--Advertisement--

अमेरिका के हाथ से निकला PAK, आतंकी भारत और अफगानिस्तान पर जारी रखेंगे हमला- रिपोर्ट

यह रिपोर्ट मंगलवार को अमेरिकी इंटेलिजेंस के डायरेक्टर डेनियल आर कोस्ट्स ने अमेरिकी सीनेट की मीटिंग में पेश की।

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2018, 05:54 PM IST
एक अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान की आर्मी के मदद से आतंकी संगठन भारत और अफगानिस्तान पर हमले और तेज कर सकते हैं।- सिम्बॉलिक एक अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान की आर्मी के मदद से आतंकी संगठन भारत और अफगानिस्तान पर हमले और तेज कर सकते हैं।- सिम्बॉलिक

इस्लामाबाद. अमेरिका की एक खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान 2019 तक अमेरिका के हाथ से निकलकर पूरी तरह से चीन के साथ हो जाएगा। इस रिपोर्ट के मुताबिक, आतंकी संगठन पाकिस्तान आर्मी की मदद से भारत-अफगानिस्तान पर हमले तेज कर देंगे। यह रिपोर्ट सीनेट के सामने पेश की गई। बता दें कि ट्रम्प एडमिनिस्ट्रशन ने पिछले दिनों पाकिस्तान को आतंकियों की पनाहगाह बताते हुए उसकी 7 हजार करोड़ रुपए की सैन्य मदद रोक दी थी।

भारत के पाकिस्तान-चीन से बिगड़ेंगे रिश्ते
- रिपोर्ट के मुताबिक- भारत-पाकिस्तान के रिश्ते ज्यादा खराब हो सकते हैं। सीमा पर तनाव बरकरार रहेगा। भारत पर बड़े आतंकी हमलों का खतरा भी रहेगा।

-रिपोर्ट में आगे कहा गया है - 2019 में भारत - चीन रिश्ते फिर बिगड़ सकते हैं। इनमें अचानक तनाव बढ़ सकता है। बता दें कि अगस्त में डोकलाम में दोनों देशों की सेनाएं एक सड़क बनाने के मुद्दे पर करीब तीन महीने तक आमने-सामने रहीं थीं।

चीन के साथ और मजबूत करेगा रिश्ते

- यह रिपोर्ट एफबीआई और दूसरी खुफिया एजेंसियों ने मिलकर तैयार की है। इसमें पाकिस्तान को अमेरिकी हितों के लिए खतरा बताया गया है।

- इसके मुताबिक- पाकिस्तान चीन के साथ संबंधों को बढ़ाएगा। आतंकियों पर सीमित रोक की नीति अपनाएगा। आतंकी संगठन पाकिस्तान की मदद से भारत और अफगानिस्तान पर हमले जारी रखेंगे।

न्यूक्लियर प्रोग्राम जारी रखेगा PAK

- रिपोर्ट में पाकिस्तान के न्यूक्लियर प्रोग्राम को लेकर भी सवाल उठाए गए हैं। इसमें कहा गया है- पाकिस्तान कम और लंबी दूरी तक मार करने वाली मिसाइलें तैयार करेगा। इसके साथ ही वह बैलेस्टिक मिसाइल प्रोग्राम को जारी रखेगा। ये हथियार पूरे इलाके के लिए बड़ा खतरा होंगे।

अफगानिस्तान के चुनावों पर भी पड़ेगा असर

- रिपोर्ट के मुताबिक- तालिबान के हमलों से अफगानिस्तान में अस्थिरता पैदा हो सकती है। राजनीतिक बदलाव हो सकता है। सुरक्षा एजेंसी भी अस्थिर हो सकती है।

- रिपोर्ट में कहा गया है- अफगानिस्तान में अगले साल राष्ट्रपति चुनाव होने हैं। इस बीच सत्ता अफगानिस्तान आर्मी के हाथ में होगी। इस समय आतंकी हमले की भी आशंका है।

अमेरिका ने रोकी थी पाक की मदद
- 1 जनवरी को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तान पर आतंकियों की मदद का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान अमेरिका को हमेशा मूर्ख बनाता रहा है और अमेरिका से सैन्य मदद लेता रहा।
- अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 1.15 बिलियन डॉलर (इंडियन करंसी के हिसाब से करीब 7.298 हजार करोड़ रुपए) की सैन्य मदद भी रोक दी थी।

रिपोर्ट के मुताबिक - 2019 में चीन के साथ सीमा पर विवाद बढ़ सकता है।- फाइल रिपोर्ट के मुताबिक - 2019 में चीन के साथ सीमा पर विवाद बढ़ सकता है।- फाइल
X
एक अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान की आर्मी के मदद से आतंकी संगठन भारत और अफगानिस्तान पर हमले और तेज कर सकते हैं।- सिम्बॉलिकएक अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान की आर्मी के मदद से आतंकी संगठन भारत और अफगानिस्तान पर हमले और तेज कर सकते हैं।- सिम्बॉलिक
रिपोर्ट के मुताबिक - 2019 में चीन के साथ सीमा पर विवाद बढ़ सकता है।- फाइलरिपोर्ट के मुताबिक - 2019 में चीन के साथ सीमा पर विवाद बढ़ सकता है।- फाइल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..