार को मुलाकात के बाद यह बात कही। बीजिंग ने पहले ही इस प्रोजेक्ट में अन्य देशों को साझीदार बनने का प्रस्ताव दिया है।

    - भारत सीपीईसी का विरोध कर रहा है, क्योंकि इसके तहत पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के बड़े हिस्से में निर्माण प्रस्तावित है।
    - भारत का मानना है कि यह कश्मीर के बड़े हिस्से में हाईवे और अन्य निर्माण भारत के भौगोलिक क्षेत्र में दखल है।
    - बैठक के बाद चीनी विदेश मंत्री वांग ने कहा कि आर्थिक कॉरिडोर परियोजना से पूरे क्षेत्र का फायदा हो सकता है और इससे विकास का ढांचा तैयार होगा।
    - चीनी विदेश मंत्री ने कहा है कि अफगानिस्तान में विकास करने की तत्काल जरूरत है और उम्मीद है कि वह इस परियोजना में शामिल हो सकता है।
    - उन्होंने कहा कि चीन और पाकिस्तान की इच्छा है कि अफगानिस्तान इस परियोजना में शामिल हो क्योंकि यह सबके लिए लाभ की स्थिति है।
    - वांग के मुताबिक अफगानिस्तान को शामिल करने के लिए तीनों देशों के बीच आम सहमति कायम की जा सकती है।

    आतंक पर भी करार
    चीन, पाकिस्तान और अफगानिस्तान में इस बात पर सहमति बनी है कि वह आतंकियों को पनाह नहीं देंगे। न ही अपने देश से आतंकवादी गतिविधियों की इजाजत देंगे। तीनों देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक में सहमति बनी कि आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। इन विदेश मंत्रियों ने त्रिपक्षीय, सुरक्षा मुद्दों पर चर्चा की। तीनों देशों ने आतंकवाद को रोकने के लिए भी मिजजुलकर कोशिश करने की बात कही।

  • चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर में अफगानिस्तान भी होगा शामिल, international news in hindi, world hindi news
    +1और स्लाइड देखें
    भारत सीपीईसी का विरोध कर रहा है, क्योंकि इसके तहत पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में निर्माण प्रस्तावित है।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए International News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Afghanistan In Corridor That Runs Through PoK
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From International

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×