--Advertisement--

महिलाओं के साथ जापानी सेना की क्रूरता, सेक्स स्लेव बना किया था ऐसा हाल

2 लाख से ज्यादा महिलाओं को एशिया में फैले जापान के मिलिट्री ब्रॉथल्स में मजबूर होकर काम करना पड़ा।

Dainik Bhaskar

Mar 02, 2018, 09:41 AM IST
कोरियन स्लेव्स की डेड बॉडीज का लगा ढेर। ये फोटो वीडियो फुटेज से लिया गया है। कोरियन स्लेव्स की डेड बॉडीज का लगा ढेर। ये फोटो वीडियो फुटेज से लिया गया है।

इंटरनेशनल डेस्क. सेकंड वर्ल्ड वॉर का एक दिल दहला देने वाला वीडियो सामने आया है। इसमें एक जगह पर फेंकी गई कोरियन सेक्स स्लेव की डेडबॉडीज नजर आ रही हैं। जापानी सैनिकों ने रेप के बाद इनकी हत्या कर दी थी। इस वीडियो को पहली बार जारी किया गया है। इन महिलाओं को कम्फर्ट वुमन कहा जाता था। जापान की आर्मी इन लड़कियों और महिलाओं को चीन लेकर आई थी, जहां इन्हें जंग के दौरान मिलिट्री ब्रॉथल्स में रखा गया था। कोरियन मीडिया के मुताबिक, पीड़ित महिलाओं को जापानी सैनिकों ने 1944 में चीन के एक गांव में मार डाला था। 19 सेकंड की क्लिप में क्या है?...

- कई मुख्य इतिहासकारों का कहना है कि 2 लाख से ज्यादा महिलाओं को एशिया में फैले जापान के मिलिट्री ब्रॉथल्स में मजबूर होकर काम करना पड़ा। इनमें ज्यादातर महिलाएं कोरिया की हैं, लेकिन चीन और साउथ एशिया देशों की भी महिलाएं शामिल थीं।
- कोरियन टाइम्स के मुताबिक, पहली बार सामने आया ये फुटेज 15 सितंबर 1944 को चीन के यून्नान प्रॉविन्स के तेन्गचोन्ग में लिया गया था। जापानी सेना ने जंग के आखिरी दिन इन सेक्स स्लेव्स को जान से मार दिया था।
- इस फुटेज को साउथ कोरिया के सियोल में सिटी गर्वंमेंट द्वारा सेक्स स्लेव पर ऑर्गेनाइज की गई कॉन्फ्रेंस के दौरान जारी किया गया है। 19 सेकंड की क्लिप में एक सोल्जर (चीन का बताया जा रहा) नेकेड डेडबॉडीज के पास खड़ा नजर आ रहा है। वीडियो के दूसरे हिस्से में लाशों के पास आग सुलगती दिखाई दे रही।

23 महिलाएं ही बची थीं जिंदा
- सियोल बेस्ड एरिरंग न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, इस फुटेज की आखिर में खोज करने वाला कोरियन स्कॉलर का एक ग्रुप है, जो अमेरिकन आर्काइव्स एंड रिकॉर्ड एडमिनिस्ट्रेशन से जुड़ा हुआ था।
- इसी रिपोर्ट के मुताबिक, तकरीबन 70 कोरियन महिलाओं को जापानी सैनिक चीन के तेन्गचोन्ग लेकर गए थे। अमेरिकी और चीनी आर्मी के जंग जीतने के बाद इनमें से सिर्फ 23 महिलाएं ही जिंदा बची थीं।

कम्फर्ट वुमन का हाल दिखाता वीडियो
- सियोल की सुंगकोंगघोए यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर कांग सुंग ह्यून ने फुटेज को लेकर कोरिया हेराल्ड न्यूज साइट के कहा कि ये वीडियो जंग खत्म होने के वक्त कोरिया की कम्फर्ट वुमन की स्थिति और हालात को दिखाती हैं। वो भी तब जब जापान सरकार अपने सैनिकों के हाथों कम्फर्ट वुमन की हत्या की बात से इनकार करती रही है।

