--Advertisement--

एक महीने में सिर्फ 7 मिनट के लिए दिखा सूरज, -67 डिग्री टेम्प्रेचर में ऐसा है हाल

इससे पहले साल 2000 में दिसंबर का महीना ऐसे ही काला था। तब सिर्फ तीन घंटे के लिए लोगों ने सूरज की रोशनी देखी थी।

Dainik Bhaskar

Jan 17, 2018, 05:00 PM IST
रूस के रिमोट में एरिया में ठंड से बिगड़ा हाल। रूस के रिमोट में एरिया में ठंड से बिगड़ा हाल।

इंटरनेशनल डेस्क. रूस कड़कड़ाती ठंड का दौर देख रहा है। यहां की राजधानी मॉस्को में पूरा दिसंबर अंधेरे में बीता। पूरे महीने में सिर्फ छह मिनट के लिए सूरज की रोशनी दिखाई दी। वहीं, रूस के रिमोट एरियाज में कई जगहों पर टेम्प्रेचर माइनस 67 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया है। हालत ये है कि घर से बाहर निकलने वाले लोगों की पलकों तक पर बर्फ जम गई है। स्कूल बंद कर दिए गए हैं और लोगों को घर में रहने की वॉर्निंग जारी की गई है। कई जगह पारा पहुंचा -67 डिग्री सेल्सियस...

- मॉस्को में आमतौर पर साल के आखिरी महीने में दिनभर में एक घंटे के लिए सूरज की रोशनी दिखाई देती है, लेकिन बीते दिसंबर में ठंड ने हालत बिगाड़ दी है।
- तास न्यूज एजेंसी ने बताया कि मेट्रोलॉजिकल स्टेशन ऑफ मॉस्को स्टेट यूनिवर्सिटी की रिपोर्ट के मुताबिक, पूरे दिसंबर में सूरज की रोशनी सिर्फ 6 से 7 मिनट के लिए ही दिखाई दी।
- जबकि इससे पहले साल 2000 में दिसंबर का महीना ऐसे ही काला था। तब सिर्फ तीन घंटे के लिए लोगों ने सूरज की रोशनी देखी थी।
- रूस के डायमंड से भरपूर रिमोट एरिया यानी साइबेरिया के इलाकों में खतरनाक ठंड है। यहां यकूतिया में टेम्प्रेचर माइनस 67 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है।
- मॉस्को से 3300 मील दूर पूर्व में मौजूद यकूतिया में माइनस 40 डिग्री सेल्सियस की ठंड में स्कूल खुले रहते हैं और बच्चे रूटीन में स्कूल जाते हैं।
- पर अब माइनस 67 डिग्री पार करने के बाद लोकल पुलिस ने पेरेन्टस को ऑर्डर दिया है कि वो बच्चों को घर से बाहर न निकलने दें।

सबसे ठंडी जगह में पारा -62 डिग्री

- हालांकि, रूस के ओम्याकॉन कस्बे में पारा माइनस 62 डिग्री सेल्सियस के करीब ही रहा। जबकि, इसे धरती पर रहने के लिहाज से सबसे ठंडी जगह माना जाता है।

- रूस के ओम्याकॉन शहर में सर्दी के मौसम में औसत टेम्प्रेचर -50 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहता है। हालांकि, इसके बावजूद इस टाउन में करीब 500 लोग रहते हैं।

- यहां रहने वाले लोगों के खाने से लेकर रहने के तरीके तक सब खास है। इतनी सर्दी के चलते वो सिर्फ वो जिंदा रहने के लिए सिर्फ मीट खाते हैं। वो भी रेंडियर और घोड़े का मीट खाते हैं।
- इस टाउन में बच्चों के लिए एक स्कूल भी है, लेकिन वो कड़ाके की ठंड में भी चलता है। उसे तब तक नहीं बंद किया जाता, जब तक पारा -52 डिग्री सेल्सियस नहीं पहुंच जाता।
- इस ठंड में यहां पेन की इंक से लेकर ग्लास में पीने के पानी तक सबकुछ जम जाता है। यहां मोबाइल फोन सर्विस अब तक शुरू ही नहीं हो पाई है।

आगे की स्लाइड्स में देखें ठंड में बर्फ से जमे रूस की फोटोज...

Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
X
रूस के रिमोट में एरिया में ठंड से बिगड़ा हाल।रूस के रिमोट में एरिया में ठंड से बिगड़ा हाल।
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Russia freezing cold temperatures record lows
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..