• Home
  • International
  • confusion in russia over the women love with foreign football fans politicians comments
--Advertisement--

रूस में उलझन, महिलाएं फुटबॉल फैंस से प्यार करें या न करें; दो सांसदों के अलग-अलग बयान

एक सांसद ने कहा कि विदेशी फुटबाल फैंस से रूसी महिलाएं प्यार करें। महिला सांसद बोलीं कि विदेशी फैंस से कोई रिश्ता न रखें।

Danik Bhaskar | Jun 28, 2018, 07:18 AM IST

- महिला सांसद ने कहा- बाहरी शख्स से शादी करने पर होने वाले बच्चे खुश नहीं रहते

- सोशल मीडिया यूजर्स ने विचारों को दकियानूसी बताया

मॉस्को. रूस में फुटबॉल विश्वकप के दौरान एक सांसद मिखाइल देग्त्यारोव ने महिलाओं को विदेशी फुटबॉल फैंस को प्यार करने और उनसे बच्चे पैदा करने की सलाह दी है। उनका ये बयान ऐसे समय आया है जब एक अन्य महिला सांसद तमारा प्लेतनायोवा ने रूसी महिलाओं को विदेशी फुटबॉल फैंस से दूर रहने की सलाह दी थी।

आलोचनाओं का सामना करने के बाद मिखाइल ने अपने बयान का बचाव किया। उन्होंने रूसी न्यूज एजेंसी को बताया, "मेरे कहने का मतलब ये था कि फुटबॉल वर्ल्ड कप के दौरान जो प्रेम कहानियां सामने आएंगी, उन्हें आने वाले समय में बच्चे याद करेंगे। मैं उम्मीद करता हूं यहां ज्यादा से ज्यादा लोगों में प्रेम बढ़े और उनके बच्चे हों। हम सभी धर्मों और देशों के फैंस का स्वागत करते हैं।'

विदेशियों से रिश्ते बनाने से बचें: प्लेतनायोवा ने महिलाओं को चेतावनी देते हुए कहा था कि वे विदेशी फुटबॉल फैंस से रिश्ते बनाने से पहले सोचें। क्योंकि विदेशी फैंस रिश्ते को बीच में खत्म कर उन्हें अकेला छोड़ जाएंगे और महिलाओं को उनके बच्चों की परवरिश अकेले ही करनी होगी। उन्होंने रूसी महिलाओं को स्थानीय पुरुषों से ही शादी करने की सलाह भी दी थी। उनका मानना है कि बाहरी लोगों के साथ शादी करने पर जो बच्चे पैदा होते हैं वे खुश नहीं रहते। सोशल मीडिया पर उनकी इस सलाह की काफी आलोचना हुई। कई यूजर्स ने उनके नजरिये को भेदभावपूर्ण और दकियानूसी बताया। प्लेतनायोवा की टिप्पणी के बारे में पूछे जाने के सवाल पर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने कहा हमारे देश की महिलाएं दुनिया में सर्वश्रेष्ठ हैं और वे अपना फैसला लेने में पूरी तरह से सक्षम हैं।