--Advertisement--

यहां बर्फीले तूफान ने मचाई ऐसी तबाही, PHOTOS दिख रहे है हालात

सबसे ठंडी जगहों में ओमाहा और नेब्रास्का रहे, जहां पारा माइनस 35 डिग्री नीचे रहा। ये 1884 के बाद सबसे कम टेम्प्रेचर है।

Danik Bhaskar | Jan 05, 2018, 04:38 PM IST
बोस्टन में बर्फीले बाढ़ के पानी में डूबी कार। बोस्टन में बर्फीले बाढ़ के पानी में डूबी कार।

न्यूयॉर्क. अमेरिका में बर्फीले तूफान बॉम्ब साइक्लोन ने तबाही मचा रखी है। पूरे नॉर्थ ईस्ट अमेरिका में बर्फ की चादर सी बिछ गई है। न्यूयॉर्क के कई हिस्सों में 8 इंच तक बर्फ जम गई है। बोस्टन ने सबसे खतरनाक बाढ़ का सामना किया है। यहां बाढ़ का बर्फीला पानी 15.1 फीट ऊपर तक बह रहा है। वहीं 120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। अमेरिका में 5000 से ज्यादा फ्लाइट्स को कैंसिल कर दिया गया है। वहीं, कनाडा का नियाग्रा फॉल जम गया है। 133 साल में सबसे ज्यादा सर्दी...

- जनवरी के पहले हफ्ते में बर्फबारी का 30 साल का रिकॉर्ड टूट गया है, जबकि 133 साल में सबसे ज्यादा सर्दी पड़ रही है। यहां 30 शहरों में पारा माइनस 6 से नीचे है।
- यहां सबसे ठंडी जगहों में ओमाहा और नेब्रास्का रहे, जहां पारा माइनस 35 डिग्री नीचे रहा। ये 1884 के बाद सबसे कम टेम्प्रेचर है।
- न्यूयॉर्क शहर में 8 इंच की बर्फबारी के बाद स्कूल बंद कर दिए गए हैं। यहां बर्फ काटने के लिए 2200 मशीनें तैनात की गई हैं और इस काम में 3000 लोग लगाए गए हैं।
- इसके अलावा फ्लोरिडा, जॉर्जिया और एससी में बुधवार से ही लगातार बर्फ हटाने का काम जारी है।
- फ्लोरिडा में 30 साल में पहली बार बर्फ गिरी। कैरोलिना में बर्फ को पिघलाने के लिए 17 हजार टन नमक छिड़का गया है।
- बोस्टन में भयानक बाढ़ के हालात हैं। यहां 1978 के जैसे हालात हैं। 15.1 फीट तक बर्फीला पानी भर गया है।
- ऐसे मौसम के चलते 5000 से ज्यादा फ्लाइट्स कैंसिल हैं। जेकेएफ एयरपोर्ट को शुक्रवार सुबह तक बंद कर दिया गया है।
- न्यूयॉर्क के अलावा न्यूजर्सी, बोस्टन और रीजन के बाकी इलाकों में भी स्कूल बंद कर दिए गए हैं। यहां का न्यू इंग्लैंड रीजन मार्स से भी ज्यादा ठंडा है।
- गुरुवार को न्यूयॉर्क गर्वनर एंड्र्यू क्योमो ने कई काउंटीज में स्टेट ऑफ इमरजेंसी का एलान कर दिया है। इनमें पेन्सिलवेनिया, बोस्टन, फ्लोरिडा, नॉर्थ कैरोलिना और वर्जीनिया शामिल हैं।

बर्फ पिघलाने के लिए नमक का छिड़काव
अमेरिका के साउथ कैरोलिना में सड़कों पर पड़ी बर्फ को पिघलाने के लिए 17 हजार टन नमक का छिड़काव किया गया है। इतनी नमक 3.4 हजार करोड़ किलो बर्फ पिघला सकती है। नमक बर्फ की फिसलन को भी कम कर देता है। इससे गाड़ियां आसानी से चलती हैं। सड़क हादसे कम होते हैं।

दो कैटेगरी के तूफान जितना शक्तिशाली
बॉम्ब साइक्लोन या बॉम्बोजेनिसिस एक टेक्निकल टर्म है। जब बायोमीट्रिक प्रेशर 24 घंटे के भीतर 24 मिलीबार्स से कम हो जाता है, तो ऐसी स्थिति में बॉम्ब साइक्लोन आता है। यह तूफान को और शक्तिशाली बना देता है। बायोमीट्रिक प्रेशर वातावरण का दबाव होता है और मिलीबार इसे मापने की इकाई है।

आगे की स्लाइड्स में देखें अमेरिका में बर्फीले तूफान से तबाही की फोटोज...