महात्मा गांधी को गाली देने वाले को जमानत नहीं:रायपुर की कोर्ट ने कहा- 25 जनवरी तक जेल में ही रहेगा कालीचरण

रायपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महाराष्ट्र के कथित संत कालीचरण को 25 जनवरी तक रायपुर जेल में ही रहना होगा। 13 जनवरी को उसकी न्यायिक रिमांड खत्म होने वाली थी। गुरुवार को रायपुर की अदालत में जज ने उसे 25 जनवरी तक रायपुर जेल में ही रहने का आदेश सुना दिया। कालीचरण का पक्ष रखने के लिए कोर्ट में मौजूद अधिवक्ता सौरभ मिश्रा ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि 25 जनवरी तक कालीचरण न्यायिक रिमांड में ही रहेगा।

कोर्ट में लगभग 1 से डेढ़ घंटे तक चली जिरह के बाद यह तय हुआ कि कालीचरण की न्यायिक रिमांड को बढ़ाया जाएगा। पुलिस की तरफ से कहा गया कि इस मामले में छानबीन अभी जारी है और चार्जशीट जमा करने में कुछ वक्त लगेगा। इन स्थितियों को देखते हुए अदालत ने 25 जनवरी तक कालीचरण की रिमांड को बढ़ा दिया। 12 जनवरी की रात महाराष्ट्र की वर्धा पुलिस कालीचरण को लेकर रायपुर पहुंची थी। कालीचरण फिलहाल रायपुर जेल में ही है। उसके खिलाफ पुणे, वर्धा, अकोला में भी केस दर्ज किए गए हैं।

इस वजह से जेल में है कालीचरण

पिछले साल 26 दिसंबर को रायपुर के रावाभाटा इलाके में धर्म संसद का आयोजन किया गया था। यहां पर कालीचरण ने महात्मा गांधी के लिए अपशब्द कहे । साथ ही कहा था कि महात्मा गांधी की वजह से देश का सत्यानाश हुआ। धन्यवाद है नाथूराम गोडसे को जो उन्हें मार दिया। इस मामले में रायपुर के टिकरापारा थाने में कालीचरण के खिलाफ राजद्रोह का भी केस दर्ज है। पुलिस ने उसे पिछले महीने मध्य प्रदेश के छतरपुर से गिरफ्तार किया गया किया था। तब से रायपुर की जेल में ही कालीचरण रह रहा है।

ये खबरें भी पढ़ें..

खबरें और भी हैं...