अगले दो महीने तक नॉर्वे में नहीं होगी रात, हर साल 76 दिनों तक यहां नहीं डूबता है सूरज

नॉर्वे एक ऐसा देश है जो आर्क्टिक सर्कल के अंदर आता है। मई से जुलाई के बीच यहां करीब 76 दिनों तक सूरज अस्त नहीं होता।

dainikbhaskar.com| Last Modified - May 11, 2018, 07:32 PM IST

1 of
For Two Months There Will Be No Sunset, No Night Here & Its Natural

नॉर्वे. क्या आपने कभी कल्पना की है कि अगर रात ही न हो तो क्या होगा? अगर नहीं तो आपको बता दें कि दुनिया में एक ऐसा देश है, जहां अब अगले कई दिनों तक रात ही नहीं होगी। नॉर्वे एक ऐसा देश है, जो आर्कटिक सर्किल के अंदर आता है। मई से जुलाई के बीच यहां करीब 76 दिनों तक सूरज अस्त नहीं होता। इसे मध्य रात्रि का देश भी कहा जाता है। आइए जानते हैं क्यों होता है ऐसा...

 

- पृथ्वी अपनी कक्षा में सूर्य का चक्कर लगाने में 365 दिन का समय लेती है। वहीं, अपने अक्ष यानी एक्सिस पर 24 घंटे में एक चक्कर पूरा करती है। इस चक्र की वजह से दिन या रात हमें देखने को मिलते हैं। अक्सर कहा जाता है कि सूरज उगता या ढलता है। पर असल में सूर्य स्थिर है और पृथ्वी के चक्र से हमें ऐसा होता दिखाई देता है। 

 

पृथ्वी का झुकाव है असली वजह

- पृथ्वी 66 डिग्री का कोण बनाते हुए घूमती है। इस वजह से पृथ्वी का एक्सिस सीधा न होकर 23 डिग्री तक झुका हुआ होता है। इस झुकाव से दिन व रात छोटे-बड़े होते रहते हैं। नॉर्वे में मिडनाइड सन वाली घटना भी इसी स्थिति की वजह से होती है। पृथ्वी के झुकाव की वजह से नॉर्वे की जमीन का पूरा हिस्सा सूरज की रोशनी में रहता है। इसका मतलब ये है कि यहां 24 घंटे दिन रहता है, रात होती ही नहीं. इसी वजह से नॉर्वे में ये विचित्र घटना होती है और आप आधी रात के वक्त भी यहां सूरज उगता देख सकते हैं।

For Two Months There Will Be No Sunset, No Night Here & Its Natural
देर रात कुछ ऐसा दिखता है सूरज।
For Two Months There Will Be No Sunset, No Night Here & Its Natural
नॉर्वे में इन दिनों ज्यादा से ज्यादा इतना अंधेरा होता है।
For Two Months There Will Be No Sunset, No Night Here & Its Natural
For Two Months There Will Be No Sunset, No Night Here & Its Natural
prev
next
Topics:
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now