--Advertisement--

पावर सेक्टर में मालदीव-पाकिस्तान की डील, भारत को फिर लगा झटका

इससे पहले मालदीव ने भारत से तोहफे में मिले एक हेलिकॉप्टर को लौटा दिया था

Danik Bhaskar | Jul 07, 2018, 07:59 PM IST

लाहौर. पावर सेक्टर में इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने के लिए पाकिस्तान और मालदीव ने एमओयू साइन किया है। मालदीव का यह कदम भारत के लिए झटके की तरह माना जा रहा है। इससे पहले नई दिल्ली की ओर से तोहफे में दिए गए 2 हेलिकॉप्टर में से एक को मालदीव ने लौटा दिया था।

पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, मालदीव स्टेट इलेक्ट्रिक कंपनी (एसटीईएलसीओ) के 4 सदस्यीय शिष्टमंडल पाकिस्तान में 6 दिन का दौरा किया है। इस टीम का नेतृत्व एसटीईएलसीओ के चेयरमैन अहमद ऐमान ने किया। उन्होंने पाकिस्तान के जल और विद्युत विकास प्राधिकरण (डब्ल्यूएपीडीए) के काम करने के तरीकों को देखा। इस शिष्टमंडल ने लाहौर में डब्ल्यूएपीडीए के चेयरमैन मुजम्मिल हुसैन से भी मुलाकात की।
इस समझौते के तहत मालदीव की बिजली कंपनी के कंपनी डब्ल्यूएपीडीए की प्रशिक्षण गतिविधियों में हिस्सा लेंगे। अहमद ऐमान ने बताया कि एसटीईएलसीओ मालदीव की सबसे बड़ी बिजली उत्पादक कंपनी है, जो डब्ल्यूपीडीए से काम करने का तरीका सीखेगी।