--Advertisement--

पाकिस्तान लौटेंगे नवाज शरीफ और मरियम, कोर्ट की ओर से सुनाई गई 10 साल की सजा के खिलाफ अपील करेंगे

इस्लामाबाद की जवाबदेही कोर्ट ने नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम को भ्रष्टाचार के मामले में दोषी ठहराया है।

Danik Bhaskar | Jul 08, 2018, 08:45 AM IST

लाहौर/लंदन. भ्रष्टाचार मामले में कोर्ट की ओर से दोषी ठहराए गए पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम शुक्रवार तक पाकिस्तान लौटेंगे। मरियम ने शनिवार को इसका ऐलान किया। रिपोर्टर्स के साथ बातचीत के दौरान मरियम ने कहा कि वे कोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील दायर करने के लिए 10 दिनों के अंदर अपने देश वापस लौटेंगी। इस्लामाबाद जवाबदेही कोर्ट ने हाल ही में पनामा पेपर्स खुलासे से जुड़े एक मामले में 68 साल के नवाज शरीफ को 10 साल और मरियम को 7 साल की सजा सुनाई थी।


मरियम की सीट पर खड़ा किया दूसरा प्रत्याशी: नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) ने मरियम के दोषी ठहराए जाने के बाद उनकी एनए-127 सीट पर मलिक इरफान शफी खोखर को मौका दिया है। अली परवेज पीएमएल-एन के लाहौर अध्यक्ष परवेज मलिक के बेटे हैं। अली को पहले टेलीविजन का चुनाव चिन्ह दिया गया, लेकिन अब वो भी पार्टी के टिकट और शेर चुनाव चिन्ह इस्तेमाल करेंगे।

किसे, किस गुनाह पर सजा सुनाई गई

नवाज शरीफ : अदालत ने नवाज को आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का दोषी करार देते हुए 10 साल की सजा सुनाई। उधर, एनएबी का सहयोग ना करने के लिए 1 साल की सजा सुनाई। सजा साथ-साथ चलेंगी, यानी नवाज को 10 साल जेल में गुजारने होंगे।

मरियम नवाज : उन्हें लंदन में आलीशान संपत्ति खरीदने के लिए पिता को उकसाने का दोषी माना गया। उन्हें 7 साल जेल और जांच में सहयोग ना करने के लिए 1 साल की सजा सुनाई गई। दोनों सजाएं साथ-साथ चलेंगी।

कैप्टन सफदर : जांच में सहयोग ना करने के लिए एक साल जेल की सजा सुनाई गई।