अमेरिका

--Advertisement--

भारत-चीन के लिए ट्रम्प ने कहा- इन्हें सब्सिडी देना पागलपन, अमेरिका खुद तेजी से बढ़ना चाहता है

ट्रम्प ने कहा- विश्व व्यापार संगठन ने चीन को आर्थिक शक्ति बनने का मौका दिया

Danik Bhaskar

Sep 08, 2018, 05:53 PM IST

- ट्रम्प ने कहा कि अमेरिका को भी विकासशील देशों की लिस्ट में रखा जाए

- डोनाल्ड ट्रम्प ने पार्टी मीटिंग के दौरान विश्व व्यापार संगठन की भी आलोचना की

वॉशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि वह भारत और चीन जैसी उभरती अर्थव्यवस्थाओं को दी जाने वाली सब्सिडी को रोकना चाहते हैं। उत्तरी डकोटा प्रांत के फार्गो शहर में पार्टी मीटिंग के दौरान उन्होंने कहा- अमेरिका भी एक विकासशील देश है। हम चाहते हैं कि अमेरिका किसी और देश की तुलना में तेजी से बढ़े। भारत-चीन को सब्सिडी दिए जाने को उन्होंने पागलपन करार दिया।

उन्होंने विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) की आलोचना की। कहा- इस बहुपक्षीय व्यापार संगठन ने चीन को सदस्य बना कर उसे ‘दुनिया की एक बड़ी आर्थिक ताकत’ बनने का मौका दिया।

तेजी से आगे बढ़ रहे हैं भारत-चीन : ट्रम्प ने कहा, ‘हम भारत और चीन जैसे देशों को इस लिए सब्सिडी दे रहे हैं, क्योंकि वह विकासशील समझे जाते हैं और अभी पर्याप्त रूप से विकसित नहीं हैं। यह सिर्फ पागलपन है। भारत, चीन या फिर दूसरे लाभार्थी, सब वास्तव में तेजी से बढ़ रहे हैं। ये देश अपने को विकासशील कहते हैं और इस श्रेणी में होने के नाते वे सब्सिडी पाते हैं। इसके लिए हमें उन्हें धन देना पड़ता है। लेकिन, अब और नहीं। हम इसे बंद करने जा रहे हैं, बल्कि हम इसे बंद कर चुके हैं। आखिर हम भी तो विकासशील हैं। मैं चाहता हूं कि अमेरिका को भी उसी वर्ग में रखा जाए। हम बाकियों से अधिक तेजी के साथ बढ़ना चाहते हैं।”

Click to listen..