--Advertisement--

एक कमांडो को अपने देश लौटने में डर कैसा: मुशर्रफ से पाक सुप्रीम कोर्ट; पूर्व राष्ट्रपति की कल अदालत में पेशी

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2018, 04:54 PM IST

पाकिस्तान के चीफ जस्टिस साकिब निसार की अगुआई में तीन जजों की बेंच मुशर्रफ के अयोग्यता मामले की सुनवाई कर रही है।

मुशर्रफ फिलहाल दुबई में रह रहे हैं। (फाइल) मुशर्रफ फिलहाल दुबई में रह रहे हैं। (फाइल)

  • रद्द हो चुका है मुशर्रफ का राष्ट्रीय पहचान पत्र और पासपोर्ट
  • सुप्रीम कोर्ट की मुशर्रफ को चेतावनी- कल पेश नहीं हुए तो फैसला ले लिया जाएगा

इस्लामाबाद. पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ (74) को गुरुवार को अदालत में पेश होने का आदेश दिया है। कोर्ट ने ये आदेश उनके खिलाफ चुनाव लड़ने पर आजीवन प्रतिबंध मामले में दिया है। कोर्ट ने ये भी कहा कि इस बात पर आश्चर्य है कि एक कमांडो को अपने देश लौटने में डर लग रहा है।


मुशर्रफ नहीं आए तो फैसला हो जाएगा
- डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान के चीफ जस्टिस साकिब निसार की अगुआई में तीन जजों की बेंच मुशर्रफ के अयोग्यता मामले की सुनवाई कर रही है।
- कोर्ट ने मुशर्रफ को चेतावनी दी कि अगर वे गुुरुवार को दोपहर दो बजे तक कोर्ट में पेश नहीं हुए तो उनके मामले में फैसला ले लिया जाएगा।
- पिछले हफ्ते पाक सुप्रीम कोर्ट ने मुशर्रफ को इस शर्त पर नॉमिनेशन दाखिल करने की अनुमति दी थी कि वे बुधवार को दिन लाहौर की कोर्ट में पेश होंगे। पाकिस्तान में 25 जुलाई को आम चुनाव हैं।
- इससे पहले चितराल की एनए-1 सीट पर नॉमिनेशन दाखिल किया था। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद वे बुधवार को कोर्ट में पेश नहीं हुए।

मुशर्रफ लौटेंगे तो सुरक्षा मिलेगी
- निसार ने कहा, "सुप्रीम कोर्ट मुशर्रफ की शर्तें मानने के लिए बाध्य नहीं है। हम पहले ही कह चुके हैं कि अगर वो लौटते हैं तो उन्हें सुरक्षा दी जाएगी। ये सबकुछ लिखित में देने के िलए हम बाध्य नहीं हैं।'
- "अगर मुशर्रफ कमांडो रह चुके हैं तो उन्हें राजनेता की तरह लौटने की बजाय सामान्य तरीके से लौटने में दिलचस्पी दिखानी चाहिए। आखिर उन्हें सुरक्षा की जरूरत भी क्या है? आखिर उन्हें डर किससे है?'
- "मुशर्रफ को पाक आकर कानून, संविधान, देश और अदालत का सामना करना चाहिए।'

पासपोर्ट और राष्ट्रीय पहचान पत्र हो चुका है रद्द
- पाक मीडिया के मुताबिक, मुशर्रफ के राष्ट्रीय पहचान पत्र (एनआईसी) और पासपोर्ट को निलंबित करने का आदेश दिया गया था। पाकिस्तान सरकार के आंतरिक मंत्रालय ने ये निर्देश दिए थे।
- इसके चलते दुबई में रह रहे मुशर्रफ विदेश यात्रा नहीं कर सकेंगे और उनके बैंक खाते भी फ्रीज हो जाएंगे। बता दें कि 2007 में संविधान को पलटकर राष्ट्रपति शासन लगाने को लेकर उन पर देशद्रोह का मामला चल रहा है।
- मार्च 2013 में मुशर्रफ पाकिस्तान वापस आ गए थे, लेकिन उनके विदेश यात्रा करने पर बाद में अदालत ने प्रतिबंध लगा दिया था। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उनका नाम एग्जिट कंट्रोल लिस्ट (ईसीएल) से हटा दिया गया था। जिसके बाद वो इलाज के लिए 18 मार्च 2016 को दुबई चले गए थे।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि राजनेता के तौर पर लौटने के बजाय मुशर्रफ सामान्य रूप से देश लौटें। (फाइल) सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि राजनेता के तौर पर लौटने के बजाय मुशर्रफ सामान्य रूप से देश लौटें। (फाइल)
X
मुशर्रफ फिलहाल दुबई में रह रहे हैं। (फाइल)मुशर्रफ फिलहाल दुबई में रह रहे हैं। (फाइल)
सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि राजनेता के तौर पर लौटने के बजाय मुशर्रफ सामान्य रूप से देश लौटें। (फाइल)सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि राजनेता के तौर पर लौटने के बजाय मुशर्रफ सामान्य रूप से देश लौटें। (फाइल)
Astrology

Recommended

Click to listen..