जंग के वक्त महिलाओं पर ऐसा अत्याचार
इतिहासकारों की इस बात को लेकर सहमति है कि करीब 2 लाख महिलाओं को सेकंड वर्ल्ड वॉर के दौरान जबरन जापान के मिलिट्री ब्रॉथल्स में काम करना पड़ा। सैन फ्रांसिस्को स्टेट यूनिवर्सिटी की रिपोर्ट के मुताबिक, इनमें 80 फीसदी कोरियन महिलाएं थीं। इसके अलावा चीन, ताइवान, फिलीपीन्स, इंडोनेशिया, बर्मा और पेसिफिक आइलैंड की महिलाएं थीं। वहीं, जापान सेना के ब्रॉथल्स चीन, कोरिया पेनिन्सुइला और साउथ ईस्ट एशिया के एक बड़े हिस्से में था, जहां भी जापानी सेना का कब्जा था। इन महिलाओं का दुर्दशा एक भावुक मुद्दा है, जिसे लेकर साउथ कोरिया और जापान के बीच लगातार संबंध प्रभावित होते है।

आगे की स्लाइड्स में देखें जंग के दौरान कोरियन वुमन की फोटोज...

लाइन से खड़ीं कोरियन महिलाएं। इन्हें ब्रॉथल्स में जाने के लिए खड़ा किया गया है। लाइन से खड़ीं कोरियन महिलाएं। इन्हें ब्रॉथल्स में जाने के लिए खड़ा किया गया है।
कोरियन स्लेव से बात करता सोल्जर। कोरियन स्लेव से बात करता सोल्जर।
ब्रॉथल्स में भेजने के लिए इकट्ठा की गईं कोरियन महिलाएं। ब्रॉथल्स में भेजने के लिए इकट्ठा की गईं कोरियन महिलाएं।
कोरियन स्लेव्स का ग्रुप। कोरियन स्लेव्स का ग्रुप।
ब्रॉथल्स में भेजने के लिए इकट्ठा की गईं कोरियन महिलाएं। ब्रॉथल्स में भेजने के लिए इकट्ठा की गईं कोरियन महिलाएं।
कोरियन के स्लेव्स को जाते हुए। कोरियन के स्लेव्स को जाते हुए।
जापानी पार्लियामेंट के सामने पीड़ित कोरियन महिलाओं का पोस्टर हाथ में लिए विरोध जतातीं जापानी महिलाएं। जापानी पार्लियामेंट के सामने पीड़ित कोरियन महिलाओं का पोस्टर हाथ में लिए विरोध जतातीं जापानी महिलाएं।
X
कोरियन स्लेव्स की डेड बॉडीज का लगा ढेर। ये फोटो वीडियो फुटेज से लिया गया है।कोरियन स्लेव्स की डेड बॉडीज का लगा ढेर। ये फोटो वीडियो फुटेज से लिया गया है।
लाइन से खड़ीं कोरियन महिलाएं। इन्हें ब्रॉथल्स में जाने के लिए खड़ा किया गया है।लाइन से खड़ीं कोरियन महिलाएं। इन्हें ब्रॉथल्स में जाने के लिए खड़ा किया गया है।
कोरियन स्लेव से बात करता सोल्जर।कोरियन स्लेव से बात करता सोल्जर।
ब्रॉथल्स में भेजने के लिए इकट्ठा की गईं कोरियन महिलाएं।ब्रॉथल्स में भेजने के लिए इकट्ठा की गईं कोरियन महिलाएं।
कोरियन स्लेव्स का ग्रुप।कोरियन स्लेव्स का ग्रुप।
ब्रॉथल्स में भेजने के लिए इकट्ठा की गईं कोरियन महिलाएं।ब्रॉथल्स में भेजने के लिए इकट्ठा की गईं कोरियन महिलाएं।
कोरियन के स्लेव्स को जाते हुए।कोरियन के स्लेव्स को जाते हुए।
जापानी पार्लियामेंट के सामने पीड़ित कोरियन महिलाओं का पोस्टर हाथ में लिए विरोध जतातीं जापानी महिलाएं।जापानी पार्लियामेंट के सामने पीड़ित कोरियन महिलाओं का पोस्टर हाथ में लिए विरोध जतातीं जापानी महिलाएं।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..