इसके खतरे भी जान लें

प्यूबिक हेयर हटाती हैं?

प्यूबिक हेयर हटाने के बाद महिलाओं में
सेक्सुअली ट्रांसमिटेड इंफेक्शन का खतरा
बढ़ जाता है। उस सेंसिटिव हिस्से का पीएच
बैलेंस कम हो सकता है।

कोकिलाबेन धीरुभाई अंबानी हॉस्पिटल की
कंसल्टेंट डर्मेटोलॉजिस्ट डॉ. तृप्ति डी. अग्रवाल,
के अनुसार, प्यूबिक हेयर हटाने से हेल्थ
प्रॉब्लम्स के अलावा प्राइवेट पार्ट का
टेम्परेचर भी कम हो जाता है।

बाल हटाने की वजह से वल्वा के आसपास
कीटाणु तेजी से फैलते हैं, जिससे यूरिन पाइप
में सूजन, खुजली और रैशेज हो सकते हैं।

शेव के दौरान कट लगने पर इंफेक्शन और
गलत तरीके से वैक्सिंग से बलतोड़ हो सकता है।
क्रीम वल्वा के अंदर चली जाए तो
खुजली-जलन भी हो सकती है।

वैक्सिंग के लिए गर्म पानी में स्टरलाइज
किया हुआ स्पेटुला और शेविंग के लिए साबुन
की जगह शेविंग फोम का इस्तेमाल करें। बाल
हटाने के तुरंत बाद टाइट कपड़े न पहनें।

लाइफ & स्टाइल की और
स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here