--Advertisement--

अमेरिकी अखबार के दफ्तर में गोलीबारी में 5 की मौत, हमलावर गिरफ्तार; अपने खिलाफ खबर छापने से नाराज था

शूटर हिरासत में है और इस समय उससे पूछताछ की जा रही है।

Danik Bhaskar | Jun 29, 2018, 12:33 PM IST
  • पुलिस ने कहा कि गोलीबारी को आतंकी नहीं, स्थानीय घटना मानकर जांच कर रही है
  • हमलावर के पास से पुलिस को हथियार और ग्रेनेड भी मिले

वॉशिंगटन. अमेरिका के मेरीलैंड में गुरुवार देर रात एक अखबार कैपिटल गजट के न्यूजरूम में एक शख्स ने गोलीबारी कर दी। इसमें पांच की मौत हो गई। पांच से ज्यादा जख्मी हैं। संदिग्ध हमलावर को हिरासत में ले लिया गया है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, जैरड रामोस (38) कैपिटल गजट में अपने खिलाफ खबर छपने से नाराज था। हमलावर ने कांच के दरवाजे के पीछे से गोलीबारी की।

पुलिस ने बताया कि कैपिटल गजट को लेकर सोशल मीडिया पर धमकियां मिल रही थीं। ये धमकियां किसके अकाउंट से दी गईं, इसकी जांच की जा रही है। कैपिटल के संपादक ने कहा कि ये घटना हिला देने वाली है। फिलहाल ज्यादा कुछ कहने की हालत में नहीं हूं। मैं बस इतना ही जानता हूं कि हमारे रिपोर्टर और एडिटर्स हफ्ते में 40 घंटे काम नहीं करते। उनकी तनख्वाह भी ज्यादा नहीं है लेकिन उनमें खबरें ढूंढने का जुनून है।

रामोस ने लोगों को मारने की बात लिखी थी: 2012 में रामोस ने कैपिटल गजट में कॉलम लिखने वाले एरिक हार्टले और तब एडिटर रहे थॉमस मारक्वार्ट पर मानहानि का केस दायर किया था। हार्टले ने अखबार में लिखा था कि रामोस ने एक महिला को फेसबुक पर अश्लील नामों से बुलाया और जान से मारने की धमकी दी। रामोस को इसके लिए शोषण का दोषी पाया गया। 2015 में मेरीलैंड की कोर्ट ने कैपिटल गजट और एक पूर्व रिपोर्टर के पक्ष में फैसला सुनाया। बाद में रामोस ने ट्विटर पर लिखा कि खुद को सही साबित करने के लिए मैंने एक नया अकाउंट बनाया। रामोस ने लिखा कि वह ऐन अरुंडेल इलाके में रहने वाले लोगों के खिलाफ केस दायर करेगा और भ्रष्ट लोगों को मार देगा। इसी साल फरवरी में फ्लोरिडा के हाईस्कूल में गोलीबारी में 17 और मई में टेक्सास के एक स्कूल में गोलीबारी में 10 लोग मारे गए थे।