--Advertisement--

पाकिस्तान: पांच साल में 30% गैर-मुस्लिम वोटर बढ़े; इनमें 17 लाख हिंदू, अल्पसंख्यकों में सबसे ज्यादा

पाकिस्तान में ज्यादातर हिंदू वोटर सिंध प्रांत में रहते हैं।

Danik Bhaskar | Jul 02, 2018, 10:00 PM IST

लाहौर. पाकिस्तान में 25 जुलाई को आम चुनाव से पहले चुनाव आयोग ने गैर-मुस्लिम वोटरों के आंकड़े जारी किए। इसके मुताबिक, 5 साल के भीतर पाकिस्तान में गैर-मुस्लिम वोटरों (अल्पसंख्यक समुदाय) की संख्या में 30% इजाफा हुआ। 2013 में इनकी संख्या 27 लाख थी, जो बढ़कर 36 लाख हो गई है। इनमें हिंदू वोटर (कुल17 लाख) पहले पायदान पर हैं। दूसरे नंबर पर 16 लाख ईसाई वोटर हैं।

पाकिस्तान में 2013 के बाद हिंदू वोटर 3 लाख बढ़ गए। उमेरकोट और थारपारकर जिले में 40% हिंदू वोटर हैं। ईसाई वोटर पंजाब और सिंध प्रांत में ज्यादा हैं। इसके अलावा सिख वोटरों की संख्या 8 हजार 852, पारसी 4 हजार 235 और बौद्ध वोटरों की संख्या एक हजार 884 है।

नवाज और इमरान की पार्टियों में कड़ी टक्कर : नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) का कार्यकाल 31 मई को पूरा हो गया था। एक जून को पूर्व प्रधान न्यायाधीश नासिर-उल-मुल्क को सातवें कार्यवाहक प्रधानमंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई। वे आम चुनाव प्रक्रिया पूरे होने तक पद पर बने रहेंगे। इस बार चुनाव में अहम मुकाबला पीएलएम (नवाज) और इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के बीच माना जा रहा है।