--Advertisement--

साल भर एक दूसरे को यूं कोसते रहे ट्रम्प और किम जोन्ग, कही ऐसी-ऐसी बात

नॉर्थ कोरिया के न्यूक्लियर प्रोग्राम के लेकर शुरू हुई इस बयानी जंग में दोनों ने एक दूसरे खत्म करने की धमकी तक दे डाली।

Danik Bhaskar | Mar 09, 2018, 06:02 PM IST

इंटरनेशनल डेस्क. नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोन्ग उन और अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प ने मुलाकात करने का फैसला लिया हो। हालांकि, इस मुकाम तक दोनों आसानी से नहीं पहुंचे। इन्हें काफी लंबा वक्त लगा और इस दौरान दोनों लीडर्स के बीच जमकर गाली-गलौंच और अपशब्दों की जंग चली। इन्होंने एक दूसरे को बूढ़ा, पागल, मोटा, नाटा और न जाने क्या-क्या करार दे डाला। नॉर्थ कोरिया के न्यूक्लियर प्रोग्राम के लेकर शुरू हुई इस बयानी जंग में दोनों ने एक दूसरे खत्म करने की धमकी तक दे डाली। यहां हम इनके बीच हुई इसी बयानी जंग से कुछ बयान बता रहे हैं, जो बहुत चर्चित रहे।

ट्रम्प ने किम को कहा रॉकेटमैन, तो जवाब में उन्हें कहा गया दुष्ट बदमाश

डोनाल्ड ट्रम्प
17 सितंबर

ट्रम्प ने 17 सितंबर को ट्वीट कर कहा था, ''मैंने बीती रात साउथ कोरिया के राष्ट्रपति मून से बात की, मैंने उनसे पूछा कि रॉकेटमैन कैसा है। नॉर्थ कोरिया में गैस लेने के लिए बड़ी-बड़ी कतारें लग रही हैं। सुनकर बुरा लगा।'' बता दें गैस लाइनों का जिक्र नॉर्थ कोरिया पर लगे यूएन के नए प्रतिबंधों के संकेत के तौर पर किया गया था।

किम जोन्ग उन
18 सितंबर

इसके जवाब में किम जोन्ग उन ने बयान जारी कर ट्रंप को दिमागी तौर पर अस्थिर करार देते हुए कहा था कि डरे हुए कुत्ते ज्यादा भौंकते हैं। वो आग से खेलने के शौकीन एक दुष्ट बदमाश है।''

आगे की स्लाइड्स में पढ़ें ऐसे ही बाकी बयान...

एटमी हथियारों से तबाह करने की दी धमकी

किम जोन्ग उन
1 जनवरी, 2018 

किम जोन्ग उन ने नए साल के मौके पर कहा था कि अमेरिका अब कभी भी हमारे खिलाफ जंग शुरू नहीं कर सकता, क्योंकि हमारे एटमी हथियार उसको तबाह कर देंगे। पूरा अमेरिका हमारे एटमी हथियारों की रेंज में है और इन एटमी हथियारों का बटन हमेशा मेरी टेबल पर रहता है। यह सच्चाई है, धमकी नहीं।

 

डोनाल्ड ट्रम्प
2 जनवरी, 2018

इसके बयान के जवाब ने ट्रम्प ने कहा था कि क्या कोई भुखमरी से जूझ रहे देश में उसे (किम जोंग उन को) ये बताएगा कि मेरे पास भी न्यूक्लियर बटन है। लेकिन ये उनसे कहीं ज्यादा बड़ा और ज्यादा ताकतवर है। ये काम भी करता है।  

ट्रम्प को कहा मानसिक रुप से बीमार, तो ट्रम्प ने किम को बताया मैडमैन
किम जोन्ग उन
21 सितंबर

किम जोन्ग ने ट्रम्प पर हमला बोलते हुए कहा था कि अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प की हताशा से उन्हें यकीन है कि नॉर्थ कोरिया द्वारा हथियार डेवलप करना सही है। किम ने कहा था कि ट्रम्प मानसिक रूप से बीमार हैं और उनके देश को नष्ट करने की धमकी की कीमत उन्हें चुकानी पड़ेगी।

 

डोनाल्ड ट्रम्प
22 सितंबर

इस बयान के जवाब में ट्रम्प ने ट्वीट कर कहा था कि ''किम ऐसे पागल हैं जो अपने लोगों की परवाह नहीं करते हैं। इस पागल को सबक जरूर सिखाया जाएगा। साथ ही इस बार उसे ऐसे इम्तिहान का सामना करना पड़ेगा जैसे उसने पहले कभी नहीं किया।'' 

बूढ़ा कहे जाने से बिफरे ट्रम्प ने किम को कहा नाटा-मोटा

डोनाल्ड ट्रम्प
12 नवंबर

ट्रम्प ने ट्वीट कर खुद को बूढ़ा कहे जाने पर एतराज जताया था। उन्होंने कहा, " किम जोन्ग मुझे 'बूढ़ा' कहकर मेरा अपमान क्यों करेंगे, जब मैं कभी उन्हें 'नाटा और मोटा' नहीं कहूंगा। मैं उनका दोस्त बनने की काफी कोशिश करता हूं और संभव है कि ऐसा किसी दिन हो जाए।" नॉर्थ कोरिया के सरकारी मीडिया ने उन्हें बूढ़ा व्यक्ति कहा था।