किम-ट्रम्प मुलाकात कल: सिंगापुर में रनिंग बॉडीगार्ड्स और पोर्टेबल टॉयलेट लेकर पहुंचा है उत्तर कोरियाई तानाशाह

किम सुरक्षा वजहों से उ. कोरिया के विमान में नहीं बैठे। वह चकमा देकर चीनी प्लेन से सिंगापुर पहुंचे।

DainikBhaskar.com| Last Modified - Jun 11, 2018, 09:38 PM IST

1 of
report says kim invites trump to second summit in nkorea in july news and updates
किम चकमा देने के लिए उत्तर कोरिया की बजाय चीन के विमान से सिंगापुर पहुुंचे थे।

 

  • किम ने जुलाई में ट्रम्प को दूसरी मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया आने का न्योता दिया है
  • ट्रम्प के साथ पहली मुलाकात में किम का एजेंडा पूरी तरह से शांति स्थापित करने का रहेगा 

 


सिओल.    उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बीच 12 जून को सिंगापुर में ऐतिहासिक मुलाकात होनी है। दोनों नेता रविवार को सिंगापुर पहुंच गए। इस बीच खबर है कि किम ने ट्रम्प को जुलाई में दूसरी मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया आने का न्योता दिया है। उधर, इस बैठक के दौरान किम की भारी सुरक्षा के इंतजाम रखे गए हैं। वे खुद भी इसे लेकर काफी गंभीर रहते हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि किम सुरक्षा की वजह से खुद के प्लेन में नहीं बैठे और 3 विमानों के साथ 2 दिन पहले सिंगापुर आए। एयरपोर्ट से होटल जाते वक्त उसकी कार के साथ रनिंग बॉडीगार्ड्स भी देखे गए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वे अपने साथ खुद का टॉयलेट भी लेकर आए हैं। दोनों नेता फिलहाल एक किमी के फासले पर ठहरे हैं। 

 

मुलाकात से पहले दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति से 40 मिनट तक ट्रम्प ने की फोन पर बात

- शिन्हुआ न्यूज एजेंसी के मुताबिक, ट्रम्प और किम की मुलाकात से पहले दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन ने अमेरिकी राष्ट्रपति से फोन पर करीब 40 मिनट तक बातचीत की।

- मून के प्रवक्ता किम युई केओम ने कहा कि मून ने ट्रम्प से कहा कि लोग इस मुलाकात के सफल होने की प्रार्थना कर रहे हैं। मून और ट्रम्प दोनों ने इस बात को माना कि बातचीत सफल रही तो दक्षिण कोरिया और उत्तर कोरिया दोनों को काफी फायदा होगा। बता दें कि इस समिट के बाद अमेरिकी विदेश मंत्री दक्षिण कोरिया और चीन जाएंगे। पोम्पियो यहां मुलाकात के नतीजों के बारे में बताएंगे।

 

दक्षिण कोरियाई अखबार का दावा
- दक्षिण कोरियाई अखबार जूनगांग इल्बो का दावा है कि किम ने ट्रम्प को जुलाई में प्योंगयांग आने का न्योता दिया है।
- अखबार का कहना है कि अगर 12 जून को होने वाली बैठक में परमाणु निरस्त्रीकरण पर सहमति बनती है तो जुलाई में दूसरी मुलाकात हो सकती है।
- रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर दोनों नेताओं की दूसरी समिट भी हो जाती है तो तीसरी मुलाकात वॉशिंगटन में होगी।

 

हमेशा के लिए शांति चाहता है उत्तर कोरिया
- वहीं, बीबीसी का कहना है कि सिंगापुर में मंगलवार को होने वाली मुलाकात में किम जोंग उन का जोर पूरी तरह से शांति स्थापित करने पर होगा।
- किम के मुताबिक, "पूरी दुनिया की निगाह उस वक्त ट्रम्प पर टिकी थी, जब वे कह रहे थे कि वे मुलाकात को लेकर अच्छा महसूस कर रहे हैं।'
- ट्रम्प-किम की मुलाकात में किन बातों पर चर्चा हो सकती है, इस पर उत्तर कोरिया के सरकारी अखबार ने संभावनाएं जताईं हैं। उसमें लिखा गया है कि अमेरिका चाहता है कि उत्तर कोरिया अपने परमाणु हथियार खत्म कर दे। लेकिन ये साफ नहीं है कि बदले में उत्तर कोरिया को क्या मिलेगा।

 

किम जोंग सुरक्षा की वजह से खुद के प्लेन में नहीं बैठे, 3 विमानों के साथ 2 दिन पहले सिंगापुर आए 
- किम सुरक्षा वजहों से उ. कोरिया के विमान में नहीं बैठे। वह चकमा देकर चीनी प्लेन से सिंगापुर पहुंचे। 
- उनके विमान के लैंड होने से पहले उ. कोरिया के 2 विमान चांगी एयरपोर्ट पर उतर चुके थे। इनमें किम का प्राइवेट प्लेन भी था, जिसे किम के दादा ने रूस से लिया था। पर इससे किम बाहर नहीं निकले तो एयरपोर्ट कर्मी हैरान रह गए। 
- बाद में वह एयर चाइना के बोइंग से निकले। एयर वेबसाइट फ्लाइटरेडार 24 के मुताबिक किम प्योंगयांग से बीजिंग गए, फिर सिंगापुर आए। 

- ऐसा कहा जा रहा है कि किम अपने साथ टॉयलेट भी लेकर आए हैं। किम जोंग सुरक्षा कारणों की वजह से अपना टॉयलेट साथ रखते हैं। किम को इस बात की चिंता लगी रहती है कि दूसरे देश की एजेंसियां उनके मल का नमूना चुरा सकती हैं। उसे डर रहता है कि मल की जांच से उनकी स्वास्थ्य संबंधी जानकारी का पता चल सकता है। बता दें कि वह जब दक्षिण कोरिया गए थे, तब भी वह अपने साथ टॉयलेट लेकर गए थे। 

 

समिट पर 102 करोड़ रुपए का आ रहा खर्च 
- ट्रम्प और किम की इस समिट पर करीब 102 करोड़ रुपए का खर्च आ रहा है। इसे सिंगापुर उठा रहा है। इसमें आधा सुरक्षा खर्च है। 
- सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सिएन लूंग ने कहा कि दुनिया की पहल के लिहाज ये खर्च वाजिब है, इसमें हमारे हित भी शामिल हैं। 
- बता दें कि 7 साल में किम की ये सबसे लंबी विदेश यात्रा है। प्योंगयांग से सिंगापुर की दूरी 4743 किमी है। इससे पहले वे दो बार ट्रेन से चीन गए थे।

 

अलग-अलग होटलों में रुके हैं किम-ट्रम्प
- सिंगापुर में किम जोंग प्रतिनिधिमंडल समेत उन सेंट रेगिस होटल में रुके हुए हैं। इस होटल से करीब एक किमी दूर शांगरी ला में ट्रम्प ठहरे हैं।
- मंगलवार को आईलैंड रिजॉर्ट सेंटोसा में दोनों नेताओं की मुलाकात होगी।

report says kim invites trump to second summit in nkorea in july news and updates
किम जोंग उन और डोनाल्ड ट्रम्प की 12 जून को होने वाली ऐतिहासिक सिंगापुर वार्ता को कवर करने दुनियाभर से 2500 जर्नलिस्ट पहुंचे हैं।
prev
next
Topics:
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now