इमरान की तीसरी पत्नी बुशरा मानेक ने दी मुल्क को जीत की बधाई; जानिए दो पूर्व पत्नियों ने क्या कहा

DainikBhaskar.com | Jul 28,2018 10:00 AM IST

इमरान का नाम कई महिलाओं से जोड़ा जाता रहा है। 2017 में खबर आई कि इमरान और उनकी आध्यात्मिक गुरू बुशरा मानेक के बीच अफेयर है। पार्टी और इमरान ने इसे कई बार नकारा। लेकिन, सच्चाई को छुपाना जब नामुमकिन हो गया तो इमरान ने 18 फरवरी 2018 को मान लिया कि उन्होंने बुशरा से निकाह कर लिया है। 40 साल की बुशरा इमरान से 25 साल छोटी हैं और पहली शादी से उनके पांच बच्चे भी हैं।

पाकिस्तान : 116 सीटों के साथ इमरान खान सबसे आगे, विरोधी दल बोले- धांधली हुई; दोबारा हों चुनाव

DainikBhaskar.com | Jul 28,2018 00:08 AM IST

पाकिस्तान चुनाव आयोग ने शुक्रवार रात तक नेशनल असेंबली की 272 में से 265 सीटों के नतीजे घोषित कर दिए। इनमें इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) ने 116 सीटों पर जीत दर्ज की। सरकार बनाने के लिए उन्हें 21 सीटें और चाहिए। इस बीच विरोधी दलों ने एकजुट होकर इस्लामाबाद स्थित मुताहिदा मजलिस-ए-अमल के अध्यक्ष मौलाना फजलुर रहमान के आवास पर मल्टी-पार्टी कॉन्फ्रेंस (एमपीसी) की। इसकी अध्यक्षता पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-नवाज) के अध्यक्ष शहबाज शरीफ और मौलाना फजलुर रहमान ने की। बैठक में एमएमए, एएनपी, क्यूडब्लूपी, एनपी, पीएसपी, एमक्यूएम-पी के नेता शामिल हुए। यहां सभी दलों ने एक राय होकर चुनाव में धांधली होने की बात कही। उन्होंने मांग रखी कि निष्पक्ष तरीके से दोबारा चुनाव कराए जाएं। इसके अलावा यूरोपीय संघ के चुनाव पर्यवेक्षकों की टीम ने भी पाकिस्तान के आम चुनाव पर सवाल उठाए हैं।

इमरान के न्यू पाकिस्तान के लिए सबसे बड़ी चुनौती भ्रष्टाचार-बेरोजगारी, भारत से रिश्तों पर सेना ही तय करेगी पॉलिसी

DainikBhaskar.com | Jul 27,2018 17:38 PM IST

आम चुनाव में अब तक घोषित हुए नतीजों में इमरान खान की तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सबसे बड़ी पार्टी बन गई है। थोड़ी सी बाहरी मदद के बाद पीटीआई चीफ का प्रधानमंत्री बनना तय है। लेकिन, यहां से इमरान की राह आसान नहीं होगी। जिस ‘नए पाकिस्तान’ का वादा इमरान ने अवाम से किया है, उसके लिए सबसे बड़ी चुनौती भ्रष्टाचार, बेरोजगारी और कमजोर अर्थव्यवस्था है। जहां तक बात भारत से रिश्तों और कश्मीर मसले की है, तो इसमें इमरान का नजरिया ज्यादा मायने नहीं रखता है। क्योंकि, इस पर पॉलिसी सेना ही तय करेगी। . आम चुनाव में अब तक घोषित हुए नतीजों में इमरान खान की तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सबसे बड़ी पार्टी बन गई है। थोड़ी सी बाहरी मदद के बाद पीटीआई चीफ का प्रधानमंत्री बनना तय है। लेकिन, यहां से इमरान की राह आसान नहीं होगी। जिस ‘नए पाकिस्तान’ का वादा इमरान ने अवाम से किया है, उसके लिए सबसे बड़ी चुनौती भ्रष्टाचार, बेरोजगारी और कमजोर अर्थव्यवस्था है। जहां तक बात भारत से रिश्तों और कश्मीर मसले की है, तो इसमें इमरान का नजरिया ज्यादा मायने नहीं रखता है। क्योंकि, इस पर पॉलिसी सेना ही तय करेगी।

पाकिस्तान में नतीजों की आधिकारिक घोषणा के पहले ही मंत्रिमंडल की तैयारियों में जुटे इमरान

DainikBhaskar.com | Jul 27,2018 16:53 PM IST

पाकिस्तान में आम चुनाव की वोटिंग बुधवार शाम 6 बजे खत्म हुई। 7 बजे काउंटिंग शुरू हुई लेकिन आधिकारिक तौर पर नतीजों का ऐलान शुक्रवार शाम पांच बजे तक भी नहीं किया जा सका। चुनाव आयोग ने देरी की वजह भी साफ नहीं की। विपक्ष तो पहले ही आरोप लगा रहा है कि चुनाव में बेहद धांधली हुई। दूसरी ओर, न्यूज एजेंसी ने ‘जियो टीवी’ के हवाले से खबर दी है कि आधिकारिक नतीजे घोषित होने के पहले ही इमरान खान मंत्रियों की लिस्ट तैयार करने में जुट गए हैं। नेशनल असेंबली की 272 में से 115 सीटें वो जीत चुके हैं और बहुमत के लिए 137 सीटों की जरूरत है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इमरान बेफिक्र हैं क्योंकि उनके साथ ताकतवर फौज है। ये माना जा रहा है कि इमरान को निर्दलीय और कुछ कट्टरपंथियों का समर्थन आसानी से हासिल हो जाएगा।