--Advertisement--

कभी फैक्ट्री में बनाती थी घड़ी की कांच, अब हैं चीन की सबसे अमीर महिला

उनकी कंपनी लेंस टेक्नोलॉजी एप्पल, सैमसंग और दूसरी दिग्गज कंपनियों के लिए टचस्क्रीन ग्लास बनाती है।

Danik Bhaskar | Mar 08, 2018, 07:25 PM IST
चीन की सबसे अमीर महिला झोऊ क्यूनफेई। चीन की सबसे अमीर महिला झोऊ क्यूनफेई।

इंटरनेशनल डेस्क. चीन की सबसे अमीर महिला झोऊ क्यूनफेई को फोर्ब्स ने इस साल के बिलेनियर्स की लिस्ट में 16वें नंबर पर रखा है। इसके साथ ही वो दुनिया की सबसे अमीर सेल्फमेड महिला भी हैं। एक दौर ऐसा भी था कि वो मोबाइल स्क्रीन ग्लास बनाने वाली फैक्ट्री में काम किया करती थीं। अब उनकी कंपनी लेंस टेक्नोलॉजी एप्पल, सैमसंग और दूसरी दिग्गज कंपनियों के लिए टचस्क्रीन ग्लास बनाती है। उन्हें 'क्वीन ऑफ मोबाइल फोन्स ग्लास' के नाम से भी जाना जाता है। उनकी संपत्ति तकरीबन 9.8 बिलियन डॉलर है।

फैक्ट्री वर्कर से अमीर बनने तक का सफर
45 वर्षीय क्यूनफेई मोबाइल का ग्लास बनाने वाली अलग-अलग फैक्ट्रीज में काम कर चुकी हैं। 1970 में सेन्ट्रल चीन के हुनान प्रांत स्थित एक छोटे से गांव में उनका जन्म हुआ था। वो बहुत ही गरीब परिवार से थीं। करियर की शुरुआत उन्होंने दक्षिणी शहर शेनझेन की एक फैक्ट्री में घड़ियों के ग्लास बनाने से की। दिलचस्प बात ये है कि वे ग्लास स्क्रीन बनाने वाली प्रतिद्वंद्वी कंपनी 'बाई एन' में भी काम कर चुकी हैं।

और फिर खुद की कंपनी
2003 में उन्होंने खुद की कंपनी की शुरुआत की। इसका हेडक्वार्टर उन्होंने अपने होम टाउन हुनान में बनाया। आज इस कंपनी की 10 से ज्यादा सहायक कंपनियां पूरे चीन में फैली हुई हैं। उनके पास अपनी फर्म के 89 फीसदी शेयर हैं। उनकी कंपनी के अंदर 82 हजार से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं।

75 फीसदी रेवेन्यू एप्पल और सैमसंग से
क्यूनफेई चीन के हुनान स्थित लेंस टेक्नोलॉजी की फाउंडर और सीईओ हैं। उनकी कंपनी मार्च 2015 में ही शेनझेन स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड हुई थी। कंपनी एप्पल, ह्यूवेई और सैमसंग जैसी कंपनियों को मोबाइल टच स्क्रीन सप्लाई करती है। इनके बिजनेस का सीधा असर लेंस कंपनी पर पड़ता है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, उनकी कंपनी का 70 फीसदी रेवेन्यू एप्पल और सैमसंग से आता है।


आगे की स्लाइड्स में देखें क्यूनफेई की कुछ फोटोज...