एक देश, जहां नौकरी करने पर न्यूनतम सैलरी भी है 15 लाख रुपए

1 मई यानी लेबर डे पर हम उन 10 देशों के बारे में बता रहे हैं जहां न्यूनतम सैलरी भी 15 से 11 लाख रुपए तक सालाना है।

dainikbhaskar.com| Last Modified - May 02, 2018, 01:24 PM IST

1 of
Countries with the highest minimum wages in the world, International labour Day

इंटरनेशनल डेस्क. बात चाहे किसी भी देश की हो वर्कर्स की स्थिति हमेशा चिंता का विषय रही है। अमूमन जगहों पर इन्हें अपने काम के एवज में कम सैलरी ही मिलती है। लेकिन दुनिया में कुछ देश ऐसे भी हैं, जहां वर्कर्स की हालत बहुत अच्छी है और इन्हें अच्छी खासी सैलरी मिलती है। 1 मई यानी लेबर डे पर हम उन 10 देशों के बारे में बता रहे हैं जहां न्यूनतम सैलरी भी 15 से 11 लाख रुपए तक सालाना है। इसमें लग्जमबर्ग सबसे पहले नंबर पर है। 

 

लग्जमबर्ग
करीब 15 लाख 19 हजार रु.
न्यूनतम सैलरी (सालाना)
काम के घंटे (प्रति हफ्ते) - 40

 

पूरी दुनिया में लग्जमबर्ग ही ऐसा देश हैं, जहां न्यूनतम सैलरी सबसे ज्यादा है। यहां पर काम करने वाले लीगल वर्कर्स को एक घंटे के काम के बदले करीब 730 रुपए मिलते हैं। 

 

(ये सभी आंकड़े ऑर्गेनाइजेशन फॉर इकोनॉमिक्स को-ऑपरेशन एंड डेवलपमेंट की 2016 की रिपोर्ट के अनुसार हैं।)

 

आगे की स्लाइड्स में जानें बाकी देशों के बारे में...

Countries with the highest minimum wages in the world, International labour Day
Countries with the highest minimum wages in the world, International labour Day
Countries with the highest minimum wages in the world, International labour Day
Countries with the highest minimum wages in the world, International labour Day
Countries with the highest minimum wages in the world, International labour Day
Countries with the highest minimum wages in the world, International labour Day
Countries with the highest minimum wages in the world, International labour Day
Countries with the highest minimum wages in the world, International labour Day
Countries with the highest minimum wages in the world, International labour Day
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now