--Advertisement--

पत्नी ने बताया था लादेन की मौत का आंखों देखा हाल, इतना डरा था आतंकी

लादेन की पत्नी अमाल बिन ने कैथी स्कॉट क्लार्क और एंड्रिन लेवी की किताब 'द एग्जाइल' में उस रात की कहानी बयां की है।

Danik Bhaskar | Mar 10, 2018, 10:20 AM IST
पाकिस्तान के एबटाबाद में इसी घर में लादेन का एनकाउंटर हुआ था। (इनसेट में अमाल और लादेन।) पाकिस्तान के एबटाबाद में इसी घर में लादेन का एनकाउंटर हुआ था। (इनसेट में अमाल और लादेन।)

इंटरनेशनल डेस्क. दुनिया का सबसे खूंखार आतंकी और अलकायदा चीफ ओसामा बिन लादेन के जन्मदिन पर हम उसकी आखिरी रात का हाल बता रहे हैं। उसकी पत्नी अमाल बिन लादेन ने कैथी स्कॉट क्लार्क और एंड्रिन लेवी की किताब 'द एग्जाइल' में उस रात की कहानी बयां की थी। इसके अंश संडे टाइम्स यूके ने एक साल पहले पब्लिश किए, जिसमें उसने बताया था कि इतना खूंखार आतंकी लादेन अपनी मौत से पहले कितना डरा हुआ था। आधी रात को ऐसे खुल गई थी नींद...

- लादेन की चौथी पत्नी अमाल अपने छह बच्चों के साथ पाकिस्तान के एबटाबाद में उस वक्त मौजूद थी, जब 2 मई को अमेरिकी जवानों ने लादेन को मार गिराया था।
- उसके अलावा मकान में लादेन की दूसरी बीवी खैरियाह और तीसरी बीवी सेहम और 22 साल का बेटा खालिद भी मौजूद था।
- लादेन की पहली पत्नी नाजवा ने लादेन को 9/11 हमले के दो दिन पहले ही छोड़ दिया था। उसके 11 बच्चे हैं।
- अमाल ने बताया था कि 1 मई 2011 को खाना खाने और नमाज के बाद हम सब रात के 11 बजे सो गए थे। लादेन उसके साथ ही सोया था।
- बिजली कट जाने की वजह से सड़कों पर घना अंधेरा था। हालांकि, एरिया में यूं लाइट जाना आम बात थी, लेकिन फिर भी अमाल की नींद आधी रात में ही खुल गई।
- अमला ने घर के बाहर और छत पर किसी के कूदने की आवाज सुनी। साथ ही, खिड़की से उसे दौड़ते-भागते लोगों की परछाइयां नजर आईं।
- इसी बीच लादेन भी उठ गया और बेहद डरा हुआ था। उसने हांफते हुए कहा कि अमेरिकी आ रहे हैं। तभी इतनी तेज आवाज आई कि पूरा घर हिल गया।
- अमाल ने बताया था कि उन्होंने एक दूसरे का हाथ पकड़ा और बालकनी में पहुंचे, लेकिन अंधेरी रात के चलते कुछ भी देखना नामुमकिन था।

घर के नीचे मौजूद थी नेवी सील
- उनकी नजरों से दूर यूएस मिलिट्री ब्लैक हॉक्स और 24 नेवी सील के अफसर नीचे लॉन और कम्पाउंड में मौजूद थे।
- तीसरी पत्नी सेहम और खालिद ऊपर दूसरे बालकनी में खड़े देख रहे थे कि अमेकिरी जवान उन तक पहुंचे रहे हैं।
- लादेन ने बेटे को बुलाया और खालिद ने हाथ में एके-47 उठाई। हालांकि, अमाल जानती थी कि उसने 13 साल की उम्र में गोली नहीं चलाई है।
- इधर, अमाल और सेहम धमाके की आवाजें सुनकर रो रहे बच्चों को चुप करानें लगीं। इसके बाद सभी बच्चों को लेकर वो दोनों सबके ऊपर की फ्लोर पर पहुंच गईं।
- इसी दौरान जोरदार ब्लास्ट की आवाज आई। सील के अफसर घर का मेन गेट उड़ा चुके थे। तभी लादेन ने कहा कि वो मुझे मारना चाहते हैं, तुम सबको नहीं। उसने अपने परिवार को नीचे जाने के लिए कहा।
- इसके बाद भी सबसे बड़ी बेटी मरियम और सुमाया बालकनी में छिपी रहीं, जबकि तीसरी वाइफ सेहम और बेटा खालिद सीढ़ियों से नीचे उतर गए।

