--Advertisement--

तानाशाह के कब्जे में दुनिया के सबसे पावरफुल देश की शिप, कर दिया था ये हाल

नॉर्थ कोरिया ने जब इसे सीज किया तो उस वक्त इसमें क्रू मेंबर्स के साथ 83 लोग तैनात थे।

Danik Bhaskar | Jan 23, 2018, 05:50 PM IST
नॉर्थ कोरिया ने अमेरिका स्पाई शिप प्यूबलो को अपने कब्जे में लेलिया था। नॉर्थ कोरिया ने अमेरिका स्पाई शिप प्यूबलो को अपने कब्जे में लेलिया था।

इंटरनेशनल डेस्क. नॉर्थ कोरिया और अमेरिका के बीच अभी बने तनाव के हालात कोई नई बात नहीं है। ऐसी ही तनाव की स्थिति 23 जनवरी 1968 में भी बनी थी, जब नॉर्थ कोरिया ने अमेरिका की नेवी शिप को अपने कब्जे में ले लिया था। ये अमेरिका की पहली एक्टिव-ड्यूटी व्हीसल है, जिसे किसी विदेशी सरकार ने सीज कर रखा है। नॉर्थ कोरियन सरकार ने इसे अब म्यूजियम बना दिया है, जो यहां के लिए एक बड़ा टूरिस्ट अट्रैक्शन है। जासूसी करने के लिए भेजी गई थी...

- प्यूबलो नाम की ये शिप अमेरिकन स्पाई शिप थी, जिसे 1944 में डिजाइन किया गया था। ये सीक्रेट नेशन के तौर पर मशहूर नॉर्थ कोरिया के बारे में खुफिया जानकारी इकट्ठा करने गई थी।
- सोवियत यूनियन (रूस) से टेन्शन के चलते अमेरिकन नेवी ने इस शिप को मॉडिफाई कर मॉडर्नाइज कर दिया था और खतरनाक वेपन्स से लैस कर दिया था।
- नॉर्थ कोरिया ने जब इसे सीज किया तो उस वक्त इसमें क्रू मेंबर्स के साथ 83 लोग तैनात थे। इनमें से एक अमेरिकी क्रू मेंबर को मार दिया गया और बाकी को करीब एक साल के लिए जेल में डाल दिया था।

कोरिया की समुद्री सीमा में हो थी दाखिल
- नॉर्थ कोरिया का दावा है कि 23 जनवरी, 1968 को यह शिप उनकी समुद्री सीमा के अंदर 7.6 नॉटिकल माइल्स (करीब 14 किमी) तक घुस आई थी, तब उन्हें इसके खिलाफ एक्शन लेना पड़ा।
- नॉर्थ कोरिया की कई वॉरशिप्स ने इसे घेर लिया और इनके बीच घंटों तक गोलीबारी चली थी, जिसमें में एक अमेरिकी सैनिक मारा गया था। वहीं, बाकी बचे सभी क्रू मेंबर्स को अरेस्ट कर लिया गया था।
- मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो क्रू मेंबर्स को कोरियाई सेना द्वारा काफी टॉर्चर किया गया और बाद में उन्हें 11 महीने की कैद के बाद छोड़ दिया गया था।


शिप बन गई म्यूजियम
- अब अमेरिका की इस शिप को नॉर्थ कोरिया राजधानी प्योंगयांग एक म्यूजियम की तरह इस्तेमाल कर रही है, जिसमें अमेरिका-विरोधी सेन्टिमेंट्स नजर आते हैं।
- प्यूबलो म्यूजियम नाम के इस शिप में आने वाले टूरिस्ट्स को यहां पर मारे गए फायरमैन दुआने हॉजेस की बॉडी के फोटोग्राफ से लेकर घटना में हुए नुकसान के बारे में दिखाया जाता है।

आगे की स्लाइड्स में देखें इस शिप और इसके अंदर की फोटोज...

अमेरिका की इस स्पाई शिप को 1944 में तैयार किया गया था। अमेरिका की इस स्पाई शिप को 1944 में तैयार किया गया था।
म्यूजियम बना दिए गए प्यूबलो शिप को देखने आते टूरिस्ट्स। म्यूजियम बना दिए गए प्यूबलो शिप को देखने आते टूरिस्ट्स।
प्यूबलो के क्रू को 23 दिसंबर 1968 को आजाद कर दिया गया था। उन्हें डिमिलिट्राइज्ड जोन के रास्ते नो रिटर्न जोन ब्रिज से वापस भेजने की फोटो। प्यूबलो के क्रू को 23 दिसंबर 1968 को आजाद कर दिया गया था। उन्हें डिमिलिट्राइज्ड जोन के रास्ते नो रिटर्न जोन ब्रिज से वापस भेजने की फोटो।
प्योंगयांग में डॉक पर मौजूद नॉर्थ कोरियन सेलर। प्योंगयांग में डॉक पर मौजूद नॉर्थ कोरियन सेलर।
तानाशाह इसके जरिए अमेरिका के प्रति अपने अविश्वास का प्रदर्शन करता है। तानाशाह इसके जरिए अमेरिका के प्रति अपने अविश्वास का प्रदर्शन करता है।
नॉर्थ कोरियन पोर्ट पर खड़ा अमेरिका स्पाई शिप प्यूबलो। नॉर्थ कोरियन पोर्ट पर खड़ा अमेरिका स्पाई शिप प्यूबलो।
अमेरिका और नॉर्थ कोरिया के बीच हुई फायरिंग के निशान और लोगों के सोने के लिए बने बेडस्। अमेरिका और नॉर्थ कोरिया के बीच हुई फायरिंग के निशान और लोगों के सोने के लिए बने बेडस्।
शिप में आने वाले टूरिस्ट्स को यहां पर मारे गए फायरमैन दुआने हॉजेस की बॉडी के फोटोग्राफ से लेकर घटना में हुए नुकसान के बारे में दिखाया जाता है। शिप में आने वाले टूरिस्ट्स को यहां पर मारे गए फायरमैन दुआने हॉजेस की बॉडी के फोटोग्राफ से लेकर घटना में हुए नुकसान के बारे में दिखाया जाता है।
घटना की 40वीं एनिवर्सरी पर इकट्ठा हुए शिप के जिंदा बचे क्रू मेंबर्स। घटना की 40वीं एनिवर्सरी पर इकट्ठा हुए शिप के जिंदा बचे क्रू मेंबर्स।
शिप में नॉर्थ कोरिया के अमेरिका-विरोधी सेन्टिमेंट्स नजर आते हैं। शिप में नॉर्थ कोरिया के अमेरिका-विरोधी सेन्टिमेंट्स नजर आते हैं।
म्यूजियम में कोरियन वॉर से जुड़े फोटोग्राफ्स और किस्से भी हैं। म्यूजियम में कोरियन वॉर से जुड़े फोटोग्राफ्स और किस्से भी हैं।
शिप के अंदर मौजूद नॉर्थ कोरियन सोल्जर। शिप के अंदर मौजूद नॉर्थ कोरियन सोल्जर।