--Advertisement--

???? ??? ??? ???? ???? ???, ?????? ?? ?? ????????? ???????, ????? PHOTOS

????? ???????? ????? ??? ???? ??? ????? ?? ??? ??? ??, ????? ?? ?? ????? ???????? ???

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 03:17 PM IST
नागोया सिटी साइंस म्युजियम। नागोया सिटी साइंस म्युजियम।

इंटरनेशनल डेस्क. चीन ने टूरिस्टों के लिए अब लॉउडियन राज्य की होंगशुई नदी पर 5 किलोमीटर लंबा दुनिया का सबसे लंबा फ्लोटिंग पाथ बनाया है। इसे दो लाख 22 हजार से ज्यादा फाइबर के तैरते बीम पर बनाया गया है। हालांकि, दुनिया के लिए यह पहला अजूबा नहीं है, क्योंकि आज के दौर में तकनीक इतनी आगे पहुंच गई है कि कुछ भी नामुमकिन नहीं लगता। दुनिया भर में कई ऐसे अजीबोगरीब प्रोजेक्ट्स से लेकर बिल्डिंग हैं, जिनके आर्किटेक्चर ने विज्ञान के नियमों को भी पीछे छोड़ दिया है।

नागोया सिटी साइंस म्युजियम
जापान की नागोया सिटी में बनी यह अनोखी बिल्डिंग देखने में किसी बॉल सरीखी ही नजर आती है, लेकिन यह एक साइंस म्युजियम है। इसके निर्माण में करीब 7 साल का समय लगा और इसे 2012 में आम लोगों के लिए खोला गया। साइंस से जुड़ी हैरतअंगेज बातों को जानने के लिए यह बच्चों की सबसे पसंदीदा जगहों में से एक है।


आगे की स्लाइड्स में पढ़ें, दुनिया के कुछ ऐसे ही अजीबोगरीब इंफ्रास्ट्रक्टर के बारे में...

टॉवर ऑफ पीसा
संयुक्त अरब अमीरात के अबूधाबी में बनी इस बिल्डिंग को ‘टॉवर ऑफ पीसा’ भी कहा जाता है। 35 मंजिला की इमारत की ऊंचाई 160 मीटर है। ये झुकावदार इमारत शहर की सबसे ऊंची बिल्डिंग है और 18 डिग्री पश्चिम की ओर झुकी हुई है। इसे इस तरह खड़ा रखने का रहस्य यह है कि यह जमीन के नीचे कम से कम 20-30 मीटर की गहराई से खड़ी हुई है।

सनराइज केंपिन्स्की होटल
होटल इंडस्ट्री को एक नया रूप देने के लिए चीन ने सबसे अनोखा प्रयोग किया। बीजिंग से करीब 60 किमी दूर स्थित एक झील किनारे बनी यह बिल्डिंग को ऐसा आकार दिया गया है कि सुबह सूर्य की पहली किरणों इस पर पड़ते ही इसकी चमक दोगुनी हो जाती है। 18,075 स्क्वेयर मीटर जगम पर बनी इस  होटल के बाहरी इंटीरियर पर करीब 10,000 ग्लास पैनल्स लगे हुए हैं।

वालेंसिया कॉम्प्लेक्स
स्पेन की वालेंसिया सिटी में बना यह कॉम्प्लेक्स पहली नजर में नदी में ऊपर आती हुई किसी गेंद की तरह नजर आता है। अद्भुत आर्किटेक्चर में ये कॉम्प्लेक्स एक बेहतरीन उदाहरण है। इसे 1996 में वालेंसिया के ही फेमस आर्किटेक्ट सांटियागो कैलेट्रोवा ने डिजाइन किया था। इस कॉम्पलेक्स में सिनेमा, म्युजियम, एक्वेरियम हॉल, लायब्रेरी, शॉपिंग मॉल सहित बहुत कुछ है।

इन्फिनिटी टॉवर
इन्फिनिटी टॉवर दुनिया की सबसे ऊंची इमारतों में से एक है। इसकी घुमावदार बनावट ही इसकी खासियत है। बताया जाता है कि 90 डिग्री के घुमाव पर बनी हुई है। इस घुमावदार इमारत की खासियत ये हे कि इसके अंदर आपको पिलर नहीं दिखाई देंगे। 80 मंजिला इस इमारत की ऊंचाई 306 मीटर है। बिल्डिंग का निर्माण कार्य 2006 में शुरू होकर 2013 में पूरा हुआ।