--Advertisement--

सीपैक पर फिल्म बनाकर दुनिया को दोस्ती की मिसाल देंगे चीन-पाकिस्तान, 2019 में शुरू होगी शूटिंग

चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरीडोर पाक अधिकृत कश्मीर से होकर गुजरता है, भारत ने इस पर आपत्ति भी जताई है।

Danik Bhaskar | Jun 15, 2018, 11:00 PM IST
चीन पाकिस्तान में सीपैक के तहत चीन पाकिस्तान में सीपैक के तहत

बीजिंग. चीन और पाकिस्तान के फिल्म निर्माता जल्द ही साथ काम कर सकते हैं। जानकारी के मुतबािक, दोनों देश चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरीडोर पर केंद्रित एक फिल्म बनाएंगे। इसके जरिए दोनों अपनी गहरी दोस्ती को जनता के बीच दिखाना चाहते हैं। बेल्ट एंड रोड परियोजना के तहत शुरू किए गए इस प्रोजेक्ट में करीब 50 बिलियन डॉलर्स के खर्च का अनुमान है। ये परियोजना पाक अधिकृत कश्मीर से हो कर गुजरेगी, जिसके चलते भारत ने इसका विरोध किया है।

फिल्म में होगी सीपैक में सहयोग करने वाली कंपनियों की कहानी
- चीन की टेलीविजन आर्टिस्ट एसोसिएशन की पटकथा लेखन समिति के डायरेक्टर वांग हाइपिंग के मुताबिक, फिल्म का नाम ‘द जर्नी’ रखा गया है। इसमें सीपैक के निर्माण में हिस्सा लेने वाली चीनी कंपनियों की कहानी दिखाई जाएगी।
- क्विंगदाओ में एससीओ फिल्म फेस्टिवल में हिस्सा लेने आए वांग ने बताया कि फिल्म असल जीवन की कहानियों पर आधारित होगी और इसमें चीन-पाकिस्तान की करीबी को दिखाया जाएगा।
- चीन की शिन्हुआ न्यूज एजेंसी के मुताबिक, चीन और पाकिस्तान फिल्म की पटकथा लेखन, शूटिंग, निर्माण और प्रायोजन में साथ काम करेंगे। बताया गया है कि फिल्म की शूटिंग 2019 में शुरू हो सकती है।

क्या है CPEC?
- 46 बिलियन डॉलर का चाइना-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर (CPEC) पर अभी काम चल रहा है। इसके तहत पाकिस्तान में ग्वादर पोर्ट भी बनाया जा रहा है।
- CPEC के तहत पाक के ग्वादर पोर्ट को चीन के शिनजियांग को जोड़ा जा रहा है। इसमें रोड, रेलवे, पावर प्लान्ट्स समेत कई इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट किए जाएंगे।
- CPEC को लेकर भारत विरोध करता रहा है। हमारा दावा है कि कॉरिडोर पाक के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) से गुजरेगा, तो इससे सुरक्षा जैसे मसलों पर असर पड़ेगा।