पूर्व रॉ प्रमुख के साथ मिलकर किताब लिखने पर पूर्व आईएसआई चीफ को समन, आर्मी आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप / पूर्व रॉ प्रमुख के साथ मिलकर किताब लिखने पर पूर्व आईएसआई चीफ को समन, आर्मी आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप

DainikBhaskar.com

May 26, 2018, 01:56 PM IST

पूर्व आईएसआई प्रमुख असद दुर्रानी और राॅ चीफ ए एस दुलत ने द स्पाई क्रॉनिकल्स नाम की किताब लिखी है।

असद दुर्रानी 1990 से 1992 के बीच आईए असद दुर्रानी 1990 से 1992 के बीच आईए

- किताब में एबटाबाद में ओसामा के खिलाफ ऑपरेशन, कारगिल जंग, जाधव मामले का जिक्र

इस्लामाबाद. पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के पूर्व चीफ असद दुर्रानी ने भारतीय एजेंसी रॉ (रिसर्च एंड एनालिसिस विंग) के पूर्व प्रमुख एएस दुलत के साथ मिलकर एक किताब लिखी है। इसके चलते पाक आर्मी ने दुर्रानी को समन भेजा है। असद पर आरोप है कि उन्होंने पाक आर्मी की आचार संहिता का उल्लंघन किया है।


23 मई को रिलीज हुई है किताब
- दुर्रानी और दुलत ने मिलकर 'द स्पाई क्रॉनिकल्स: रॉ, आईएसआई एंड द इल्यूशन ऑफ पीस' किताब लिखी है। ये किताब 23 मई को रिलीज हो चुकी है।
- लेफ्टिनेंट जनरल (रिटा.) दुर्रानी अगस्त 1990 से मार्च 1992 तक आईएसआई के प्रमुख रहे थे।
- पाक आर्मी ने अपने बयान में कहा कि दुर्रानी को 20 मई को समन भेजा गया था। अपनी किताब में विचार रखने के लिए उनसे सफाई मांगी गई है। दुर्रानी ने जो किया, उसे मिलिट्री की आचार संहिता का उल्लंघन माना जा सकता है। ये सभी मौजूदा और रिटायर्ड आर्मी अफसरों पर लागू होता है।

नवाज शरीफ ने भी उठाए थे सवाल
- दुर्रानी की किताब के मसले पर नवाज शरीफ ने शुक्रवार को नेशनल सिक्युरिटी कमेटी (एनएससी) की बैठक बुलाने को कहा था। एनएससी में आर्मी और कई सिविलियन अफसर होते हैं।
- वहीं पाकिस्तान की सीनेट के पूर्व अध्यक्ष रजा रब्बानी ने भी किताब की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि अगर किसी राजनेता ने ऐसा काम किया होता तो उसे देशद्रोही करार कर दिया जाता।

किताब में इन मुद्दों पर चर्चा
- किताब में दोनों देशों के कई मुद्दों मसलन कारगिल ऑपरेशन, ओसामा बिन लादेन के खिलाफ किया गया एबटाबाद ऑपरेशन, कुलभूषण जाधव की गिरफ्तारी, हाफिज सईद और बुरहान वानी का जिक्र किया गया है।

- किताब में दावा किया गया है कि ओसामा बिन लादेन के खिलाफ एबटाबाद में चलाए गए ऑपरेशन में तब पाक प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी मौजूद थे। इसको लेकर अमेरिकी और पाक सरकार के बीच एक स्पेशल डील हुई थी।

- 'द स्पाई...' में ये भी कहा गया है कि पाक भारत के कुलभूषण जाधव केस को संभाल नहीं पाया। जाधव को पाक मिलिट्री कोर्ट ने मौत की सजा सुनाई थी। हालांकि अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ने जाधव की फांसी पर रोक लगा दी थी।

X
असद दुर्रानी 1990 से 1992 के बीच आईएअसद दुर्रानी 1990 से 1992 के बीच आईए
COMMENT