ममता बनर्जी का
 कार्टून शेयर करने
के मामले में बरी
 

Trending 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी
 का कार्टून शेयर करने के मामले में गिरफ्तार
 किए गए जाधवपुर यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर
 अंबिकेश महापात्रा को बरी कर दिया गया है। 

मामला 12 अप्रैल 2012 का है। मुकुल
रॉय के रेल मंत्री बनने के बाद अंबिकेश ने
सत्यजीत रे के सोनार केला पर आधारित
CM ममता बनर्जी का कार्टून शेयर किया था। 

इस मामले में उनके खिलाफ ईस्ट जाधवपुर
पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई थी। गिरफ्तारी के कुछ समय बाद ही उन्हें जमानत
 पर छोड़ दिया गया था। 

शुक्रवार को एडिशनल सेशन जज कोर्ट ने
कहा कि प्रोफेसर पर लगे आपराधिक मामले
को रद्द किया जाए। अंबिकेश ने फैसले के
बाद कहा कि गिरफ्तारी के समय उन्हें पीटा
 गया था, धमकी मिली थी।

अंबिकेश महापात्रा के साथ रिटायर्ड इंजीनियर
और एक हाउसिंग सोसाइटी के सेक्रेटरी
सुब्रत सेनगुप्ता को भी गिरफ्तार किया गया था।
सेनगुप्ता की 2019 में किडनी की बीमारी से
मौत हो गई थी। 

महापात्रा और सेनगुप्ता के ह्यूमन राइट्स कमीशन
में जाने पर दोनों के पक्ष में फैसला सुनाया। इन्हें
50 हजार मुआवजा देने का आदेश दिया गया। कोलकाता हाई कोर्ट ने भी इस फैसले को
 बरकरार रखा। 

घटना के बाद आक्रांत आमरा नाम से एक
 ह्यूमन संस्था भी बनाई गई जिसके कन्वेनर
महापात्रा थे। अंबिकेश ने विधानसभा चुनाव
 भी लड़ा जिसमें वो हार गए। 

लाइफ & स्टाइल की और
 स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here