Hindi News »International News »International» Images Show The Rohingya Muslims Crisis In Myanmar

साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश

म्यांमार में भड़की हिंसा के बाद से अब तक करीब साढ़े 6 लाख रोहिंग्या मुस्लिम बांग्लादेश पहुंच चुके हैं।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 18, 2017, 05:02 PM IST

  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
    म्यांमार से भागकर बांग्लादेश पहुंचे रोहिंग्या मुस्लिम।

    इंटरनेशनल डेस्क. बीते अगस्त म्यांमार के रखाइन प्रांत में भड़की हिंसा के बाद से अब तक करीब साढ़े 6 लाख रोहिंग्या मुस्लिम जान बचाकर बांग्लादेश पहुंच चुके हैं। डॉक्टर्स विदाउट बॉर्डर्स (एमएसएफ) की रिपोर्ट के मुताबिक, अगस्त महीने में म्यांमार के रखाइन प्रांत में हिंसा शुरू हुई और इसके बाद दूसरे महीने में ही 6,700 रोहिंग्या मुस्लिम मारे गए। एमएसएफ़ के अनुसार अगस्त से अबतक साढ़े छह लाख रोहिंग्या मुसलमान भागकर बांग्लादेश आ चुके हैं, जो इस साल का सबसे बड़ा माइग्रेंट है। बांग्लादेश के कॉक्स बाजार में सबसे ज्यादा रिफ्यूजी...

    - बांग्लादेश के कॉक्स बाजार के दो शरणार्थी शिविरों में 25 अगस्त से पूर्व 34 हजार रोहिंग्या मुस्लिम रह रहे थे, लेकिन अब इनकी संख्या करीब 4 लाख 36 पर पहुंच चुकी है।
    - वहां पर लोगों के रहने के लिए जमीन और छतें तक कम पड़ गई हैं। आने वाले शरणार्थियों में बड़ी संख्या महिलाओं की है।
    - इनमें बहुत सारी महिलाएं नवजात बच्चों के साथ आई हैं, जो भूखे और कमजोर हैं।
    - रोजाना 4 से 5 हजार रोहिंग्या बॉर्डर क्रास कर म्यांमार से बांग्लादेश आ रहे हैं।
    - यूनिसेफ के मुताबिक 10 रोहिंग्या में से 6 बच्चे हैं। 1.5 लाख बच्चों को टीका लगेगा।
    - बांग्लादेश में 18,523 रोहिंग्या महिलाएं प्रेग्नेंट हैं। 42,000 बच्चे अस्वस्थ हैं।
    - इनमें बहुत सारी महिलाएं नवजात बच्चों के साथ आई हैं, जो भूखे और कमजोर हैं।


    पुलिस की पोस्ट पर हमला किया था रोहिंग्या लड़ाकों ने
    - रखाइन में ताज़ा तनाव 25 अगस्त को शुरू हुआ जब रोहिंग्या लड़ाकों ने कथित तौर पर पुलिस की एक पोस्ट पर हमला किया जिसके जवाब में सैन्य कार्रवाई हुई।
    - कार्रवाई का असर ये हुआ कि रोहिंग्या मुसलमानों ने देश छोड़कर बांग्लादेश का रुख करना शुरू कर दिया।
    - पलायन करने वालों ने इसकी वजह सेना की कार्रवाई और रखाइन के बौद्धों का उनके गांवों पर आक्रमण बताई, जिसके डर से वे गांव छोड़ने पर मजबूर हुए।
    - हालांकि, इस बारे में सेना का कहना है कि रोहिंग्या लड़ाके उन पर हमले कर रहे हैं और वो उसके खिलाफ लड़ाई कर रहे हैं।
    - वहीं, म्यांमार का कहना है कि पिछले साल अक्टूबर में पुलिस और सेना पर हुए आतंकवादी हमले के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है।
    - म्यांमार के अधिकारियों का कहना है कि रोहिंग्या मुस्लिमों ने दूसरे धर्मों के कई अनुयायियों की हत्या की और उनके घरों को जला दिया है। इसी बात से स्थानीय लोग भड़के हुए हैं।


    आगे की स्लाइड्स में देखें PHOTOS...

  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
  • साल का सबसे बड़ा माइग्रेशन, इस वजह से 6 लाख लोगों को छोड़ना पड़ा देश, international news in hindi, world hindi news
    +17और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From International

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×