लादेन नहीं उतरा नीचे
- अमाल, बिन लादेन और उसका छोटा बेटा हुसैन अब भी कमरे में थे। इधर, सील के जवान हाल तक पहुंच चुके थे और ऊपर आने के लिए ब्लास्ट कर दरवाजा भी उड़ा दिया था।
- अमाल ने बताया कि फोर्स का एक मेंबर अरबी बोल रहा था और उसने खालिद को देखकर उसे आवाज दी, लेकिन खालिद ने बालकनी से जैसे ही नीचे देखा उसे गोली मार दी।
- सुमाया और मरियम सील के जवानों से भागने की कोशिश में ही थीं, लेकिन अरबी बोल रहे जवान ने उन्हें पकड़ दीवार पर दे मारा।
- सील अफसर रॉबर्ट ओ नील लादेन के कमरे में दाखिल हुआ। अमाल लादेन के सामने खड़ी हुई थी। तभी अंदर घुस रहे दूसरे सील अफसर ने उसे गोली मारी।
- अमाल दर्द से तड़पकर बेड पर गिर गई और ऐसा दिखाने की कोशिश करने लगी कि जैसे उसकी जान निकल गई है।
- इसके बाद एक के बाद एक नेवी सील के जवान कमरे में घुसे और लादेन पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाईं। इस घटना के चश्मदीद लादेन के छोटे बेटे हुसैन को सील ने पकड़ लिया और उसके चेहरे पर पानी फेंका।

बेटियों से कराई लादेन की पहचान
- इसके बाद सील ने मरियम और सुमाया को पकड़ा और लादेन की डेडबॉडी के पास ले जाकर उसकी पहचान करने के लिए बोला।
- पहले मरियम ने नकली नाम लिया, लेकिन सुमाया ने उसे टोकते हुए कहा कि इन्हें सच्चाई बताओ, ये कोई पाकिस्तानी नहीं है। फिर मरियम ने बताया कि ये मेरे पिता ओसाम बिन लादेन हैं।
- अमाल के मुताबिक, इन सबके बाद भी 11 साल की बेटी साफिया बालकनी में छिपी बैठी थी, जिसे सील अफसरों ने पकड़ लिया और उससे भी लादेन की पहचान करवाई। उसने जोर रोते हुए बताया कि ये उसके पिता हैं ।
- इसके बाद खैरियाह को पकड़कर सील के अफसरों ने उससे भी लादेन की पहचान करवाई। फिर अरबी बोलने वाले सील ने कहा कि बच्चे ने भी कंफर्म कर दिया और बूढ़ी महिला ने भी।

लादेन की बॉडी भी ले गए साथ
- इसके बाद फोर्स लादेन की डेडबॉडी को घसीटते हुए सीढ़ियों से नीचे ले गई। उसका बेटा खालिद सीढ़ियों पर मरा पड़ा था और उसकी मां ने उसे चूमने की कोशिश की, लेकिन जवानों ने उसे खींचकर किनारे कर दिया।
- सील अफसरों ने लादेन की बॉडी हेलिकॉप्टर में रखी। इधर, अमाल ने अपने बेटे हुसैन को बाहों में लिया और तभी उसे बाकी अमेरिकी ब्लैक हॉक्स के भी उड़ने की आवाज सुनाई दी।
- इन सबके कुछ मिनट बाद ही अमाल ने पड़ोसियों के चिल्लाने की आवाज सुनी, वो जोर-जोर से चिल्लाकर पूछ रहे थे कि अब घर में कौन जिंदा बचा है।

आगे की स्लाइड्स में देखें एबटाबाद के उस घर और लादेन के फैमिली की कुछ फोटोज...

चौथी पत्नी अमाल और लादेन। चौथी पत्नी अमाल और लादेन।
लादेन के तीन बच्चे (बाएं से) फातिमा, अब्दुल्ला और हमजा। बाकी तीनों लादेन के पोते-पोती हैं। लादेन के तीन बच्चे (बाएं से) फातिमा, अब्दुल्ला और हमजा। बाकी तीनों लादेन के पोते-पोती हैं।
बेटे के साथ लादेन। बेटे के साथ लादेन।
लादेन के बच्चे (बाएं से) फातिमा, साद, उमर, मोहम्मद, ओस्मान और अब्दुल रहमान। लादेन के बच्चे (बाएं से) फातिमा, साद, उमर, मोहम्मद, ओस्मान और अब्दुल रहमान।
पाकिस्तान के एबटाबाद में इसी घर में लादेन का एनकाउंटर हुआ था। ऊपर वाली फोटो तब की है, जब इसे गिराया जा रहा था। पाकिस्तान के एबटाबाद में इसी घर में लादेन का एनकाउंटर हुआ था। ऊपर वाली फोटो तब की है, जब इसे गिराया जा रहा था।
लादेन के मार गिराने जाने के मिशन की अपडेट लेते तत्कालीन प्रेसिडेंट ओबामा अपनी टीम के साथ। लादेन के मार गिराने जाने के मिशन की अपडेट लेते तत्कालीन प्रेसिडेंट ओबामा अपनी टीम के साथ।
लादेन का बेटा हमजा। लादेन का बेटा हमजा।
लादेन का बेटा उमर बिन लादेन। लादेन का बेटा उमर बिन लादेन।
ये फोटो जेद्दा की है, जिसमें लादेन का बेटा उमर अपने बेटे अहमद के साथ है। ये फोटो जेद्दा की है, जिसमें लादेन का बेटा उमर अपने बेटे अहमद के साथ है।
अखबारों में लादेन के मार गिराए जाने की खबरें। अखबारों में लादेन के मार गिराए जाने की खबरें।
एबटाबाद में यहां लादेन का मकान गिरा दिया गया और यहां खेती की जा रही है। एबटाबाद में यहां लादेन का मकान गिरा दिया गया और यहां खेती की जा रही है।