Hindi News »International News »International» Russia Launches Powerful Submarine Knyaz Vladimir

रूस के इस पावरफुल हथियार से 9 हजार किलोमीटर दूर बैठा टारगेट भी होगा तबाह

रूस की नेवी में शामिल हुई न्यूक्लियर सबमरीन ‘नयाज व्लादिमीर’, तबाह कर सकती है 9 हजार किलोमीटर दूर बैठा टारगेट।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Nov 25, 2017, 01:02 PM IST

  • रूस के इस पावरफुल हथियार से 9 हजार किलोमीटर दूर बैठा टारगेट भी होगा तबाह, international news in hindi, world hindi news
    +5और स्लाइड देखें
    रूस ने शुक्रवार को लॉन्च की अपनी सबसे ताकतवर सबमरीन नयाज व्लादिमीर।

    इंटरनेशनल डेस्क. दुनियाभर के देश इस वक्त अपनी-अपनी सेनाओं को ताकतवर बनाने में जुटे हैं। इसी कड़ी में रूस ने शुक्रवार को अपना एक घातक हथियार दुनिया के सामने पेश किया। नयाज व्लादिमीर या प्रिंस व्लादिमीर नाम से जाना-जाने वाला ये हथियार दरअसल एक डीप वॉटर न्यूक्लियर सबमरीन है। इसकी खासियत ये है कि इससे एक बार में दुश्मन के 9 हजार किलोमीटर दूर ठिकानों को भी निशाना बनाया जा सकता है। इतना ही नहीं, ये सबमरीन एक बार में करीब 20 न्यूक्लियर क्षमता वाले हथियार दुश्मनों पर छोड़ सकती है। 2025 तक शामिल होंगी 8 सबमरीन...

    - नयाज सबमरीन को शुक्रवार को रूस के सेवमैश शिपयार्ड से लॉन्च किया गया। इसका कंस्ट्रक्शन 5 साल पहले जुलाई 2012 में ही शुरू हो गया था।
    - माना जा रहा है कि ये सबमरीन अगले साल तक रूस की नेवी में शामिल कर ली जाएगी, जिसके बाद ये देश की अबतक की सबसे एडवांस न्यूक्लियर क्षमता वाली बैलिस्टिक मिसाइल सबमरीन बन जाएगी।
    - स्टेट मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक, रूस 2025 तक बोरेइ क्लास की 8 सबमरीन्स को अपनी नेवी में शामिल करना चाहता है। इनमें से करीब 5 सबमरीन व्लादिमीर की तरह ही अपग्रेडेड होंगी।
    - ये सारी सबमरीन एक बार में 100-150 किलोग्राम के 96 से 200 हथियार लॉन्च की क्षमता के साथ बनाई जा रही हैं। जिसका मतलब इनकी ताकत हिरोशिमा पर गिराए गए न्यूक्लियर बम से 10 गुना ज्यादा होगी।
    - बोरेइ क्लास में बुलावा आरएसएम-56 इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल लगाई जाएंगी, जो इस सबमरीन को और ज्यादा घातक बना देंगी।
    - इसके अलावा ये सबमरीन समुद्र में करीब 400 मीटर की गहराई तक भी उतर सकती है, जिससे दुश्मने के लिए इस सबमरीन को खोजना लगभग नामुमकिन साबित होगा।

    कम है अमेरिकी सबमरीन की रेंज
    - बता दें कि, अमेरिका की अबतक की सबसे एडवांस ओहियो-क्लास सबमरीन एक बार में करीब 24 हथियार एक साथ छोड़ सकती है, लेकिन इससे दुश्मनों के सिर्फ 7800 किलोमीटर दूर ठिकानों को ही निशाना बनाया जा सकता है।

    आगे की स्लाइड्स में देखें PHOTOS...

  • रूस के इस पावरफुल हथियार से 9 हजार किलोमीटर दूर बैठा टारगेट भी होगा तबाह, international news in hindi, world hindi news
    +5और स्लाइड देखें
  • रूस के इस पावरफुल हथियार से 9 हजार किलोमीटर दूर बैठा टारगेट भी होगा तबाह, international news in hindi, world hindi news
    +5और स्लाइड देखें
  • रूस के इस पावरफुल हथियार से 9 हजार किलोमीटर दूर बैठा टारगेट भी होगा तबाह, international news in hindi, world hindi news
    +5और स्लाइड देखें
  • रूस के इस पावरफुल हथियार से 9 हजार किलोमीटर दूर बैठा टारगेट भी होगा तबाह, international news in hindi, world hindi news
    +5और स्लाइड देखें
  • रूस के इस पावरफुल हथियार से 9 हजार किलोमीटर दूर बैठा टारगेट भी होगा तबाह, international news in hindi, world hindi news
    +5और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From International

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×