• Hindi News
  • International
  • नॉर्थ कोरिया के किम जोंग उन और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प मई may में मिल सकते हैं: साउथ कोरिया के अफसरों का दावा
--Advertisement--

मई में मिलेंगे ट्रम्प और किम जोंग उन, एटमी प्रोग्राम बंद करने के लिए तैयार उत्तर कोरिया

अमेरिका ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि ट्रम्प और किम की मुलाकात मई में होगी।

Dainik Bhaskar

Mar 09, 2018, 10:37 AM IST
किम ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को बातचीत के लिए न्योता भेजा था। - फाइल किम ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को बातचीत के लिए न्योता भेजा था। - फाइल

वॉशिंगटन/प्योंगयांग. कुछ महीने पहले तक दुनिया के माथे पर चिंता की लकीरें पैदा करने वाले नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने दुनिया को अपने एक कदम से हैरान कर दिया है। दरअसल, किम ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को बातचीत के लिए न्योता भेजा था। अब अमेरिका ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि ट्रम्प और किम की मुलाकात मई में होगी। खास बात ये है कि मुलाकात के लिए ट्रम्प खुद उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयांग जाएंगे।

आखिर ये हुआ कैसै?

- इसके लिए थोड़ा पीछे जाना होगा। साउथ कोरिया में पिछले महीने विंटर ओलिंपिक्स के दौरान किम की बहन साउथ कोरिया गईं थीं। वहां से बातचीत की शुरुआत हुई।
- इसके कुछ दिनों बाद साउथ कोरिया का एक डेलिगेशन नॉर्थ कोरिया आया। यहां तानाशाह किम जोंग ने उसका बहुत गर्मजोशी से स्वागत किया।
- इस प्रतिनिधिमंडल से बातचीत में किम ने कहा कि वो दुनिया में शांति के लिए साउथ कोरिया और यहां तक कि कट्टर दुश्मन अमेरिका से भी बातचीत को तैयार हैं। साउथ कोरिया के मुताबिक, उत्तर कोरिया ने साफ कर दिया कि वो बातचीत के लिए अपना एटमी हथियार कार्यक्रम भी बंद करने को तैयार है।

ऑफर पर अमेरिका खुश, उसने क्या कहा?

- व्हाइट हाउस की स्पोक्सवुमन सारा सेंडर्स के मुताबिक, "ट्रम्प ने किम जोंग उन का न्योता स्वीकार कर लिया है। दोनों नेताओं की मुलाकात नॉर्थ कोरिया में ही तय वक्त पर होगी। हम चाहते हैं कि नॉर्थ कोरिया एटमी प्रोग्राम बंद करे। इसी के चलते उस पर प्रतिबंध लगाए गए हैं।”

ट्रम्प का ट्वीट

- किम के ऑफर के बाद ट्रम्प ने ट्वीट किया। वो खुश तो दिखे लेकिन कुछ शर्तें भी रख दीं। ट्रम्प ने कहा- किम ने साउथ कोरिया के डेलिगेशन से मुलाकात में एटमी प्रोग्राम को बंद करने की बात कही। वो सिर्फ रोक नहीं लगाना चाहते। इस दौरान नॉर्थ कोरिया कोई मिसाइल टेस्टिंग भी नहीं करेगा। ये बहुत बड़ी कामयाबी है लेकिन फिलहाल, प्रतिबंध नहीं हटाए जाएंगे। मीटिंग तय हो चुकी है।

18 साल बाद बातचीत का मौका

-अमेरिका और नॉर्थ कोरिया के बीच मुलाकात कराने में साउथ कोरिया ने ही मध्यस्थ की भूमिका निभाई। साउथ कोरिया के नेशनल सिक्युरिटी एडवाइजर (एनएसए) चुंग यूई-योंग ने ही इस बात की जानकारी दी कि ट्रम्प, उन से मुलाकात के लिए राजी हो गए हैं।
- अक्टूबर 2000 में बिल क्लिंटन की विदेश मंत्री रहीं मेडलीन अलब्राइट ने किम जोंग उन के पिता और तब नॉर्थ कोरिया के शासक रहे किम जोंग II से बात की थी।

अमेरिका और नॉर्थ कोरिया के बीच विवाद की जड़ क्या?

- बीते कई सालों ने अमेरिका और नॉर्थ कोरिया के बीच विवाद है। अमेरिका का कहना है कि नॉर्थ कोरिया को अपना न्यूक्लियर प्रोग्राम खत्म करना होगा।
- पिछले साल नॉर्थ कोरिया ने कई मिसाइल टेस्ट किए, जिनमें इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) का टेस्ट भी शामिल है।
- ICBM टेस्ट के बाद अमेरिका ने नॉर्थ कोरिया के ऊपर से बॉम्बर्स उड़ाए। इससे पहले अमेरिका ने कोरियाई पेनिनसुला में अपना जंगी जहाज कार्ल विन्सन भी भेजा था।
- अमेरिका को दिखाने के लिए नॉर्थ कोरिया ने समुद्र तट पर फायरिंग की। नॉर्थ कोरिया ने दावा किया कि फायरिंग का उसका ये सबसे बड़ा टेस्ट था।
- एक तरफ ट्रम्प जहां उन को रॉकेट मैन कहते रहे, वहीं उन लगातार अमेरिका से जंग की धमकी देता रहा।

न्यूक्लियर बटन पर भी बयानबाजी

- दोनों नेताओं के बीच न्यूक्लियर बटन को लेकर विवाद हुआ था। उन ने कहा था कि न्यूक्लियर बटन हमेशा मेरी टेबल पर रहता है। इस पर ट्रम्प ने कहा कि हमारा न्यूक्लियर बटन नॉर्थ कोरिया से बड़ा है और वह काम भी करता है।
- नॉर्थ कोरिया कथित तौर पर हाइड्रोजन बम समेत 6 न्यूक्लियर टेस्ट कर चुका है। हालांकि, दुनिया ने कभी इस दावे की पुष्टि नहीं की।

अमेरिका ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि ट्रम्प और किम की मुलाकात मई में होगी।- फाइल अमेरिका ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि ट्रम्प और किम की मुलाकात मई में होगी।- फाइल
X
किम ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को बातचीत के लिए न्योता भेजा था। - फाइलकिम ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को बातचीत के लिए न्योता भेजा था। - फाइल
अमेरिका ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि ट्रम्प और किम की मुलाकात मई में होगी।- फाइलअमेरिका ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि ट्रम्प और किम की मुलाकात मई में होगी।- फाइल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..