--Advertisement--

मैं कोई तानाशाह नहीं जो अदालतों से भागता फिरूं: कोर्ट में पेश ना होने पर मुशर्रफ को नवाज का जवाब

नवाज शरीफ अपनी पत्नी कुलसुम के इलाज के लिए लंदन में हैं, पाकिस्तान में उनके खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला चल रहा है।

Danik Bhaskar | Jul 06, 2018, 12:46 PM IST

लाहौर. पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने जवाबदेही अदालत से अपील की है वो उनके पाकिस्तान लौटने तक भ्रष्टाचार के मामले में फैसला ना दें। शरीफ ने बुधवार को बयान जारी कर कहा कि वो कोई तानाशाह नहीं हैं जो देश छोड़कर भाग जाएंगे। नवाज का ये बयान उस वक्त आया, जब एक दिन पहले ही इस्लामाबाद की जवाबदेही कोर्ट ने अवेन्फील्ड संपत्ति भ्रष्टाचार मामले में शुक्रवार को फैसला सुनाने का ऐलान किया है। दरअसल, इस मामले में नवाज और उनकी बेटी मरियम दोनों ही आरोपी हैं। जवाबदेही अदालत ने दोनों को बुधवार तक पेश होने के आदेश दिए थे, लेकिन नवाज और उनकी बेटी दोनों ने बुधवार को ही उपस्थिति में सात दिन की छूट देने की मांग की। हालांकि, कोर्ट ने उनकी अपील को ठुकरा दिया।

लंदन में रिपोर्ट्स से बातचीत के दौरान 68 साल के नवाज ने कहा, “मैं कोर्टरूम में खड़े होकर फैसला सुनना चाहता हूं। मैंने अपनी बेटी मरियम के साथ 100 से ज्यादा सुनवाई झेली हैं।” पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ पर निशाना साधते हुए शरीफ ने कहा, “मैं कोई तानाशाह नहीं जो अदालतों से भागता फिरुंगा।” गौरतलब है कि परवेज मुशर्रफ अपने ऊपर लगे आरोपों की सुनवाई के दौरान 2016 में इलाज के बहाने दुबई भाग गए थे। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट के कहने के बावजूद वे अब तक पाकिस्तान वापस नहीं लौटे हैं। पिछले हफ्ते ही मुशर्रफ ने शरीफ के लिए कहा था कि उन पर भ्रष्टाचार के कई मामले दर्ज हैं, इसके बावजूद उन (शरीफ) के पाकिस्तान आने जाने पर कोई रोक नहीं है।

बीमार हैं नवाज शरीफ की पत्नी कुलसुम:
लंदन के हार्ले क्लिनिक के बाहर शरीफ ने पत्रकारों से कहा, “मेरी पत्नी पिछले 21 दिन से वेंटिलेटर पर हैं। मंगलवार को ही उनका आॅपरेशन हुआ है। जैसे ही उनकी तबियत में सुधार होगा, मैं पाकिस्तान लौट जाउंगा। मैं तीन महीने नहीं बल्कि सिर्फ कुछ दिनों की मोहलत मांग रहा हूं।”

चुनाव से पहले जल्दी-जल्दी मामले निपटा रहीं कोर्ट:
पाकिस्तान में 25 जुलाई को आम चुनाव हैं। इसके चलते देश की सुप्रीम कोर्ट ने भ्रष्टाचार निरोधक अदालतों को निर्देश दिया था कि नवाज शरीफ और उनके परिवार से जुड़े लोगों पर चल रहे मामलों को जल्दी निपटाया जाए। नवाज पर पिछले साल ही पनामा गेट (पेपर लीक) मामले में मुकदमा दायर किया गया था। नवाज पर विदेश में संपत्ति रखने और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप हैं।