Hindi News »International News »International» Marriage For Some Hours And Temporary Bride In Iran

यहां चंद घंटों के लिए भी होती है शादी, इस वजह से शुरू हुई परंपरा

ईरान में गैरशादीशुदा कपल्स को डेट पर जाने या हाथों में हाथ डालने तक की परमिशन नहीं है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 03, 2017, 04:58 PM IST

  • यहां चंद घंटों के लिए भी होती है शादी, इस वजह से शुरू हुई परंपरा, international news in hindi, world hindi news
    +7और स्लाइड देखें
    ब्राइडल क्लोथिंग शॉप पर महिला की ड्रेस और क्राउन सही करता शख्स। आमतौर पर ईरान में इस तरह महिला-पुरुषों का एक साथ किसी काम में शामिल होना गैर कानूनी है।

    इंटरनेशनल डेस्क.ईरान में लोगों पर कई तरह की पाबंदियां हैं। शादी से पहले यहां लड़के और लड़की के बीच किसी भी तरह के संबंध को नियम-कायदों के खिलाफ माना जाता हैं। ऐसे में कई बार यंग कपल यहां प्लेजर मैरिज (निकाह मुताह) का सहारा लेते हैं, जो चंद मिनटो से लेकर 99 साल तक के लिए की जा सकती है। हालांकि, इसमें ये पहले से तय करना होता है कि शादी कितने दिन या कितने साल के लिए की जा रही है।कॉन्ट्रैक्ट पर होती है ये शादी...

    - मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिघेह के नाम से भी पहचानी जाने वाली इस शादी को काफी पुराना बताया जाता है। हालांकि, ईरान में इसे मंजूरी साल 2005 में मिली।
    - ईरान में गैरशादीशुदा कपल्स को डेट पर जाने या हाथों में हाथ डालने तक की परमिशन नहीं है। इसके बदले उन्हें जुर्माना और कोड़े खाने पड़ते हैं।
    - इसके चलते उन्हें टेम्परेरी मैरिज का सहारा लेना पड़ता है। इसमें शादी कुछ मिनट से लेकर 99 साल तक के लिए की जा सकती है।
    - इसमें लड़कों को अपनी शॉर्ट टर्म वाइफ के लिए भी मेहर की रकम तय करनी पड़ती है। साथ ही, अपार्टमेंट की लीज की तरह मैरिज कॉन्ट्रैक्ट पर शादी की मियाद तय होती है।
    - शादी की मियाद और मेहर की रकम पहले से तय होती है और इसके लिए एक प्राइवेट कॉन्ट्रैक्ट एडवांस में बनाया जाता है।
    - शादी का कॉन्ट्रैक्ट जब खत्म हो जाता है तो लड़की को दोबारा शादी करने के लिए दो बार पीरियड्स आने का इंतजार करना होता है।

    मुसीबत से बचने के लिए शादी
    एनवाई टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, तेहरान में हेयरड्रेसर का काम करने वाली मरियम ने बताया था कि उसे डेटिंग के लिए अपने ब्वॉयफ्रेंड करीम से टेम्परेरी शादी करनी पड़ी थी। मरियम के मुताबिक, वो दोनों अक्सर ही बाहर जाया करते थे और ऐसे में वो किसी मुश्किल में नहीं फंसना चाहती थी। मरियम और करीम ने इसीलिए टेम्परेरी मैरिज की, ताकि कहीं रोका जाए तो वो ये दिखा सकें कि वो कोई भी गैरकानूनी काम नहीं कर रहे हैं।

    बुरी नजरों से देखी जाती है ये शादी
    धार्मिक और कानूनी तौर पर मंजूरी के बाद भी ईरान में टेम्परेरी मैरिज बहुत ज्यादा पॉपुलर नहीं है। यहां की परंपरा के मुताबिक, शादी के वक्त लड़की का वर्जिन होना जरूरी है। ऐसे में बहुत से ईरानी सिगेह (निकाह मुताह) को लीगल प्रॉस्टिट्यूशन के तौर पर देखते हैं।

    आगे की स्लाइड्स में देखें ईरान की यंगस्टर्स की डेली लाइफ की फोटोज...

  • यहां चंद घंटों के लिए भी होती है शादी, इस वजह से शुरू हुई परंपरा, international news in hindi, world hindi news
    +7और स्लाइड देखें
    तेहरान के एक ब्यूटी सलून की फोटो।
  • यहां चंद घंटों के लिए भी होती है शादी, इस वजह से शुरू हुई परंपरा, international news in hindi, world hindi news
    +7और स्लाइड देखें
    पुरुषों के बीच पूल खेलतीं महिलाएं। ये क्लब सीक्रेट तौर पर चल रहा है, क्योंकि पुरुषों और महिलाओं का एक वेन्यू में खेलना प्रतिबंधित है।
  • यहां चंद घंटों के लिए भी होती है शादी, इस वजह से शुरू हुई परंपरा, international news in hindi, world hindi news
    +7और स्लाइड देखें
    ईरान में डॉग को पेट्स के तौर पर रखने पर भी पाबंदी लगी हुई है।
  • यहां चंद घंटों के लिए भी होती है शादी, इस वजह से शुरू हुई परंपरा, international news in hindi, world hindi news
    +7और स्लाइड देखें
  • यहां चंद घंटों के लिए भी होती है शादी, इस वजह से शुरू हुई परंपरा, international news in hindi, world hindi news
    +7और स्लाइड देखें
    सरकार के छिपकर रॉक म्यूजिक की प्रैक्टिस करता बैंड।
  • यहां चंद घंटों के लिए भी होती है शादी, इस वजह से शुरू हुई परंपरा, international news in hindi, world hindi news
    +7और स्लाइड देखें
    ईरानी तीरंदाज शिवा मफाखेरी तीरंदाजी प्रतियोगिता में घोड़े पर बैठ निशाना साधते हुए।
  • यहां चंद घंटों के लिए भी होती है शादी, इस वजह से शुरू हुई परंपरा, international news in hindi, world hindi news
    +7और स्लाइड देखें
    शिराज सिटी में जिम के अंदर वेट लिफ्टिंग करतीं दो ईरानी महिलाएं।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From International

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×