--Advertisement--

अजित डोभाल वॉशिंगटन पहुंचे, विदेश मंत्री माइक पोम्पियो समेत अन्य अफसरों से मुलाकात करेंगे

भारतीय दूतावास और व्हाइट हाउस ने डोभाल के दौरे पर कोई जवाब नहीं दिया

Danik Bhaskar | Sep 14, 2018, 04:19 PM IST
24 मार्च 2017 को अजित डोवाल ने अमेर 24 मार्च 2017 को अजित डोवाल ने अमेर

- विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने बताया- 26 जनवरी 2019 को भारत जाएंगे ट्रम्प
- प्रवक्ता ने कॉमकासा समझौते को दोनों देशों के संबंधों में मजबूत कड़ी कहा

वॉशिंगटन. करीब एक हफ्ते पहले नई दिल्ली में अमेरिकी मंत्रियों से 2+2 वार्ता के बाद भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल शुक्रवार को वॉशिंगटन पहुंचे। वे ट्रम्प प्रशासन के आला अधिकारियों से मुलाकात करने गए हैं। डोभाल अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो से विदेश मंत्रालय में मिलेंगे। इसके बाद वे अपने समकक्ष जॉन बोल्टन से मुलाकात करेंगे। वहीं, वॉशिंगटन स्थित भारतीय दूतावास और व्हाइट हाउस ने डोभाल के दौरे पर कोई जवाब नहीं दिया।

विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीथर नॉउर्ट ने दैनिक प्रेस वार्ता में बताया कि भारत अमेरिका का काफी करीबी दोस्त है। प्रवक्ता ने दिल्ली में हुई 2+2 वार्ता का हवाला देते हुए कहा कि दोनों देश लगातार अपने संबंधों को मजबूत कर रहे हैं। नॉउर्ट ने बताया कि इस वक्त अमेरिका में भारतीय मूल के करीब 30 लाख लोग रह रहे हैं। डोभाल का दौरा इससे संबंधित भी हो सकता है। कॉमकासा समझौते पर प्रवक्ता ने बताया कि इस प्रस्ताव पर काफी समय से बातचीत चल रही थी।

पोम्पियो के पाकिस्तान दौरे पर दिया जवाब : प्रवक्ता ने कहा कि हमें खुशी है कि भारत सरकार ने इस प्रस्ताव पर हस्ताक्षर किए। इससे दोनों देशों के बीच सिर्फ रोजगार नहीं, बल्कि सैन्य संबंध भी बेहतर होंगे। दोनों देश सैन्य मोर्चों पर भी साथ काम करने को लेकर तैयार हुए हैं। नॉउर्ट ने बताया कि ट्रम्प ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भारत आने का न्योता मंजूर कर लिया है। ट्रम्प 26 जनवरी 2019 को भारत की गणतंत्र दिवस परेड में बतौर मुख्य अतिथि हिस्सा लेंगे। पोम्पियो के पाकिस्तान दौरे को लेकर नॉउर्ट ने बताया कि विदेशी मंत्री ने पाकिस्तान की नई सरकार के साथ कई मुद्दों पर बात की है। उम्मीद है कि इमरान खान आतंकवाद समेत अन्य मुद्दों से निपटने के लिए काम करेंगे।